Homeदेश'इंटरनेट से हटाएं सुनवाई के वीडियो' दिल्ली हाईकोर्ट ने केजरीवाल की पत्नी...

‘इंटरनेट से हटाएं सुनवाई के वीडियो’ दिल्ली हाईकोर्ट ने केजरीवाल की पत्नी को जारी किया नोटिस

Published on

न्यूज डेस्क
दिल्ली हाईकोर्ट ने शराब घोटाले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से संबंधित अदालती कार्यवाही की वीडियो रिकॉर्डिंग को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से हटाने के आदेश दिया है। वीडियो में केजरीवाल ट्रायल कोर्ट कों संबोधित करते नजर आ रहे हैं। आबकारी घोटाले में ईडी द्वारा गिरफ्तार अरविंद केजरीवाल वीडियो में व्यक्तिगत रूप से अदालत को संबोधित करते हुए दिख रहे हैं।

न्यायमूर्ति नीना बंसल कृष्णा और न्यायमूर्ति अमित शर्मा की पीठ ने केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल और अन्य के खिलाफ वीडियो कांफ्रेसिंग नियमों का उल्लंघन करने के आरोप में एक जनहित याचिका पर नोटिस जारी किया। जनहित याचिकाअधिवक्ता भैभव सिंह ने दायर की है। उन्होंने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री की पत्नी और अन्य लोग जिसमें अक्षय मल्होत्रा,एक्स यूजर नागरिक इंडिया जीतेगा,प्रोमिला गुप्ता, विनीता जैन और डा.अरुणेश कुमार यादव ने दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा अधिसूचित वीडियो कॉफ्रेंसिंग नियमों का जानबूझकर उल्लंघन किया है। अदालत के कहा कि प्रथमदृष्टया अदालती कार्यवाही की रिकॉर्डिंग दिल्ली हाईकोर्ट वीडियो कॉफ्रेंसिंग नियम,2021 का उल्लंघन है और इसे सार्वजनिक डोमेन में रहने की अनुमति नहीं दी जा सकती। अदालत ने इंटरनेट मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स (पहले ट्विटर)मेटा (पहले फेसबुक),इंस्टाग्राम और यूट्यूब को आडियो व वीडियो रिकॉर्डिंग को तुरंत हटाने का निर्देश दिया है।

मेडिकल जांच में पत्नी की मौजूदगी की केजरीवाल की अर्जी पर सुनवायी टली

आबकारी घोटाले में आरोपित मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की चिकित्सा जांच के दौरान पत्नी सुनीता केजरीवाल की मौजूदगी को लेकर दायर अर्जी पर शनिवार को सुनवायी टल गयी है। राउज एवेन्यू कोर्ट अब 19 जून को सुनवाई करेगा। शनिवार को सुनवाई के दौरान जेल अधिकारियों की तरफ से कहा गया कि अदालत के मामले में जवाब दाखिल करने के आदेश की कॉपी शुक्रवार रात मिली है। जेल अधिकारियों ने अदालत से जवाब दाखिल करने के लिए कुछ और समय देने का अनुरोध किया है। अदालत ने जल अधिकारी के इस अनुरोध पर सुनवाई टाल दी। केजरीवाल ने अर्जी में कहा है कि उनकी मेडिकल की जांच के दौरान उनकी पत्नी सुनीता को वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिये उपस्थित रहने की अनुमति दी जाए।

Latest articles

बंगाल बीजेपी में सुवेंदु अधिकारी और अल्पसंख्यक मोर्चा अध्यक्ष के बीच वार – पलटवार

बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी की 'सबका साथ, सबका विकास' की...

बांग्लादेश के युवा आखिर किस तरह के आरक्षण का हिंसक विरोध कर रहे हैं ?

न्यूज़ डेस्कबांग्लादेश अचानक हिंसा की चपेट में आ गया है। इस बारे बांग्लादेश के...

पीएम मोदी कहा 2075 तक भारत अमेरिका को पछाड़ देगा !

न्यूज़ डेस्क प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश आर्थिक उन्नति और बुनियादी ढांचे के...

यूपी सरकार के कावड़ यात्रा मार्ग पर ढाबो के मालिकों के नेम प्लेट लगाने के आदेश से जयंत चौधरी हुए अलग 

न्यूज़ डेस्क कांवड़ यात्रा मार्ग पर होटलों और ढाबों पर उनके मालिकों के नेम प्लेट...

More like this

बंगाल बीजेपी में सुवेंदु अधिकारी और अल्पसंख्यक मोर्चा अध्यक्ष के बीच वार – पलटवार

बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी की 'सबका साथ, सबका विकास' की...

बांग्लादेश के युवा आखिर किस तरह के आरक्षण का हिंसक विरोध कर रहे हैं ?

न्यूज़ डेस्कबांग्लादेश अचानक हिंसा की चपेट में आ गया है। इस बारे बांग्लादेश के...

पीएम मोदी कहा 2075 तक भारत अमेरिका को पछाड़ देगा !

न्यूज़ डेस्क प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश आर्थिक उन्नति और बुनियादी ढांचे के...