Homeदेशप्रज्वल रेवन्ना ने वीडियो मैसेज कर 31 मई को एसआईटी के सामने...

प्रज्वल रेवन्ना ने वीडियो मैसेज कर 31 मई को एसआईटी के सामने आने की बात कही

Published on

यौन शोषण के आरोपों का सामना कर रहे जेडीएस से निलंबित सांसद प्रज्वल रेवन्ना के विदेश जाने के बाद विपक्ष ने रेवन्ना को लेकर न सिर्फ जेडीएस और इसके नेताओं को घेरना शुरू किया,बल्कि बीजेपी यहां तक पीएम मोदी पर भी लांछन लगाना शुरू कर दिया।चुनाव पर इसके प्रभाव को देखते हुए पूर्व प्रधानमंत्री देवगौड़ा तक ने रेवन्ना को देश वापस लौटकर सरेंडर करने या फिर उनके क्रोध के परिणाम भुगतने तक की बात कह दी। इसके बाद अब रेवन्ना ने वीडियो मैसेज कर भारत लौटने और 31 मई को विशेष जांच दल (एसआईटी) के सामने पेश होने की बात कही।हालांकि इस मामले पर जेडीएस या निलंबित पार्टी सांसद के परिवार की ओर से तत्काल कोई पुष्टि नहीं की गई है।

मेरे खिलाफ रची गई साजिश

जेडीएस सांसद प्रज्वल रेवन्ना ने एक वीडियो संदेश जारी करते हुए कहा, कि जब 26 अप्रैल को चुनाव हुए तो मेरे खिलाफ कोई मामला नहीं था और कोई एसआईटी नहीं बनी थी।मेरी विदेश यात्रा पूर्व नियोजित थी। मुझे आरोपों के बारे में तब पता चला जब मैं अपनी यात्रा पर था। राहुल गांधी और कई अन्य कांग्रेस नेताओं ने इसके बारे में और मेरे खिलाफ बात करना शुरू कर दिया और मेरे खिलाफ एक राजनीतिक साजिश रची गई। शुक्रवार 31 मई को सुबह 10 बजे मैं एसआईटी के सामने पेश होकर जांच से जुड़ी सारी जानकारी दूंगा।मैं जांच का समर्थन करूंगा। मुझे न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है।

प्रज्वल रेवन्ना के वीडियो मैसेज में और क्या है

प्रज्वल रेवन्ना ने अपने मैसेज की शुरुआत में कहा कि सभी को नमस्कार, सबसे पहले मेरे माता-पिता, मेरे दादाजी, मेरे कुमार अन्ना, देश की जनता और जेडीएस के सभी कार्यकर्ताओं से मैं क्षमा मांगता हूं। मैं विदेश में हूं। मुझे उचित जानकारी नहीं दी गई, मैं यहां 26 तारीख को चुनाव होने पर सभी को जानकारी देने आया हूं।

26 अप्रैल को चुनाव होने तक किसी को मेरे ऊपर नहीं था शक

प्रज्वल रेवन्ना ने अपने मैसेज में आगे कहा कि 26 तारीख को जिस दिन चुनाव हुआ, उस दिन तक किसी को भी मेरे ऊपर कोई शक नहीं था। इस तरह का कोई मामला या घटना सामने नहीं आई थी और न हीं कोई एसआईटी गठित की गई थी। मेरी विदेश यात्रा पहले से ही तय थी तो ऐसे में मैं 3-4 दिन बाद विदेश यात्रा पर चला आया।जब मैंने यूट्यूब और न्यूज चैनल देखे तो मुझे इस घटना की जानकारी मिली।जब मुझे एसआईटी ने नोटिस भेजा तो वकील के जरिए इसका जवाब भेजा दिया है।

Latest articles

बीजेपी से हितों की उम्मीद – दिवास्वप्न!

ऐसा देखा गया है कि भाजपा ने लगातार अन्य राजनीतिक दलों को विभाजित करने,...

आईएनएस सुनयना का एमसीजी डोर्नियर और मॉरीशस पुलिस बल ने किया जोरदार स्वागत !

न्यूज़ डेस्क भारत का आईएनएस सुनयना इन दिनों मॉरीशस पहुंचा हुआ है। समुद्र में लम्बी...

केन्द्रीय बजट 2024-25 के लिए सुझाव लेने हेतु वित्त मंत्रियों के साथ सीतारमण ने की बैठक 

न्यूज़ डेस्क केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज नई दिल्ली में...

जोधपुर में साम्प्रदायिक हिंसा ,हिरासत में लिए गए 40 लोग 

न्यूज़ डेस्क राजस्थान का जोधपुर अचानक हिंसाग्रस्त हो गया। दो समुदायों के बीच हिंसक झड़पे...

More like this

बीजेपी से हितों की उम्मीद – दिवास्वप्न!

ऐसा देखा गया है कि भाजपा ने लगातार अन्य राजनीतिक दलों को विभाजित करने,...

आईएनएस सुनयना का एमसीजी डोर्नियर और मॉरीशस पुलिस बल ने किया जोरदार स्वागत !

न्यूज़ डेस्क भारत का आईएनएस सुनयना इन दिनों मॉरीशस पहुंचा हुआ है। समुद्र में लम्बी...

केन्द्रीय बजट 2024-25 के लिए सुझाव लेने हेतु वित्त मंत्रियों के साथ सीतारमण ने की बैठक 

न्यूज़ डेस्क केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज नई दिल्ली में...