Homeदेशझारखंड कांग्रेस के ‘एक्स’ हैंडल पर भारत में लगी रोक,अमित शाह का...

झारखंड कांग्रेस के ‘एक्स’ हैंडल पर भारत में लगी रोक,अमित शाह का फर्जी वीडियो पोस्ट मामला

Published on

लोक सभा चुनाव 2024 में प्रचार के अलग – अलग कई रूप सामने आए इसमें हेट स्पीच से लेकर एआई और डीपफेक तक का मुद्दा शामिल है।ऐसे ही एक मुद्दे की वजह से झारखंड कांग्रेस के सोशल मीडिया ‘एक्स’ हैंडल पर कार्रवाई की गयी है।एक्स ने झारखंड कांग्रेस के हैंडल पर भारत में रोक लगा दी है। एक्स ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का फर्जी वीडियो पोस्ट करने के आरोप में यह कार्रवाई की है।मीडिया सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक कानूनी मांग के जवाब में भारत में एक्स द्वारा झारखंड कांग्रेस का हैंडल रोक दिया गया। इस हैंडल पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का एक ‘डीपफेक मॉर्फ्ड वीडियो’ पोस्ट किया गया था।

झारखंड कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की दिल्ली पुलिस ने किया तलब

दिल्ली पुलिस ने झारखंड कांग्रेस के अध्यक्ष राजेश ठाकुर को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के फर्जी वीडियो मामले की जांच के लिए दो मई को बुलाया है।दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ द्वारा 28 अप्रैल को इस संबंध में एक प्राथमिकी दर्ज की गयी थी।

जांच के बाद जारी करना चाहिए नोटिस

झारखंड कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि दिल्ली पुलिस से उन्हें मंगलवार को नोटिस मिला, लेकिन यह समझ से परे है कि उन्हें नोटिस क्यों दिया गया है? यह अराजकता के अलावा और कुछ नहीं है। यदि कोई शिकायत थी तो उन्होंने सबसे पहले सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर उनके अकाउंट में उपलब्ध सामग्री को सत्यापित करना चाहिए था। चुनाव प्रचार अपने चरम पर है और चुनाव अभियान में उनकी व्यस्तता को समझा जा सकता है। ऐसी स्थिति में लैपटॉप और अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान की मांग की गयी है।चीजों को बिना सत्यापित किये समन जारी करना उचित नहीं है।

इंडियन साइबर क्राइम कोऑर्डिनेशन सेंटर ने दर्ज कराई है प्राथमिकी

दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के फर्जी वीडियो मामले में ‘इंडियन साइबर क्राइम कोऑर्डिनेशन सेंटर’ की शिकायत पर रविवार को प्राथमिकी दर्ज की थी।केंद्रीय गृह मंत्रालय के तहत आने वाले इंडियन साइबर क्राइम कोऑर्डिनेशन सेंटर की शिकायत में कहा गया है कि वीडियो में अमित शाह का बयान धार्मिक आधार पर मुस्लिमों का कोटा खत्म करने की प्रतिबद्धता की तरफ इशारा करता है, जबकि इस वीडियो में छेड़छाड़ करके वायरल किये गये फर्जी वीडियो को देखकर लगता है कि अमित शाह सभी तरह का आरक्षण खत्म करने की वकालत कर रहे थे।

झारखंड बीजेपी ने दर्ज करायी शिकायत

झारखंड भाजपा की तरफ से भी मंगलवार को अमित शाह का फर्जी वीडियो प्रसारित करने के आरोप में दो लोगों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गयी। इन दोनों आरोपियों के नाम शैलेंद्र हाजरा और रूपेश रजक हैं।

Latest articles

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...

पंजाब के मतदाताओं के नाम आखिर मनमोहन सिंह ने क्यों लिखा पत्र ?

न्यूज़ डेस्क पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने पंजाब के मतदाताओं के नाम एक...

More like this

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...