Homeदेशकर्नाटक के DGP प्रवीण सूद बने CBI के निदेशक, 25 मई को...

कर्नाटक के DGP प्रवीण सूद बने CBI के निदेशक, 25 मई को खत्म होगा मौजूदा डायरेक्टर का कार्यकाल

Published on

न्यूज डेस्क
कर्नाटक कैडर के आईपीएस अधिकारी प्रवीण सूद को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) का निदेशक नियुक्त किया गया है। वह 2 साल के लिए इस पद पर सेवाएं देंगे। IPS अधिकारी प्रवीण सूद इस समय कर्नाटक के DGP के रूप में कार्यरत हैं।

 चयन समिति में शामिल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भारत के मुख्य न्यायाधीश डी.वाई. चंद्रचूड़ और लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी ने सर्वसम्मति से सूद की नियुक्ति पर सहमति व्यक्त की। यह फैसला शनिवार शाम को हुई बैठक में लिया गया। वर्तमान निदेशक सुबोध कुमार जायसवाल 25 मई को सेवानिवृत्त होने वाले हैं।

इसके पहले प्रवीण सूद ने पुलिस बल में विभिन्न प्रमुख पदों पर कार्य किया है। सीबीआई निदेशक के रूप में उनकी नियुक्ति उनके समर्पण, व्यावसायिकता और कानून और व्यवस्था बनाए रखने के ट्रैक रिकॉर्ड का प्रमाण है। आईपीएस में अपने व्यापक अनुभव और भारतीय कानूनी प्रणाली की पेचीदगियों की अपनी गहरी समझ के साथ, सूद देश की प्रमुख जांच एजेंसी का नेतृत्व करने के लिए तैयार हैं।

सीबीआई भ्रष्टाचार, आर्थिक अपराधों और अन्य गंभीर अपराधों से संबंधित हाई-प्रोफाइल मामलों से निपटने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इसके नए निदेशक के रूप में, प्रवीण सूद एजेंसी के संचालन की देखरेख और मार्गदर्शन करने, निष्पक्ष और निष्पक्ष जांच सुनिश्चित करने और व्यावसायिकता और अखंडता के उच्चतम मानकों को बनाए रखने के लिए जिम्मेदार होंगे।

सीबीआई के प्रमुख के रूप में प्रवीण सूद की नियुक्ति से एजेंसी की क्षमताओं को मजबूत करने और न्याय देने की क्षमता में जनता के विश्वास को मजबूत करने की उम्मीद है। उनकी नियुक्ति ऐसे समय में हुई है जब सीबीआई कई जटिल चुनौतियों का सामना कर रही है और कानून के शासन को बनाए रखने और अपराध का मुकाबला करने में इसकी भूमिका सर्वोपरि है।

 

Latest articles

कर्नाटक सरकार ने सारे मुसलमानों को आरक्षण देने के लिए ओबीसी लिस्ट में किया शामिल,

लोकसभा चुनाव जैसे - जैसे अगले चरण के चुनाव की तरफ बढ़ रहा है...

ईवीएम वीवीपीएटी वोट वेरिफिकेशन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर फैसला रखा सुरक्षित

कुछ प्रश्नों पर चुनाव आयोग के अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने के बाद, सुप्रीम कोर्ट...

हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी और ईडी की कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष अदालत में दाखिल की एसएलपी

न्यूज़ डेस्क अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने सुप्रीम...

पीएम मोदी का वज्र प्रहार,कांग्रेस का पंजा आपसे आरक्षण और मेहनत की कमाई छीन लेगा

देश में प्रथम चरण के मतदान के बाद इंडिया गंठबंधन के नेताओं खासकर कांग्रेस...

More like this

कर्नाटक सरकार ने सारे मुसलमानों को आरक्षण देने के लिए ओबीसी लिस्ट में किया शामिल,

लोकसभा चुनाव जैसे - जैसे अगले चरण के चुनाव की तरफ बढ़ रहा है...

ईवीएम वीवीपीएटी वोट वेरिफिकेशन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर फैसला रखा सुरक्षित

कुछ प्रश्नों पर चुनाव आयोग के अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने के बाद, सुप्रीम कोर्ट...

हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी और ईडी की कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष अदालत में दाखिल की एसएलपी

न्यूज़ डेस्क अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने सुप्रीम...