Homeदेशराजस्थान में भिड़े सचिन पायलट और अशोक गहलोत समर्थक, जमकर चले लात...

राजस्थान में भिड़े सचिन पायलट और अशोक गहलोत समर्थक, जमकर चले लात घुसे

Published on

बीरेंद्र कुमार झा

कर्नाटक चुनाव जीतने के बाद वहां तो किसी तरह से कांग्रेस ने सिद्धारमैया और डीके शिवकुमार में किसी तरह से समझौता करा कर अपनी बेज्जती बचा ली, लेकिन राजस्थान जहां की इस साल के अंत तक विधानसभा चुनाव होने वाले हैं,वहां कांग्रेस की मुश्किलें लगातार बढ़ती चली जा रही है।वहां लंबे समय से प्रदेश के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत में ठनी हुई है।एक बार तो कांग्रेस की सरकार वहां जाते – जाते बची ।तब सचिन पायलट राहुल और प्रियंका की बात मानकर थोड़ा झुक गए थे,लेकिन अब कुछ महीने से वहां कोई झुकने के लिए तैयार नहीं है।अब तो वहां दोनो के समर्थकों के जगह – जगह आपस में भिड़ने की खबर आने लगी है।

ऐसी एक खबर अजमेर से सामने आ रही है जिसके अनुसार प्रभारी अमृता धवन को पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करनी थी लेकिन बैठक शुरू होने से पहले ही बैठने के स्थान को लेकर गहलोत और पायलट समर्थकों के बीच बाता- बाती शुरू हुई जो थोड़ी ही देर में हाथापाई और जूते – चप्पल में तब्दील हो गई।

एक दूसरे के खिलाफ नारेबाजी

कांग्रेस के अजमेर नगर अध्यक्ष विजय जैन के अनुसार यह एक पदाधिकारियों की बैठक थी, जिसमें अजमेर सरस डेयरी के अध्यक्ष रामचंद्र चौधरी और राजस्थान पर्यटन निगम ( RTDC) के अध्यक्ष धर्मेंद्र राठौर के समर्थक पहुंचे थे।उन्होंने एक-दूसरे के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी ।इसके परिणाम स्वरूप उनके समर्थकों के बीच हाथापाई हो गई ।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं के दो गुटों में मारपीट

क्रिश्चियनगंज के थानाधिकारी कर्ण सिंह के अनुसार सभाकक्ष में बैठने की व्यवस्था को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के दो गुटों में मारपीट हो गई।दोनों गुटों ने पहले एक-दूसरे के खिलाफ नारेबाजी की और बाद में एक दूसरे की पिटाई कर दी। कर्ण सिंह ने बताया कि मौके पर मौजूद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को शांत कराया। उन्होंने बताया कि किसी को कोई बड़ी चोट नहीं पहुंची है।

सचिन पायलट भ्रष्टाचार के मुद्दे को लेकर हैं मुखर

गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव के पहले कांग्रेस नेता सचिन पायलट भ्रष्टाचार के मुद्दे को लेकर मुखर हैं। वह अपनी सरकार के खिलाफ अनशन कर चुके हैं।उनकी पदयात्रा में काफी भीड़ देखने को मिली थी।यदि कांग्रेस ने गहलोत और पायलट के बीच के विवाद को समय रहते हल नहीं किया तो कांग्रेस के लिए आगामी विधानसभा चुनाव जो इस साल के अंत तक में होना है,उसमें विधानसभा की राह आसान नहीं होगी।

 

Latest articles

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...

पंजाब के मतदाताओं के नाम आखिर मनमोहन सिंह ने क्यों लिखा पत्र ?

न्यूज़ डेस्क पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने पंजाब के मतदाताओं के नाम एक...

More like this

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...