Homeदेशचंद्रबाबू नायडू गए तो दिल्ली पहुंचे जगन रेड्डी ,बढ़ी नयी राजनीतिक हलचल 

चंद्रबाबू नायडू गए तो दिल्ली पहुंचे जगन रेड्डी ,बढ़ी नयी राजनीतिक हलचल 

Published on


अखिलेश अखिल 
टीडीपी के मुखिया चंद्रबाबू नायडू दिल्ली से जैसे ही वापस आंध्र प्रदेश पहुंचे ,दूसरे दिन ही सूबे के मुखिया जगन रेड्डी दिल्ली पहुँच गए। चंद्रबाबू नायडू जिन बीजेपी के नेताओं से मिलकर लौटे थे उन्ही नेताओं के साथ जगन की भी बैठक हुई है। खूब मेलमिलाप हुए और फोटों भी खिंचवाई गई। रेड्डी की मुलाकात अमित शाह से भी हुई और जेपी नड्डा से भी। इन्ही नेताओं से मिलकर नायडू भी लौटे थे।

नायडू की इस मुलाकात से दिल्ली में कई तरह की खबर बनी। एक मत यही था कि नायडू जल्द ही एनडीए के हिस्सा होंगे। लेकिन अब जब जगन भी दिल्ली पहुँच गए हैं और बीजेपी के शीर्ष नेताओं से मिल रहे हैं तब हलचल और भी तेज हो गई है। क्या जगन से साथ बीजेपी का गठबंधन होगा या फिर नायडू के साथ जोड़ी जमेगी ? या दोनों के साथ आंध्रा में इस बार मिलकर कांग्रेस का मुकाबला किया जाएगा?               

मुलाकात के दौरान जगनमोहन रेड्डी आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की मांग दोहरा सकते हैं। इसको लेकर चंद्रबाबू नायडू ने पहले बीजेपी  के नेतृत्व वाले एनडीए से किनारा किया था। ये वही आरोप हैं, जिनको लेकर जगनमोहन रेड्डी लगातार टीडीपी  पर हमलावर हुए थे। इसका ही नतीता रहा कि टीडीपी  और एनडीए  का गठबंधन टूट गया। इसी के साथ राज्य की सत्ता में वायएसआरसीपी का रास्ता साफ हुआ। एक बार फिर बीजेपी और टीडीपी करीब आती दिख रही हैं। ऐसे में जगनमोहन रेड्डी भी वही दांव चलने की कोशिश में हैं। बता दें कि जगनमोहन रेड्डी सरकार में हैॆ और उन पर ये भी आरोप लग सकता है कि वो अपने कार्यकाल के दौरान आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा क्यों नहीं दिलवा पाए।

लोकसभा चुनाव से पहले गठबंधन की राजनीति चर्चा जोरो पर है। बता दें कि टीडीपी  चाहती है कि बीजेपी  उनके और पवन कल्याण की जन सेना पार्टी के साथ मिलकर जगनमोहन रेड्डी के खिलाफ मैदान में उतरे। दूसरी ओर बीजेपी  की टॉप लीडरशिप के जगनमोहन रेड्डी के साथ नजदीकियां भी राज्य को अलग तरह से सोचने के लिए मजबूर कर रही है। फिलहाल, जगनमोहन रेड्डी ने अभी तक ये साफ नहीं किया है कि क्या वो एनडीए  के साथ जा सकते हैं या नहीं।

Latest articles

चार वर्षीय डिग्री लेने वाले छात्र अब सीधे पीएचडी और नेट की परीक्षा में बैठ सकते हैं 

न्यूज़ डेस्क यूजीसी ने शिक्षा में बड़ा बदलाव करते हुए चार साल की स्नातक डिग्री...

चुनाव के दौरान बयानों गरमाई सियासत ,पीएम मोदी पर खड़गे हुए हमलावर !

न्यूज़ डेस्क चुनाव के दौरान बयानों की राजनीति कब सुर्खियां बन जाए यह कोई नहीं...

बिल गेट्स वित्तपोषक, लेखक, संपादक, सलाहकार के रूप में? डेटा साम्राज्यवाद: मेट्रिक्स में हेरफेर

महामारी विज्ञान में पोस्टडॉक्टरल, जो भारतीय सशस्त्र बलों में दो दशकों से अधिक समय...

PBKS vs GT IPL 2024 : गुजरात टाइटंस ने पंजाब किंग्स को तीन विकेट से हराया, तेवतिया ने खेली 36 रनों की मैच जिताऊ...

न्यूज डेस्क आईपीएल 2024 के 37वें मैच में गुजरात टाइंटस ने पंजाब किंग्स को तीन...

More like this

चार वर्षीय डिग्री लेने वाले छात्र अब सीधे पीएचडी और नेट की परीक्षा में बैठ सकते हैं 

न्यूज़ डेस्क यूजीसी ने शिक्षा में बड़ा बदलाव करते हुए चार साल की स्नातक डिग्री...

चुनाव के दौरान बयानों गरमाई सियासत ,पीएम मोदी पर खड़गे हुए हमलावर !

न्यूज़ डेस्क चुनाव के दौरान बयानों की राजनीति कब सुर्खियां बन जाए यह कोई नहीं...

बिल गेट्स वित्तपोषक, लेखक, संपादक, सलाहकार के रूप में? डेटा साम्राज्यवाद: मेट्रिक्स में हेरफेर

महामारी विज्ञान में पोस्टडॉक्टरल, जो भारतीय सशस्त्र बलों में दो दशकों से अधिक समय...