Homeदुनियामानवता शर्मसार : गाजा में बिना एनेस्थीसिया दिए एक हजार बच्चों के...

मानवता शर्मसार : गाजा में बिना एनेस्थीसिया दिए एक हजार बच्चों के हाथ काट दिए गए

Published on


 न्यूज़ डेस्क 
हमास और इजराइल के बीच जारी जंग में महिलाओं और बच्चों को लेकर जो खबरे आ रही है वह मानवता के लिए किसी कलंक से कम नहीं। हर रोज सैकड़ों की तादात में लोग घ्याल हो रहे हैं लेकिन उनके इलाज की कोई व्यवस्था नहीं है। सरे के सारे अस्पताल बंद पड़े हैं। जिनकी मौत हो जाती है उन्हें किसी भी तरह दफना तो दिया जा रहा है लेकिन गंभीर रूप से घायल है ,इलाज के अभाव में वे जिस परिस्थिति से गुजर रहे हैं उससे मनवाता भी शर्मसार हो रही है। 

 जंग से सबसे ज्यादा महिलाएं और बच्चे प्रभावित हुए हैं। इजरायली बमबारी की वजह से गाजा में अस्पतालों की हालत खस्ता हो गई है। जो अस्पताल बचे हैं वहां की व्यवस्था बुरी तरह से चरमरा गई है। बच्चों को ठीक से इलाज तक नहीं मिल पा रहा है। अस्पतालों में हालात कितने भयावह हैं इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि गाजा में बिना एनेस्थीसिया दिए एक हजार बच्चों के हाथ काट दिए गए हैं।

संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत फ्रांसेसा अल्बनीज ने कहा कि गाजा में कम से कम 1,000 बच्चों के हाथ बिना एनेस्थीसिया के काट दिए गए हैं, क्योंकि मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, इजरायल ने आवश्यक दवाओं की आपूर्ति के प्रवेश को बंद कर दिया है। संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत ने एक्स पर लिखा, “हमारी सदी की राक्षसीता।” उन्होंने कहा कि इजराइल गाजा के उन इलाकों पर बमबारी कर रहा है जिन्हें उसने “सुरक्षित” बताया है।

उन्होंने लिखा, “जंग पूरे परिवारों को खत्म कर रहा है, अनगिनत बच्चों को अनाथ बना रहा है और अनगिनत पुरुषों और महिलाओं को अपनी संतानों को जीवन संघर्ष के लिए मजबूर कर रहा है।”
 इजरायली बमबारी में अब तक 21,320 फिलिस्तीनी मारे जा चेक हैं। मरने वालों में सबसे ज्यादा बच्चे और महिलाएं शामिल हैं। अब तक 55,603 लोग घायल हुए हैं और 7,000 से ज्यादा लोग लापता हैं। वहीं वेस्ट बैंक में अब तक 316 लोग मारे जा चुके हैं और 3800 लोग घायल हैं।

यूनिसेफ ने कहा कि गाजा में कम से कम 9,000 से अधिक बच्चे इजरायली बमबारी में घायल हो गए हैं, इससे उन्हें एक हाथ या पैर खोने की समस्या से जूझना पड़ा है।

7 अक्टूबर को एक अप्रत्याशित हमले में हमास द्वारा इजरायल पर हमला करने के बाद इजरायल ने 27 अक्टूबर को गाजा के अंदर एक जमीनी आक्रमण शुरू किया। हमास और इजरायल के बीच संघर्ष शुरू होने के बाद से, कम से कम 21,320 फिलिस्तीनी मारे गए हैं, इनमें ज्यादातर बच्चे और महिलाएं हैं, जबकि 55,603 फिलिस्तीनी घायल हुए हैं।

ताजा रिपोर्ट के अनुसार, गाजा की 2.3 मिलियन आबादी में से 90 प्रतिशत से अधिक लोग खाने-पीने की कमी जूझ रहे हैं।दक्षिणी गाजा में कुवैती अस्पताल के पास आवासीय इमारत पर इजरायली बमबारी में कम से कम 20 लोग मारे गए हैं।गाजा के दीर अल-बलाह में नुसीरात शरणार्थी शिविर समेत अन्य क्षेत्रों में इजरायली बमबारी से कई लोगों के हताहत होने की खबर है।

Latest articles

मरियम नवाज बनी पाकिस्तान पंजाब प्रान्त की पहली महिला मुख्यमंत्री 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री  नवाज शरीफ की बेटी मरयम नवाज पाकिस्तान के पंजाब...

तमिलनाडु के दो दिवसीय दौरे पर पीएम मोदी , इसरो के दूसरे स्पेसपोर्ट की रखेंगे आधारशिला

न्यूज़ डेस्क पीएम मोदी मंगलवार से तमिलनाडु के दो दिवसीय दौरे पर रहेंगे। जानकारी के...

झारखंड में कांग्रेस को  बड़ा झटका ,सांसद गीता कोड़ा बीजेपी में हुई शामिल 

न्यूज़ डेस्क झारखंड में आज कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। कांग्रेस की सांसद गीता...

आखिर जयंत चौधरी ने क्यों कहा कि अभी एनडीए में शामिल होने की औपचारिक घोषणा नहीं !

न्यूज़ डेस्क रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी क बयान आया है कि अभी एनडीए के...

More like this

मरियम नवाज बनी पाकिस्तान पंजाब प्रान्त की पहली महिला मुख्यमंत्री 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री  नवाज शरीफ की बेटी मरयम नवाज पाकिस्तान के पंजाब...

तमिलनाडु के दो दिवसीय दौरे पर पीएम मोदी , इसरो के दूसरे स्पेसपोर्ट की रखेंगे आधारशिला

न्यूज़ डेस्क पीएम मोदी मंगलवार से तमिलनाडु के दो दिवसीय दौरे पर रहेंगे। जानकारी के...

झारखंड में कांग्रेस को  बड़ा झटका ,सांसद गीता कोड़ा बीजेपी में हुई शामिल 

न्यूज़ डेस्क झारखंड में आज कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। कांग्रेस की सांसद गीता...