Homeदेशरायबरेली से राहुल गांधी ने दाखिल क्या नामांकन का पर्चा, बीजेपी हुईहमलावर

रायबरेली से राहुल गांधी ने दाखिल क्या नामांकन का पर्चा, बीजेपी हुईहमलावर

Published on

लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की अमेठी और रायबरेली सीट पर काफी इंतजार के बाद आखिरकार कांग्रेस ने अपने उम्मीदवार घोषित कर दिए हैं ।इस कड़ी में रायबरेली लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी राहुल गांधी ने नामांकन पत्र भी दाखिल कर दिया है ।इस मौके पर राहुल गांधी के साथ उनकी मां सोनिया गांधी,कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिका अर्जुन खड़गे और कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी भी मौजूद रहे।रायबरेली की सीट से सोनिया गांधी पांच बार सांसद रह चुकी हैं।2019 में उन्होंने साफ कर दिया था कि वह उनका आखिरी चुनाव होगा।सोनिया गांधी संप्रति राज्यसभा की सांसद है।

राहुल गांधी ने रायबरेली से भरा पर्चा

गौरतलब है कि अमेठी और रायबरेली लोकसभा सीट को लेकर कांग्रेस ने नामांकन के अंतिम दिन से एक दिन पहले तक अपने पत्ते नहीं खोले थे।हालांकि बीजेपी समेत कई राजनीतिक दलों ने इन दोनों सीट से अपने प्रत्याशी के नाम की घोषणा पहले ही कर दी थी और अधिकांश प्रत्याशियों ने अपना नामांकन पत्र भी दाखिल कर दिया था। लेकिन कांग्रेस प्रत्याशी के नामों की घोषणा को लेकर नामांकन की अंतिम तिथि से एक दिन पहले तक मौन साधे रही। हालांकि शुक्रवार को अप्रत्याशित रूप से तमाम कयासों को धत्ता बताते हुए कांग्रेस ने न सिर्फ रायबरेली और अमेठी से राहुल गांधी और किशोरीलाल शर्मा को उम्मीदवार घोषित कर दिया, बल्कि राहुल गांधी और किशोरी लाल शर्मा ने शुक्रवार को ही अपना नामांकन पत्र भी दाखिल कर दिया।राहुल गांधी ने इस बार अमेठी की अपनी परंपरागत सीट को छोड़कर रायबरेली से अपने नामांकन का पर्चा भरा है।गौरतलब है कि रायबरेली में 3 मई ही नामांकन का अंतिम दिन है

कलेक्ट्रिएट पहुंच कर दाखिल किया नामांकन पत्र का पर्चा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को रायबरेली लोकसभा सीट के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। राहुल गांधी ने रायबरेली कलेक्ट्रेट पहुंचकर अपना नामांकन पत्र का पर्चा दाखिल किया। इस अवसर पर राहुल गांधी की मां और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी,कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे भी मौजूद थे।

लंबे समय से राहुल गांधी के परिवार की परंपरागत सीट रही है रायबरेली

रायबरेली लोकसभा सीट को राहुल गांधी के परिवार का परंपरागत सीट माना जाता है।यहां से पहले दो आम चुनाव में राहुल गांधी के दादा फिरोज गांधी विजयी हुए थे।रायबरेली निर्वाचन क्षेत्र में फिरोज गांधी द्वारा रखी गई मजबूत नीव को उनकी पत्नी और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जो राहुल गांधी की दादी थी, उन्होंने भी मजबूती प्रदान किया। वे यहां से 1967, 1971 और 1980 के चुनाव में इस सीट से विजयी रही थी।इसके बाद कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष और राहुल गांधी की मां सोनिया गांधी भी लगातार 2004 से लेकर 2024 ई रायबरेली की इस प्रतिष्ठित सीट से चुनाव जीतती रही है।हालांकि 2019 ई के चुनाव के दौरान ही उन्होंने उस चुनाव बाद के बाद प्रत्यक्ष चुनाव नहीं लड़ने की बात कही थी और 2024 के चुनाव में उन्होंने ऐसा ही किया। स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए इस बार वे यहां से चुनाव नहीं लड़कर राजस्थान से राज्यसभा की सांसद बनी।

बीजेपी उम्मीदवार ने भी  किया नामांकन

गौरतलब है की रायबरेली में नामांकन की अंतिम तिथि 3 मई के दिन राहुल गांधी के अलावा भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार दिनेश प्रताप सिंह ने भी अपना नामांकन दाखिल किया। गौरतलब है कि रायबरेली सीट पर 20 मई को मतदान होना है।

प्रधान मंत्री मोदी,अमित शाह और स्मृति ईरानी ने क्या कटाक्ष

राहुल गांधी के द्वारा इस बार अमेठी से चुनाव नहीं लड़कर रायबरेली से इंडिया गठबंधन के उम्मीदवार के रूप में अपना नामांकन दाखिल करने के बाद भारतीय जनता पार्टी राहुल गांधी पर हमलावर हो गई है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि मैंने तो पहले ही कह दिया था की वायनाड से कांग्रेस के शहजादा चुनाव हारेंगे और फिर दूसरी जगह पनाह ढूंढेंगे।अब यह दूसरी जगह यानी अमेठी भी नहीं गए और भाग कर रायबरेली में रास्ता तलाश रहे हैं।उन्होंने राहुल गांधी पर राहुल गांधी की शैली में ही तंज कसा जो राहुलगांधी अपनी भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कहते थे कि डरो मत, भागो मत। वही भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राहुल गांधी पर बड़ा कटाक्ष किया है।उन्होंने कहा की राहुल गांधी रायबरेली से भी चुनाव हारेंगे।बीजेपी के अमेठी से सांसद और प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने भी राहुल गांधी पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि अमेठी से चुनाव ना लड़कर राहुल गांधी और कांग्रेस ने इलेक्शन के पहले ही हार मान ली है।गौरतलब है कि वर्ष 2019 के चुनाव में अमेठी सीट से स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को चुनाव में हरा दिया था।

Latest articles

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...

पंजाब के मतदाताओं के नाम आखिर मनमोहन सिंह ने क्यों लिखा पत्र ?

न्यूज़ डेस्क पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने पंजाब के मतदाताओं के नाम एक...

More like this

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...