Homeदेशबीजेपी लोकसभा चुनाव में कमजोर हुई लेकिन राज्य सभा उपचुनाव में...

बीजेपी लोकसभा चुनाव में कमजोर हुई लेकिन राज्य सभा उपचुनाव में करेगी क्लीन स्वीप

Published on

18वीं लोकसभा चुनाव के दौरान भारतीय जनता पार्टी का नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में अब तक का सबसे खराब प्रदर्शन रहा ,लेकिन अब राज्यसभा के लिए होने वाले उपचुनाव में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी को बड़ा फायदा होने का आसार बन रहा है ।लोकसभा चुनाव में राज्यसभा के सांसदों के जीतने के कारण राज्यसभा की 10 सीटें खाली हो गई है ।अब इन सीटों पर उपचुनाव होना है,जिसमें एनडीए को भारी सफलता मिल सकती है ।राज्य सभा की ये सभी 10 सीटें बीजेपी या एनडीए गठबंधन शासित राज्य में है,जहां संख्या बल के आधार पर बीजेपी की या इसके एनडीए सहयोगी की जीत पक्की नजर आती है। एक सीट का उपचुनाव महाराष्ट्र में भी होना है,वहां भी यह एनडीए की हिस्से में ही जायेगी।

राज्यसभा के खाली हुए 10 में से 7 सीट बीजेपी का है

राज्यसभा की 10 सीटें जिस पर चुनाव होना है उसमें से 7 सीटें बीजेपी के उन राज्यसभा सांसदों के हैं,जिन्होंने लोकसभा के चुनाव लड़े थे और उसमें जीत हासिल की थी। राज्यसभा के बाद लोकसभा का चुनाव जीतने वाले इन सांसदों में महाराष्ट्र के उदयन राजे भोसले और पीयूष गोखले,त्रिपुरा में विप्लव देव, मध्य प्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया, बिहार में विवेक ठाकुर, असम में कामाख्या प्रसाद ताशा और सर्वानंद सोनोवाल शामिल है। बीजेपी एक बार फिर इन सभी सीटों को अपने पास ही रखेगी, जिसमें उसकी जीत भी लगभग तय मानी जा रही है।

कांग्रेस और आरजेडी की खाली हुई सीट पर भी मिल सकती है जीत

बीजेपी के अपने सांसदों के लोकसभा चुनाव जीतने की वजह से रिक्त हुई राज्यसभा सीटों के अलावा राजस्थान में कांग्रेस के केसी वेणुगोपाल की रिक्त हुई सीट भी सांख्य बल के हिसाब से बीजेपी के पास ही जाएगी। वहीं बिहार में आरजेडी की मिशा भारती की खाली हुई राज्यसभा की सीट भी एनडीए के घटक दल बीजेपी या जेडीयू के हिस्से में जाएगी क्योंकि वहां एनडीए गठबंधन की सरकार है।हरियाणा में कांग्रेस के देवेंद्र हुड्डा के लोकसभा सांसद चुने जाने से खाली हुई सीट पर भी राज्य में बीजेपी की सरकार होने से इसे ही मिलने की संभावना है।हालांकि राज्य में जेजेपी के समर्थन वापस लेने के बाद बीजेपी की सरकार निर्दलीय विधायकों के भरोसे पर चल रही है, उसे देखते हुए वहां पर चुनाव की स्थिति भी बन सकती है।

Latest articles

यूपीएससी चेयरमैन मनोज सोनी ने कार्यकाल खत्म होने से पांच साल पहले दे दिया इस्तीफा

यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन के अध्यक्ष मनोज सोनी के इस्तीफे की खबर सामने आ...

बंगाल बीजेपी में सुवेंदु अधिकारी और अल्पसंख्यक मोर्चा अध्यक्ष के बीच वार – पलटवार

बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी की 'सबका साथ, सबका विकास' की...

बांग्लादेश के युवा आखिर किस तरह के आरक्षण का हिंसक विरोध कर रहे हैं ?

न्यूज़ डेस्कबांग्लादेश अचानक हिंसा की चपेट में आ गया है। इस बारे बांग्लादेश के...

पीएम मोदी कहा 2075 तक भारत अमेरिका को पछाड़ देगा !

न्यूज़ डेस्क प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश आर्थिक उन्नति और बुनियादी ढांचे के...

More like this

यूपीएससी चेयरमैन मनोज सोनी ने कार्यकाल खत्म होने से पांच साल पहले दे दिया इस्तीफा

यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन के अध्यक्ष मनोज सोनी के इस्तीफे की खबर सामने आ...

बंगाल बीजेपी में सुवेंदु अधिकारी और अल्पसंख्यक मोर्चा अध्यक्ष के बीच वार – पलटवार

बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी की 'सबका साथ, सबका विकास' की...

बांग्लादेश के युवा आखिर किस तरह के आरक्षण का हिंसक विरोध कर रहे हैं ?

न्यूज़ डेस्कबांग्लादेश अचानक हिंसा की चपेट में आ गया है। इस बारे बांग्लादेश के...