Homeदेशतृणमूल को पश्चिम बंगाल में बड़ा झटका,टीएमसी सांसद मिमी चक्रवर्ती ने सौंपा...

तृणमूल को पश्चिम बंगाल में बड़ा झटका,टीएमसी सांसद मिमी चक्रवर्ती ने सौंपा इस्तीफा

Published on

तृणमूल कांग्रेस को पश्चिम बंगाल में अपनी ही पार्टी से एक बड़ा झटका लगा है।पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस सांसद मिमी चक्रवर्ती ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।मिमी चक्रवर्ती ने पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी को अपना इस्तीफा सौंपा है। अभिनेत्री मिमी चक्रवर्ती का कहना है कि वे अपने सीट पर टीएमसी का स्थानीय नेतृत्व से नाखुश है।2019 के लोकसभा चुनाव में मिमी चक्रवर्ती ने जादवपुर सीट से जीत हासिल की थी। गौरतलब है कि घटाल से पूर्व सांसद देव ने अपने पद से इस्तीफा देना चाहा था, लेकिन बाद में उन्होंने इरादा बदल दिया था।

ममता बनर्जी से मिलने के बाद मिमी ने की इस्तीफा की घोषणा

सांसद मिमी चक्रवर्ती ने अपने पद से दो दिन पहले ही अपना इस्तीफा ममता बनर्जी को भेज दिया था।उसके बाद गुरुवार को विधानसभा में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मिलने के बाद वे अपने सांसद के पद से इस्तीफा की घोषणा कर रही है।यह बात उन्होंने विधानसभा से निकलने के बाद खुद ही पत्रकारों को बताया। सांसद मिनी ने कहा कि वह लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार नहीं बनना चाहती।पिछले कुछ दिनों से मिमी चक्रवर्ती को लेकर अटकलें लगाई जा रही थी कि वह अपने पद से इस्तीफा दे सकती है।दरअसल उन्होंने पिछले तीन दिनों में कई पदों से इस्तीफा दिया है।

राजनीति मेरे लिए नहीं

इस्तीफा देने के बाद मिमी चक्रवर्ती ने कहा कि राजनीति मेरे लिए नहीं है। यहां पर अगर आप किसी की मदद कर रहे हैं, तो आपको उसका प्रचार करना होता है। राजनीति के साथ-साथ मैं अभिनेत्री के रूप में भी कार्य करती हूं। मेरा दायित्व दोनों तरफ एक समान है अगर कोई राजनीति में आता है, तो आप काम करें या ना करें आपको भला- बुरा कहा जाता है। मुझे जो परेशानी है,उसे लेकर मैं ममता बनर्जी से बात की है, जिस पार्टी ने मुझे आगे आने का मौका दिया, मैं अपने इस्तीफा की जानकारी पहले उन्हें देना चाहती हूं। 2022 में भी मैंने एक बार अपने सांसद पद से इस्तीफा को लेकर दीदी से बात की थी, तब उन्होंने इसे नामंजूर कर दिया था।दीदी जो कहेंगी उसके बाद मैं आगे की प्रक्रिया को पूरा करूंगी।

Latest articles

दूसरे चरण में महाराष्ट्र की आठ सीटों पर होंगे चुनाव ,शिंदे और शरद पवार की प्रतिष्ठा दाव पर 

न्यूज़ डेस्क वैसे तो देश की सभी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हर उम्मीदवार की...

चार वर्षीय डिग्री लेने वाले छात्र अब सीधे पीएचडी और नेट की परीक्षा में बैठ सकते हैं 

न्यूज़ डेस्क यूजीसी ने शिक्षा में बड़ा बदलाव करते हुए चार साल की स्नातक डिग्री...

चुनाव के दौरान बयानों गरमाई सियासत ,पीएम मोदी पर खड़गे हुए हमलावर !

न्यूज़ डेस्क चुनाव के दौरान बयानों की राजनीति कब सुर्खियां बन जाए यह कोई नहीं...

बिल गेट्स वित्तपोषक, लेखक, संपादक, सलाहकार के रूप में? डेटा साम्राज्यवाद: मेट्रिक्स में हेरफेर

महामारी विज्ञान में पोस्टडॉक्टरल, जो भारतीय सशस्त्र बलों में दो दशकों से अधिक समय...

More like this

दूसरे चरण में महाराष्ट्र की आठ सीटों पर होंगे चुनाव ,शिंदे और शरद पवार की प्रतिष्ठा दाव पर 

न्यूज़ डेस्क वैसे तो देश की सभी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हर उम्मीदवार की...

चार वर्षीय डिग्री लेने वाले छात्र अब सीधे पीएचडी और नेट की परीक्षा में बैठ सकते हैं 

न्यूज़ डेस्क यूजीसी ने शिक्षा में बड़ा बदलाव करते हुए चार साल की स्नातक डिग्री...

चुनाव के दौरान बयानों गरमाई सियासत ,पीएम मोदी पर खड़गे हुए हमलावर !

न्यूज़ डेस्क चुनाव के दौरान बयानों की राजनीति कब सुर्खियां बन जाए यह कोई नहीं...