Homeदेशप्रधानमंत्री मोदी की कन्याकुमारी में ध्यान साधना का दूसरा दिन, राजनीति शुरू

प्रधानमंत्री मोदी की कन्याकुमारी में ध्यान साधना का दूसरा दिन, राजनीति शुरू

Published on

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बनने से पूर्व जब 2014 में बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में लोकसभा चुनाव लड़ा था तब भी नरेंद्र मोदी चुनाव की समाप्ति पर साधना करने गए थे।इसके बाद 2019 ईस्वी के लोकसभा चुनाव के बाद भी उन्होंने साधना की थी और अब 2024 में भी साधना कर रहे हैं।लेकिन इस बार प्रधानमंत्री द्वारा कन्याकुमारी जाकर विवेकानंद शिला पर ध्यान कर रहे हैं तो उसे लेकर राजनीति शुरू हो गई है।कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे तो उसे नौटंकी बता रहे हैं ।साथ ही विपक्षी राजनीतिक दलों द्वारा चुनाव आचार संहिता उल्लंघन को लेकर चुनाव आयोग से शिकायत भी की है।गौरतलब है कि का प्रचार अभियान खत्म होने के बाद पीएम मोदी तमिलनाडु के कन्याकुमारी में 45 घंटे की मौन साधना में लीन हैं।आज यानी शुक्रवार को उनके ध्यान साधना का दूसरा दिन है।पीएम ने सूर्य को अर्घ्य देकर अपनी साधना की शुरूआत की।

पहले भी नरेंद्र मोदी चुनाव के बाद साधना में जाते रहे हैं

गौरतलब है कि पीएम मोदी की यह साधना 1 जून की शाम को खत्म होगी।इससे पहले साल 2014 और 2019 का चुनाव खत्म होने के बाद भी पीएम मोदी ध्यान साधना में गये थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में प्रतापगढ़ में ध्यान लगाया था, जबकि, 2019 लोकसभा चुनाव में प्रचार के बाद उन्होंने केदारनाथ गुफा में इसी तरह ध्यान लगाया था।

विपक्ष ने पीएम मोदी की साधना पर साधा निशाना

एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार से ही कन्याकुमारी के उस विवेकानंद रॉक पर ध्यान कर रहे हैं,जहा कभी पूर्व में स्वामी विवेकानंद ध्यान लगाया करते थे।वहीं विपक्ष इसे बीजेपी का चुनावी हथकंडा बता रहा है।विपक्ष ने चुनाव आयोग से इसकी मीडिया कवरेज पर रोक लगाने की मांग भी की थी।वहीं, कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने पीएम मोदी के ध्यान को नौटंकी कहा है।

पीएम मोदी ने दिया विवेकानंद रॉक मेमोरियल में सूर्य अर्घ्य

गौरतलब है कि पीएम नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को विवेकानंद रॉक मेमोरियल में सूर्योदय के दौरान सूर्य को अर्घ्य दिया। प्रधानमंत्री ने हाथ जोड़कर प्रणाम करने के बाद सूर्य कोअर्घ्य दिया। सूर्य कोअर्घ्य देना आध्यात्मिक अभ्यास से जुड़ी एक परंपरा है, जिसमें भगवान सूर्य को जल अर्पित कर उन्हें नमन किया जाता है। भारतीय जनता पार्टी ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक संक्षिप्त वीडियो पोस्ट किया, जिसमें प्रधानमंत्री एक लोटे से समुद्र में सूर्य को जल अर्पित करते और माला जपते नजर आ रहे हैं।पार्टी ने पोस्ट में कहा कि सूर्योदय, सूर्य अर्घ्य, आध्यात्मिकता। बीजेपी की ओर से प्रधानमंत्री मोदी की कुछ तस्वीरें भी सोशल मिडिया में पोस्ट की गई है,जिसमें वह भगवा कुर्ता, शॉल और धोती पहने हुए ध्यान मंडपम में ध्यान में लीन दिखाई दे रहे हैं।

भगवती अम्मन की पूजा से शुरुआत की इस साधना की

पीएम नरेंद्र मोदी तिरुवनंतपुरम से हेलीकॉप्टर के जरिये कन्याकुमारी पहुंचे।इसके बाद पीएम मोदी ने भगवती अम्मन मंदिर में पूजा की और वहां से रॉक मेमोरियल पहुंचकर ध्यान लगाना शुरू किया।प्रधानमंत्री की ध्यान साधना एक जून तक चलेगी।धोती और सफेद शॉल ओढ़े मोदी ने मंदिर में पूजा-अर्चना की और गर्भगृह की परिक्रमा की। पुजारियों ने एक विशेष आरती की और उन्हें मंदिर का प्रसाद दिया गया जिसमें एक शॉल और मंदिर के देवता की फ्रेम युक्त तस्वीर शामिल थी।बाद में, वह राज्य सरकार के जहाजरानी निगम द्वारा संचालित नौका सेवा के जरिये रॉक मेमोरियल पहुंचे और ‘ध्यानमंडपम’ में ध्यान लगाना शुरू किया।

कन्याकुमारी में 45 घंटा बिताएंगे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री मोदी कन्याकुमारी में 45 घंटे बिताएंगे।वहीं पीएम मोदी की ध्यान साधना को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। करीब 2000 जवानों को पूरे परिसर में तैनात किया गया है। गौरतलब है कि विवेकानंद के नाम पर बना यह स्मारक समुद्र के मध्य में स्थित है। लोकसभा चुनावों के लिए प्रचार अभियान के समापन के बाद पीएम मोदी स्वामी विवेकानंद को श्रद्धांजलि देने के लिए बनाए गए स्मारक रॉक मेमोरियल में ध्यान लगा रहे हैं।

Latest articles

बीजेपी से हितों की उम्मीद – दिवास्वप्न!

ऐसा देखा गया है कि भाजपा ने लगातार अन्य राजनीतिक दलों को विभाजित करने,...

आईएनएस सुनयना का एमसीजी डोर्नियर और मॉरीशस पुलिस बल ने किया जोरदार स्वागत !

न्यूज़ डेस्क भारत का आईएनएस सुनयना इन दिनों मॉरीशस पहुंचा हुआ है। समुद्र में लम्बी...

केन्द्रीय बजट 2024-25 के लिए सुझाव लेने हेतु वित्त मंत्रियों के साथ सीतारमण ने की बैठक 

न्यूज़ डेस्क केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज नई दिल्ली में...

जोधपुर में साम्प्रदायिक हिंसा ,हिरासत में लिए गए 40 लोग 

न्यूज़ डेस्क राजस्थान का जोधपुर अचानक हिंसाग्रस्त हो गया। दो समुदायों के बीच हिंसक झड़पे...

More like this

बीजेपी से हितों की उम्मीद – दिवास्वप्न!

ऐसा देखा गया है कि भाजपा ने लगातार अन्य राजनीतिक दलों को विभाजित करने,...

आईएनएस सुनयना का एमसीजी डोर्नियर और मॉरीशस पुलिस बल ने किया जोरदार स्वागत !

न्यूज़ डेस्क भारत का आईएनएस सुनयना इन दिनों मॉरीशस पहुंचा हुआ है। समुद्र में लम्बी...

केन्द्रीय बजट 2024-25 के लिए सुझाव लेने हेतु वित्त मंत्रियों के साथ सीतारमण ने की बैठक 

न्यूज़ डेस्क केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज नई दिल्ली में...