Homeदेशचुनावी साल में सीएम शिवराज ने बहनो को दिया तोहफा !

चुनावी साल में सीएम शिवराज ने बहनो को दिया तोहफा !

Published on


अखिलेश अखिल 
भाई -बहन का प्यार तो अमर होता है और रक्षा बंधन का त्यौहार पर कोई भाई अपनी बहन को जो तोहफा देता है बहन सदा ही उसे याद रखती है। बड़ी बहने हमेशा आशीष देती है और छोटी बहने प्यार। सामने चुनाव है। मध्यप्रदेश में बीजेपी इस बार घिरी हुई है। लोकतंत्र  का तकाजा तो यही है कि पिछले 20 साल से सत्ता पर बैठे शिवराज सिंह चौहान और उनकी पार्टी यही चाहती है कि इस बार फि सत्ता बीजेपी के ही हाथ लगे। ऐसा हो भी सकता है और नहीं भी। 20 साल से बीजेपी सरकार चला रही है लेकिन इस बार जनता के बीच शिवराज सरकार के खिलाफ आक्रोश है। जनता चाहती है कि सरकार बदले। सरकार तो पिछली बार ही बदल गई थी लेकिन बीजेपी ने ऑपरेशन कमल चलाया और सिंधिया के जरिये कांग्रेस के 21 विधायकों को तोड़ा और कमलनाथ की सरकार गिर गई। लेकिन इस बार कांग्रेस भी को कसार नहीं छोड़ना चाहती।      
          अब शिवराज सिंह बहन भाई के रिश्ते को आगे बढ़ाते हुए लाड़ली योजना चला रहे हैं ,नकदी रुपये देने की योजना। पिछले 20 साल तक यह सब नहीं कर सके तो अब इसकी जरूरत आ गई है। कमसे काम  वोट की गारंटी तो मिल सकती है। रविवार को भोपाल के जंबूरी मैदान में लाड़ली बहनो का सम्मलेन हुआ। हर जिले की लाड़ली बहने सम्मेलन में पहुंची। नारे लगाए और भाई शिवराज को आशीष भी दिया। शिवराज गदगद हुए। जोश में आये और फिर बहनो पर अपना प्यार ुलेड दिया और कई तोहफे की घोषणा कर दिए।                
         लाड़ली बहनों के सम्मेलन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने चुनावी साल में बहनों को रक्षाबंधन का तोहफा दिया। सरकारी नौकरी में महिलाओं को अब 35 प्रतिशत आरक्षण मिलेगा। रक्षाबंधन का त्योहार मनाने के लिए सिंगल क्लिक से 250 रुपये खाते में डाले जाएंगे सितंबर में एक हजार रुपये खाते में डाले गए  वहीं, अब अक्तूबर से 1,250 रुपये प्रतिमाह लाड़ली बहनों के खाते में डाले जाएंगे। सीएम शिवराज सिंह ने ये बाते कही। लाड़ली बहनो का हानागमा शुरू हुआ। बाद में पता चला कि ये हंगामा नहीं आशीर्वाद है।    
               आप सोंच सकते हैं कि देश  हालत कितनी ख़राब है। एक तरफ पांच किलो अनाज पाकर ही लोग संतुष्ट हैं और दूसरी तरफ थोड़े नकदी पाकर ही हमारी बहने खुश हो रही है। ऐसा भी नहीं है कि यह सब मध्यप्रदेश में ही हो रहा है। नकदी बांटने का खेल एक योजना के तहत देश के हर राज्यों में चल रहे हैं और हर पार्टी इस खेल को आगे बढ़ा रही है। लेकिन सवाल है कि जो पार्टी पिछले 20 साल से सत्ता में है उसे आज नकदी बांटने की जरूरत कहाँ से  आ गई ? सच तो यह भी है कि मध्यप्रदेश  सरकार की माली हालत बेहद खराब है और कई विभागों में समय से वेतन  भी नहीं बंट रहे हैं। लेकिन चुनाव है तो सब मुमकिन है। क्योंकि यह नहीं तो कुछ भी नहीं।      
           जंबूरी मैदान में सीएम शिवराज बहुत कुछ बोलते गए। उन्होंने कहा सावन माह में बहनों को साढ़े चार सौ रुपये में गैस सिलेंडर सरकार उपलब्ध कराएगी। वहीं, नशा को रोकने के लिए जहां 50 प्रतिशत महिलाएं शराब दुकान बंद करने को सहमति देंगी, अलगे साल से वहां शराब की दुकान को बंद कर दिया जाएगा।
           मुख्यमंत्री ने महिलाओं के लिए एक बड़ा एलान करते हुए कहा कि पुलिस की भर्ती में अभी महिलाओं के लिए 30 प्रतिशत पद आरक्षण है। अब पुलिस समेत अन्य सरकारी भर्ती में 50 प्रतिशत आरक्षण महिलाओं को मिलेगा। इसके अलावा सीएम ने एलान किया कि नोमिनेटेड पोस्ट में भी अब 35 प्रतिशत महिलाओं को नियुक्त किया जाएगा। अलग-अलग तरह की नियुक्तियों में महिलाओं को ठीक प्रतिनिधित्व देने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि बहन और बेटी को बेहतर शिक्षा देनी होगी।
                  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लाड़ली बहनों का महाकुंभ है। आज नारी शक्ति की आवाज पूरे मध्यप्रदेश में गूंजना चाहिए। भाई बहन का प्रेम अमर प्रेम है। प्रेम,आत्मीयता और यह प्यार का पवित्र रिश्ता मेरी सभी बहनों को शीश झुकाकर प्रणाम करता हूं। मेरी बहनों राखी की बहुत शुभकामनाएं। सीएम ने कहा कि पूरी दुनिया को संदेश देता हूं कि मां, बहन और बेटी पूजनीय है। उनका मान, सम्मान यह मानवता का धर्म है। उनकी जिंदगी में कोई संकट और कष्ट न रहे। सीएम ने कहा कि हिंदू या मुस्लिम सभी मेरी बहनें हैं।
                    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मेरा सपना है कि हर महिला की आमदनी बढ़ा कर 10 हजार रुपये महीना करना है। स्व सहायता समूह में कई महिलाएं 10 हजार रुपये कमा रही हैं। इसलिए आज यह फैसला कर रहे हैं कि लाडली बहना आजीविका मिशन के अंतर्गत आएंगी। उनको स्वरोजगार के लिए बैंक लोन देगी। दो प्रतिशत ब्याज आपको देना होगा। बाकि ब्याज की राशि सरकार भरेगी। सीएम ने कहा कि तुम्हारे आंसू, तकलीफ, दर्द को मैं पी जाऊंगा। महिला सशक्तिकरण के लिए प्रधानमंत्री का धन्यवाद देता हूं। बहनों के नाम पर यदि कोई संपत्ति खरीदी जाएगी तो स्टाप शुल्क एक प्रतिशत ही लगेगा। बहन यदि कोई छोटा उद्योग लगाना चाहती है तो पूरी मदद करेंगे। औद्योगिक क्षेत्र में प्लाट भी आरक्षित किए जाएंगे।
                सीएम ने कहा कि गांव में रहने वाली बहनें मुझे कहती हैं कि भैया हमारे पास गांव में रहने के लिए मकान नहीं है। सीएम ने कहा कि रक्षाबंधन का संकल्प है कि यदि किसी बहन के पास रहने की जगह नहीं है तो गांव में भी उनको प्लाट दिया जाएगा। शहर में भी माफियाओं से छुड़ाई जमीन पर छोटे-छोटे घर बनाकर महिलाओं को दिए जाएंगे, जिन लोगों के नाम प्रधानमंत्री आवास योजना में रह गए, उनको मुख्यमंत्री आवास योजना में प्लाट और मकान दिया जाएगा।
                सीएम ने कहा कि कुछ बहनों ने बताया कि बिजली के बिल अधिक आ रहे हैं तो आज मैं यह फैसला कर रहा हूं कि बढ़े हुए बिजली बिलों की वसूली नहीं होगी। मैं उनकी व्यवस्था करुंगा। सितंबर में बढ़े हुए बिल जीरो हो जाएंगे। इसके बाद गरीब बहन का बिल केवल़़100 रुपये आए, ऐसा इंतजाम किया जाएगा। और इसके साथ ही कई और वादे किये गए। स्वास्थ्य की बात की गई ,सुरक्षा की बात की गई और पढ़ाई की भी बात की गई। कुल मिलाकर सरकार ने बहनो को कहा कि हमारी सरकार बहनो के लिए ही है। आपका आशीष चाहिए और आशीष के बदले एक वोट चाहिए। बहने क्या कुछ करेंगी कोई नहीं जनता लेकिन अर्थ में जो शक्ति है उसका असर तो दिखेगा ही। 

Latest articles

चरित्रहीन राजनीति में सब कुछ जायज ,अब बीजेपी के साथ हाथ मिलाने को बेकरार केसीआर !

अखिलेश अखिल नेताओं और राजनीति पर वैसे भी कोई यकीन नहीं करता क्योंकि राजनीति तो...

मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, पूर्व अग्निवीरों को सीआईएसएफ और बीएसएफ में छूट मिलेगी

18 वीं लोकसभा चुनाव में जिस आधार पर कांग्रेस और इंडिया गठबंधन के अन्य...

बहुत कहता है समुद्री पारिस्थितिकी पर चीन का श्वेत पत्र !

न्यूज़ डेस्क चीनी राज्य परिषद के सूचना कार्यालय ने संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर चीनी समुद्री...

केजरीवाल की याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा फैसला !

न्यूज़ डेस्क दिल्ली में कथित आबकारी नीति घोटाले से जुड़े धनशोधन मामले में प्रवर्तन निदेशालय...

More like this

चरित्रहीन राजनीति में सब कुछ जायज ,अब बीजेपी के साथ हाथ मिलाने को बेकरार केसीआर !

अखिलेश अखिल नेताओं और राजनीति पर वैसे भी कोई यकीन नहीं करता क्योंकि राजनीति तो...

मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, पूर्व अग्निवीरों को सीआईएसएफ और बीएसएफ में छूट मिलेगी

18 वीं लोकसभा चुनाव में जिस आधार पर कांग्रेस और इंडिया गठबंधन के अन्य...

बहुत कहता है समुद्री पारिस्थितिकी पर चीन का श्वेत पत्र !

न्यूज़ डेस्क चीनी राज्य परिषद के सूचना कार्यालय ने संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर चीनी समुद्री...