Homeदेशउड़ान से 3 मिनट पहले एक बार फिर टल गई सुनीता विलियम...

उड़ान से 3 मिनट पहले एक बार फिर टल गई सुनीता विलियम की अंतरिक्ष यात्रा

Published on

अंतरिक्ष यात्रा को लेकर पूरी दुनियां में अपनी एक अलग पहचान बना चुकी सुनीता विलियम की तीसरी अंतरिक्ष यात्रा शनिवार को अंतिम चरण में टालनी पड़ी।इसके पीछे तकनीकी खराबी होने की बात सामने आ रही है। इसे मिलाकर यह दूसरी घटना है, जब एन वक्त पर सुनीता विलियम की अंतरिक्ष यात्रा को रोकने पड़ी हो।7 मई को भी सुनीता विलियम्स की अंतरिक्ष यात्रा उस समय रोकनी पड़ी थी,जबकि उनका अंतरिक्ष यान उड़ान भरने ही वाला था।7 मई को भी सुनीता विलियम्स अपने सहयात्री वैरी बुच विल्मोर के साथ वह नासा के बोइंग स्टार लाइनर कैप्सूल में उड़ान भरने वाली थी कि यात्रा शुरू होने से 3 मिनट और 50 सेकंड पहले उल्टी गिनती रोक दी गई। कंप्यूटर ने यह गिनती क्यों रोक दी, यह अब तक क्लियर नहीं हो पाया है।

जल्दी ही शुरू होगी सुनीता विलियम्स की अगली यात्रा

सुनीता विलियम्स की अगली यात्रा को लेकर नासा का कहना है कि इनकी अगली अंतरिक्ष यात्रा 24 घंटे के अंदर शुरू की जाएगी,हालांकि अभी तक इसका कोई समय नहीं बताया गया है।प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राउंड लॉन्च सीक्वेंसर की तकनीकी खराबी का पता चला था।यह एक ऐसा कंप्यूटर होता है जो कि रॉकेट के बारे में जानकारी रखता है। इसके बाद दोनों यात्री कैप्सूल से बाहर आ गए और क्रू क्वार्टर में चले गए थे।

7 मई को स्पेसक्राफ्ट में खराबी की वजह से रुकी थी उड़ान

इससे पहले 7 मई को भी सुनीता विलियम्स की अंतरिक्ष उड़ान में इसी तरह की समस्या आई थी। तब नासा ने कहा था कि एटलस भी रॉकेट में ऑक्सीजन रिलीज वाल्व में दिक्कत की वजह से उड़ान टाल दी गई थी।इसके बाद से विशेषज्ञों की टीम इस गड़बड़ी को सही करने में लगी थी।स्पेसक्राफ्ट में हीलियम लीक की भी समस्या पाई गई थी।गौरतलब है कि सुनीता विलियम्स की यह तीसरी अंतरिक्ष यात्रा होने वाली है। वह अब तक 322 दिन स्पेस में बिता चुकी है। यह किसी महिला का अंतरिक्ष में सबसे ज्यादा दिन बिताने का रिकॉर्ड है।

पहली बार 2006 में भरी थी अंतरिक्ष की उड़ान

सुनीता विलियम्स ने सबसे पहले 9 दिसंबर 2006 ईस्वी में अंतरिक्ष की उड़ान भरी थी। इसके बाद उन्होंने 22 जून 2007 में अंतरिक्ष यात्रा की।इस यात्रा के दौरान वह चार बार स्पेस वॉक पर निकली। सुनीता विलियम्स की उम्र 59 साल है।स्टार लाइनर कैप्सूल को डिजाइन करने में भी उन्होंने मदद की है। उन्होंने कहा था कि अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन में जाना, उनके लिए इस तरह है जैसे कि वह अपने घर लौट रही हो। सुनीता विलियम्स की यात्रा भारतीय मानक समय के हिसाब से रात के 10:00 बजे जॉन ऑफ कैनेडी स्पेस सेंटर से शुरू होने वाली थी।

Latest articles

बीजेपी से हितों की उम्मीद – दिवास्वप्न!

ऐसा देखा गया है कि भाजपा ने लगातार अन्य राजनीतिक दलों को विभाजित करने,...

आईएनएस सुनयना का एमसीजी डोर्नियर और मॉरीशस पुलिस बल ने किया जोरदार स्वागत !

न्यूज़ डेस्क भारत का आईएनएस सुनयना इन दिनों मॉरीशस पहुंचा हुआ है। समुद्र में लम्बी...

केन्द्रीय बजट 2024-25 के लिए सुझाव लेने हेतु वित्त मंत्रियों के साथ सीतारमण ने की बैठक 

न्यूज़ डेस्क केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज नई दिल्ली में...

जोधपुर में साम्प्रदायिक हिंसा ,हिरासत में लिए गए 40 लोग 

न्यूज़ डेस्क राजस्थान का जोधपुर अचानक हिंसाग्रस्त हो गया। दो समुदायों के बीच हिंसक झड़पे...

More like this

बीजेपी से हितों की उम्मीद – दिवास्वप्न!

ऐसा देखा गया है कि भाजपा ने लगातार अन्य राजनीतिक दलों को विभाजित करने,...

आईएनएस सुनयना का एमसीजी डोर्नियर और मॉरीशस पुलिस बल ने किया जोरदार स्वागत !

न्यूज़ डेस्क भारत का आईएनएस सुनयना इन दिनों मॉरीशस पहुंचा हुआ है। समुद्र में लम्बी...

केन्द्रीय बजट 2024-25 के लिए सुझाव लेने हेतु वित्त मंत्रियों के साथ सीतारमण ने की बैठक 

न्यूज़ डेस्क केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज नई दिल्ली में...