Homeदेशसंसद में तमाशा : क्या विपक्ष की आवाज दबा रही सरकार ?

संसद में तमाशा : क्या विपक्ष की आवाज दबा रही सरकार ?

Published on

न्यूज़ डेस्क
संसद में आज भी हंगामा हुआ। हंगामा चलता रहा और संसद की दीवारे मौन होकर सब देखती और सुनती रहीं। दीवारों में जान होते तो वह गवाही भी देती। लेकिन मुश्किल यही है कि संसद की दीवारे बेजान है ,निष्प्राण जो है। गवाही तो वे भी दे सकते हैं जो मानव के रूप में संसद में खेल रहे हैं लेकिन उनकी आत्मा जो मर चुकी है। गिरवी हो गई है।

सत्ता पक्ष और विपक्ष एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं। खुद राहुल गांधी इस बात को कह चुके हैं कि मैंने भारत विरोधी कोई भी बात नहीं की है और अगर मुझे मौका मिलेगा तो मैं सदन में इसका जवाब दूंगा। इसके अलावा विपक्ष अडानी पर हुए खुलासे की जांच के लिए जेपीसी गठन की मांग पर अड़ा हुआ है। संसद में आज भी हंगामा देखने को मिला। हंगामे का एक कारण विपक्ष की आवाज को म्यूट करना भी था।

कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि विपक्ष जब संसद में अपनी आवाज उठा रहा था उस दौरान लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने के एक मिनट बाद ही संसद टीवी पर लोकसभा के लाइव प्रसारण की आवाज को गायब यानी म्यूट कर दिया गया। कांग्रेस ने कहा कि PM मोदी के मित्र के लिए सदन म्यूट है, कांग्रेस ने पूछ क्या ये लोकतंत्र है।

संसद टीवी का लाइव प्रसारण म्यूट होने पर छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। भूपेश बघेल ने ट्वीट कर कहा है कि वे परेशान थे कि राहुल गांधी ने क्यों कहा कि विपक्षी सदस्यों के माइक बंद कर दिए जाते हैं। आज तो लोकसभा ही म्यूट कर दिया गया। और क्या सबूत चाहिए!!

वहीं राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि जनता द्वारा चुने गए सांसदों को संसद में बोलने का अवसर ना देना एवं लोकसभा की कार्यवाही म्यूट करवाना लोकतांत्रिक परंपराओं के खिलाफ है। यह देशवासियों की आवाज शांत करने का प्रयास है। क्या इसे स्वस्थ लोकतंत्र कहा जा सकता है? इन्हीं मुद्दों को लेकर राहुल जी ने भारत जोड़ो यात्रा की थी।

आपको बता दें, सुबह 11 बजे लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला के सदन में आने के साथ ही सभी सांसदों ने पहले उनका अभिवादन किया और उसके बाद दोनों ही पक्षों की तरफ से नारेबाजी शुरू हो गई। आसन पर बैठने के बाद बिरला ने प्रश्नकाल की कार्यवाही शुरू की और पहला प्रश्न पूछने के लिए कांग्रेस के सांसद मनीष तिवारी का नाम पुकारा।

मनीष तिवारी ने खड़े होकर सवाल पूछना शुरू ही किया था कि इस बीच नारेबाजी और तेज हो गई। इसके कुछ ही सेकेंड बाद 11:01 पर संसद टीवी पर लोक सभा के सीधे प्रसारण का ऑडियो गुल हो गया। इसके बाद 18 मिनट तक लोक सभा में जारी हंगामे के दृश्य तो दिखाई दिए लेकिन सदन के अंदर जारी हंगामे और नारेबाजी की आवाज सीधा प्रसारण देखने वाले को सुनाई नहीं दे रहा था।

ऑडियो गुल होने के 18 मिनट बाद 11:19 पर दो बार इसका ऑडियो वापस आया और दोनों बार कांग्रेस सांसदों के नारेबाजी की आवाज सुनाई दी जिसमें वे अडानी मसले पर और राहुल गांधी को बोलने देने की मांग को लेकर नारेबाजी कर रहे थे। कुछ ही सेकेंड बाद ऑडियो फिर गायब हो गया और जब 11:20 पर इसका ऑडियो वापस आया तो उस समय लोक सभा अध्यक्ष सांसदों से सदन चलने देने का आग्रह करते हुए यह कहते सुनाई दिए कि सांसदों को सदन में नारेबाजी करने के लिए नहीं बल्कि सदन को चलने देने के लिए भेजा गया है।

बिरला यह भी कहते हुए सुनाई दिए कि अगर हाउस ऑर्डर में रहेगा तो वह सब को बोलने का मौका देंगे लेकिन इस तरह से किसी को मौका नहीं मिलेगा। बिरला की नसीहत और चेतावनी के बावजूद सदन में हंगामा और नारेबाजी जारी रहा और इसके बाद बिरला सदन की कार्रवाई को सोमवार तक स्थगित करने की घोषणा करते सुनाई दिए।

Latest articles

पूर्वी दिल्ली के सांसद गौतम गंभीर  ने किया ठगिनी राजनीति से तौबा ,क्रिकेट में लौटेंगे 

न्यूज़ डेस्क  ठगिनी राजनीति से किसे मोहभंग नहीं होता ! जो लोग झूठ और ठगी...

बंगलुरु रामेश्वरम कैफे में विस्फोट ,कई लोग घायल 

न्यूज़ डेस्क बंगलुरु रामेश्वरम कैफे आईईडी विस्फोट मामले में बड़ी बात सामने आ रही है।...

चुनाव आयोग ने स्टार प्रचारकों और उम्मीदवारों की जारी की एडवाइजरी!

न्यूज़ डेस्क  भारतीय निर्वाचन आयोग ने लोकसभा चुनावों से पहले स्टार प्रचारकों और उम्मीदवारों को...

More like this

पूर्वी दिल्ली के सांसद गौतम गंभीर  ने किया ठगिनी राजनीति से तौबा ,क्रिकेट में लौटेंगे 

न्यूज़ डेस्क  ठगिनी राजनीति से किसे मोहभंग नहीं होता ! जो लोग झूठ और ठगी...

बंगलुरु रामेश्वरम कैफे में विस्फोट ,कई लोग घायल 

न्यूज़ डेस्क बंगलुरु रामेश्वरम कैफे आईईडी विस्फोट मामले में बड़ी बात सामने आ रही है।...

चुनाव आयोग ने स्टार प्रचारकों और उम्मीदवारों की जारी की एडवाइजरी!

न्यूज़ डेस्क  भारतीय निर्वाचन आयोग ने लोकसभा चुनावों से पहले स्टार प्रचारकों और उम्मीदवारों को...