Homeदेशहेट स्पीच मामले में आजम खां को रामपुर एमपी -एमएलए कोर्ट ने...

हेट स्पीच मामले में आजम खां को रामपुर एमपी -एमएलए कोर्ट ने किया बरी, सजा होने पर गई थी विधानसभा सदस्यता

Published on

बीरेंद्र कुमार झा

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और रामपुर के पूर्व विधायक आजम खां को कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। रामपुर की स्पेशल एमपी – एमएलए कोर्ट ने बुधवार को हेट स्पीच मामले में उन्हें बरी कर दिया। इस मामले में सजा के बाद आजम खां की विधानसभा सदस्यता रद्द हुई थी।

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान दिया था भड़काऊ भाषण

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान भड़काऊ भाषण देने के मामले में आजम खां को इस केस में 3 साल की सजा सुनाई गई थी। उन्होंने वहां चुनावी भाषण के दौरान रामपुर के तत्कालीन जिलाधिकारी के खिलाफ कथित तौर पर अमर्यादित टिप्पणी की थी। इसके बाद एफआईआर दर्ज की गई थी।

इसके बाद इस मामले में 3 साल की सजा के आधार पर आजम खां की विधानसभा सदस्यता रद्द कर दी गई थी। बाद में उन्हें बेटे अब्दुल्लाह आजम समेत छजलेट
केस में भी 2 साल की सजा सुनाई गई थी।अब भड़काऊ भाषण मामले में आजम खां को राहत मिलने के बाद उनके समर्थकों ने खुशी जाहिर की है।

हेट स्पीच मामले में आजम खां के बरी होने पर बीजेपी की प्रतिक्रिया

आजम खां को हेट स्पीच मामले में रामपुर की एमपी- एमएलए कोर्ट से बरी किए जाने पर रामपुर सदर से बीजेपी विधायक आकाश सक्सेना ने कहा कि कोर्ट जो निर्णय करता है,वह सही करता है। मामले में असंतुष्ट होने पर दोनों पक्षों को अपील करने का अधिकार है। अभियोजन पक्ष कोर्ट का फैसला पूरी तरह देखने के बाद अपना निर्णय करेगा।

बीजेपी प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने कहा कि वादी – प्रतिवादी को अपील के लिए आगे न्यायालय जाने का अधिकार है। लेकिन विधानसभा सदस्यता खत्म करने का जो सवाल है, उस पर नियम यही है कि सजा सुनाए जाने के बाद सीट खाली हो जाती है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी को इस बारे में नियम कानून पढ़ना चाहिए।इससे जुड़ा अध्यादेश पढ़ना चाहिए।

Latest articles

बांग्लादेश की हालत ख़राब ,अब तक 900 भारतीय लौटे भारत

न्यूज़ डेस्क बांग्लादेश में लगातार हो रही हिंसा के बीच पूरे देश में कर्फ्यू लगा...

जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कांग्रेस और बीजेपी आमने -सामने 

न्यूज़ डेस्क जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच आरोप -प्रत्यारोप शुरू हो...

दुकानदारका नाम अनिवार्य कर अकेले पड़े योगी,विपक्ष के साथ सत्ता पक्ष से भी उठे आवाज

उत्तर प्रदेश में कावड़ मार्ग पर लगने वाले दुकानों में दुकानदारों के नाम वाले...

बांग्लादेश में आरक्षण के विरोध में हिंसा जारी, 105 की मौत, सेना ने संभाली कमान

भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश में आरक्षण के खिलाफ सड़कों पर उतरे विद्यार्थियों और...

More like this

बांग्लादेश की हालत ख़राब ,अब तक 900 भारतीय लौटे भारत

न्यूज़ डेस्क बांग्लादेश में लगातार हो रही हिंसा के बीच पूरे देश में कर्फ्यू लगा...

जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कांग्रेस और बीजेपी आमने -सामने 

न्यूज़ डेस्क जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच आरोप -प्रत्यारोप शुरू हो...

दुकानदारका नाम अनिवार्य कर अकेले पड़े योगी,विपक्ष के साथ सत्ता पक्ष से भी उठे आवाज

उत्तर प्रदेश में कावड़ मार्ग पर लगने वाले दुकानों में दुकानदारों के नाम वाले...