Homeदुनियाअमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के घर 13 घंटे तक FBI की तलाशी,...

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के घर 13 घंटे तक FBI की तलाशी, कई दस्तावेज बरामद

Published on

न्यूज डेस्क
अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के विलमिंग्टन स्थित घर से संघीय जांच ब्यूरो (एफबीआई) ने 13 घंटे चली तलाशी में कुछ और गोपनीय दस्तावेज बरामद किये हैं। इनमें कुछ हाथ से लिखे नोट भी शामिल हैं। बताया जा रहा है कि शुक्रवार को यह तलाशी अभियान न्याय विभाग की देखरेख में चलाया गया।

बिना किसी वारंट के अमेरिकी राष्ट्रपति के घर की तलाशी लिया जाना एक अनोखी घटना है। बाइडन के वकील बॉब बाउर के अनुसार राष्ट्रपति ने खुद तलाशी की अनुमति दी है, ताकि गोपनीय दस्तावेजों से जुड़े इस मामले का जल्द खुलासा हो सके। बाउर ने शनिवार को बताया कि एफबीआई ने इस बार तलाशी में जिन दस्तावेजों को कब्जे में लिया है वे बाइडन के सीनेटर एवं उपराष्ट्रपति के तौर पर उनके कार्यकाल से संबंधित हैं, जबकि नोट उनके उपराष्ट्रपति कार्यकाल के हैं। अभी न्याय विभाग ने रिकॉर्ड की समीक्षा नहीं की है, इसलिए यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि इन दस्तावेजों की गोपनीयता का स्तर क्या है। गौरतलब है कि नियमों के मुताबिक संघीय पदाधिकारियों को सभी तरह के सरकारी दस्तावेज कार्याकाल खत्म होने के साथ ही अभिलेखागार को लौटाने होते हैं पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के यहां से उनके राष्ट्रपति कार्यकाल से जुड़े गोपनीय दस्तावेज जब्त किये गये थे।

अब तक डेढ़ दर्जन गोपनीय दस्तावेज बरामद

राष्ट्रपति जो बाइडन के आवास और निजी कार्यालयों में मिले गोपनीय दस्तावेजों की कुल संख्या अब डेढ़ दर्जन से ज्यादा हो गई है। छह गोपनीय दस्तावेज बाइडन सेंटर से मिले हैं। इन दस्तावेजों से बाइडन का राष्ट्रपति पद के लिए दोबारा दावेदारी का झटका लग सकता है। यही नहीं बाइडन की डोनाल्ड ट्रंप से बेहतर दिखने की कोशिशों भी इस इस घटना से तगड़ा झटका लग सकता है,क्योंकि ट्रंप के खिलाफ भी ऐसी ही एक घटना की जांच न्याय विभाग पहले से ही कर रहा है।

ट्रंप के घर वारंट जारी कर ली गयी तलाशी

बाइडन से पहले डोनाल्ड ट्रंप के घर से भी कुछ गोपनीय दस्तावेज जब्त किए गये थे। ट्रंप 2021 की शुरुआत में व्हाइट हाउस छोड़ने के बाद गोपनीय के तौर पर चिन्हित सैकड़ों रिकॉर्ड अपने साथ ले गए थे और उन्होंने सरकार के अनुरोध के बावजूद महीनों तक उन्हें नहीं लौटाया। इसके बाद ट्रंप के यहां एजेंसी की तलाशी वारंट के तहत कार्रवाई की गयी।

Latest articles

कर्नाटक सरकार ने सारे मुसलमानों को आरक्षण देने के लिए ओबीसी लिस्ट में किया शामिल,

लोकसभा चुनाव जैसे - जैसे अगले चरण के चुनाव की तरफ बढ़ रहा है...

ईवीएम वीवीपीएटी वोट वेरिफिकेशन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर फैसला रखा सुरक्षित

कुछ प्रश्नों पर चुनाव आयोग के अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने के बाद, सुप्रीम कोर्ट...

हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी और ईडी की कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष अदालत में दाखिल की एसएलपी

न्यूज़ डेस्क अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने सुप्रीम...

पीएम मोदी का वज्र प्रहार,कांग्रेस का पंजा आपसे आरक्षण और मेहनत की कमाई छीन लेगा

देश में प्रथम चरण के मतदान के बाद इंडिया गंठबंधन के नेताओं खासकर कांग्रेस...

More like this

कर्नाटक सरकार ने सारे मुसलमानों को आरक्षण देने के लिए ओबीसी लिस्ट में किया शामिल,

लोकसभा चुनाव जैसे - जैसे अगले चरण के चुनाव की तरफ बढ़ रहा है...

ईवीएम वीवीपीएटी वोट वेरिफिकेशन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर फैसला रखा सुरक्षित

कुछ प्रश्नों पर चुनाव आयोग के अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने के बाद, सुप्रीम कोर्ट...

हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी और ईडी की कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष अदालत में दाखिल की एसएलपी

न्यूज़ डेस्क अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने सुप्रीम...