Homeदेशऔर भारत रूस ,अमेरिका और चीन के बाद चन्द्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग...

और भारत रूस ,अमेरिका और चीन के बाद चन्द्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग करने वाला चौथा देश बन जायेगा —–

Published on


न्यूज़ डेस्क 

बुधवार को सब कुछ योजना के अनुसार ठीक रहा, तो भारत रूस, अमेरिका और चीन के बाद चंद्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग करने वाला दुनिया का चौथा देश बन जाएगा। इसरो चेयरमैन एस.सोमनाथ के मुताबिक, लैंडर के सभी सेंसर और दो इंजन फेल होने पर भी लैंडर सॉफ्ट लैंडिंग करने में सक्षम होगा। चंद्रयान-3 अंतरिक्ष यान में एक प्रणोदन मॉड्यूल (वजन 2,148 किलोग्राम), एक लैंडर (1,723.89 किलोग्राम) और एक रोवर (26 किलोग्राम) शामिल है। हाल ही में लैंडर मॉड्यूल, प्रोपल्शन मॉड्यूल से अलग हो गया और प्रोपल्शन मॉड्यूल भी 25 किमी गुण 134 किमी की ऊंचाई पर चंद्रमा का चक्कर लगा रहा है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के अनुसार, लैंडर बुधवार शाम 5.45 बजे चंद्रमा पर उतरना शुरू करेगा और टच डाउन शाम करीब 6.05 बजे होगा। सॉफ्ट लैंडिंग एक पेचीदा मुद्दा है।
                 पूरे देश में रहस्य और उत्साह बढ़ता जा रहा है। भारत बुधवार शाम को चंद्रमा पर अपने लैंडर की सॉफ्ट लैंडिंग कराने का प्रयास करेगा। 600 करोड़ रुपये का चंद्रयान-3 मिशन भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी के अधिकारियों और अन्य लोगों के लिए 19 मिनट का आतंक, रहस्य और उत्साह प्रदान करने के लिए पूरी तरह तैयार है। चंद्रयान-3 अंतरिक्ष यान द्वारा ले जाया गया लैंडर चंद्र मिट्टी की ओर उतरना शुरू कर देगा। गौरतलब है कि विक्रम लैंडर जो कुछ साल पहले चंद्रयान -2 मिशन का हिस्सा था, चंद्रमा पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जब यह लैंडिंग के अंतिम चरण पर था। हाल ही में चंद्रमा पर रूस के लूना-25 अंतरिक्ष यान के दुर्घटनाग्रस्त होने से भी चंद्रयान-3 के लैंडर के बारे में भय, रहस्य और उत्साह की भावना बढ़ गई है।
                       सुरक्षित और खतरा-मुक्त क्षेत्र खोजने के लिए लैंडिंग से पहले लैंडिंग साइट क्षेत्र की इमेजिंग की जाएगी। भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि लैंडर  25 किमी की ऊंचाई से चंद्रमा की सतह पर उतरेगा। लैंडर क्षैतिज स्थिति में चंद्रमा की ओर लगभग 1.6 सेकंड प्रति किमी की गति से आगे बढ़ेगा। इसरो टेलीमेट्री, ट्रैकिंग और कमांड नेटवर्क (आईएसटीआरएसी), बेंगलुरु में मिशन ऑपरेशंस कॉम्प्लेक्स में बैठे अधिकारी रफ एंड फाइन ब्रेकिंग नामक प्रक्रिया में गति को कम करके दूर से लैंडर ब्रेक लगाएंगे। रफ ब्रेकिंग करीब 11 मिनट की होगी और बाकी फाइन ब्रेकिंग होगी। लैंडर की स्थिति को ऊर्ध्वाधर में बदल दिया जाएगा और उस स्थिति में, यान चंद्रमा पर मंडराएगा, तस्वीरें लेगा और सुरक्षित लैंडिंग स्थान पर निर्णय लेने के लिए लैंडिंग क्षेत्र का सर्वेक्षण करेगा।
                    लैंडर अपने अंदर रोवर को ले जाता है और चंद्रमा पर सुरक्षित लैंडिंग के बाद, रोवर के नीचे आने और उसे सौंपे गए वैज्ञानिक प्रयोगों को करने की उम्मीद है। चंद्रयान-3 प्रोपल्शन मॉड्यूल के लिए प्राथमिक संचार चैनल आईएसटीआरएसी, बेंगलुरु में मिशन ऑपरेशंस कॉम्प्लेक्स होगा, जो बदले में लैंडर और रोवर से बात करेगा। हाल ही में, चंद्रमा लैंडर ने चंद्रयान -2 मिशन के ऑर्बिटर के साथ संचार लिंक स्थापित किया है, जो 2019 से चंद्रमा की परिक्रमा कर रहा है और इस तरह एक बैकअप टॉकिंग चैनल है। इस बीच, चंद्रयान-3 का प्रोपल्शन मॉड्यूल अपने पेलोड स्पेक्ट्रो-पोलरिमेट्री ऑफ हैबिटेबल प्लैनेटरी अर्थ (एसएचएपीई) के साथ कुछ और अवधि के लिए चंद्रमा के चारों ओर चक्कर लगाएगा। चंद्रयान-3 को 14 जुलाई को भारत के हेवी लिफ्ट रॉकेट एलवीएम 3 द्वारा कॉपीबुक शैली में कक्षा में स्थापित किया गया था। 

Latest articles

बांग्लादेश की हालत ख़राब ,अब तक 900 भारतीय लौटे भारत

न्यूज़ डेस्क बांग्लादेश में लगातार हो रही हिंसा के बीच पूरे देश में कर्फ्यू लगा...

जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कांग्रेस और बीजेपी आमने -सामने 

न्यूज़ डेस्क जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच आरोप -प्रत्यारोप शुरू हो...

दुकानदारका नाम अनिवार्य कर अकेले पड़े योगी,विपक्ष के साथ सत्ता पक्ष से भी उठे आवाज

उत्तर प्रदेश में कावड़ मार्ग पर लगने वाले दुकानों में दुकानदारों के नाम वाले...

बांग्लादेश में आरक्षण के विरोध में हिंसा जारी, 105 की मौत, सेना ने संभाली कमान

भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश में आरक्षण के खिलाफ सड़कों पर उतरे विद्यार्थियों और...

More like this

बांग्लादेश की हालत ख़राब ,अब तक 900 भारतीय लौटे भारत

न्यूज़ डेस्क बांग्लादेश में लगातार हो रही हिंसा के बीच पूरे देश में कर्फ्यू लगा...

जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कांग्रेस और बीजेपी आमने -सामने 

न्यूज़ डेस्क जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच आरोप -प्रत्यारोप शुरू हो...

दुकानदारका नाम अनिवार्य कर अकेले पड़े योगी,विपक्ष के साथ सत्ता पक्ष से भी उठे आवाज

उत्तर प्रदेश में कावड़ मार्ग पर लगने वाले दुकानों में दुकानदारों के नाम वाले...