Homeदेशमध्य प्रदेश से मिजोरम तक पांच राज्यों के चुनाव का खत्म होगा...

मध्य प्रदेश से मिजोरम तक पांच राज्यों के चुनाव का खत्म होगा इंतजार

Published on

 

बीरेंद्र कुमार झा
राजस्थान मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ तेलंगाना समेत पांच राज्यों की विधानसभा चुनाव के लिए कभी भी बिगुल बज सकता है। चुनाव आयोग की टीम गुरुवार को तेलंगाना में चुनाव पूर्व समीक्षा के लिए पहुंची थी। इसके बाद अब दिल्ली में शुक्रवार को मीटिंग बुलाई गई है।इसमें सभी पांच राज्यों में चुनावी तैयारी की समीक्षा की जाएगी। माना जा रहा है कि मीटिंग के बाद चुनाव आयोग कभी भी चुनाव की अधिघोषणा जारी कर सकता है।

नवंबर – दिसंबर में चुनाव, चुनाव परिणाम दिसंबर के दूसरे सप्ताह में

आयोग ने पर्यवेक्षकों की शुक्रवार को मीटिंग बुलाई है। चुनाव आयोग की ओर से तारीखों के ऐलान के साथ ही अधिसूचना लागू हो जाएगी। राजस्थान, मिजोरम,मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में चुनावी तैयारी का जायजा आयोग पहले ही ले चुका था।इसके बाद गुरुवार को आयोग की टीम हैदराबाद पहुंची थी और तेलंगाना में तैयारी को परखा था। नवंबर और दिसंबर में सभी पांच राज्यों में चुनाव होंगे और दिसंबर के दूसरे सप्ताह तक इसका रिजल्ट आ सकता है। मिजोरम में विधानसभा का कार्यकाल 17 दिसंबर को समाप्त हो रहा है। ऐसे में उससे पहले ही नतीजा का ऐलान किया जाएगा। राजस्थान, तेलंगाना, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश की विधानसभा का कार्यकाल अगले साल जनवरी में अलग-अलग तारीखों पर समाप्त हो रहा है, लेकिन मिजोरम की विधानसभा की कार्यकाल की तारीख को देखते हुए चुनावी नतीजे पहले ही घोषित होंगे। 2018 में भी दिसंबर के दूसरे सप्ताह में ही पांचों राज्यों के चुनावी नतीजे आए थे।तेलंगाना में भारत राष्ट्र समिति की सरकार है, जबकि मध्य प्रदेश में बीजेपी सत्ता में है, मिजोरम में मिजो नेशनल फ्रंट सत्ता पर काबिज है जबकि राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पार्टी सत्ता में है।

लोकसभा चुनाव का सेमीफाइनल माना जा रहा है विधानसभा का यह चुनाव

गौरतलब है कि 5 राज्यों में होनेवाले इस विधानसभा चुनाव को लोकसभा चुनाव के लिए सेमीफाइनल के तौर पर देखा जा रहा है। बिहार में हुई जातिगत जनगणना और विपक्ष की इंडिया गठबंधन के तौर पर एकजुट होने का जमीन पर कितना असर है,इसकी पुष्टि भी इन चुनाव से कुछ के नतीजे से हो जाएगी।इस चुनाव में कई नेताओं की साख भी दांव पर है, जो लंबे समय से राज्य में सरकार चला रहे हैं या अपनी पार्टियों का नेतृत्व कर रहे हैं। इन नेताओं में अशोक गहलोत, शिवराज सिंह चौहान,वसुंधरा राजे और के चंद्रशेखर राव शामिल हैं।

 

Latest articles

चरित्रहीन राजनीति में सब कुछ जायज ,अब बीजेपी के साथ हाथ मिलाने को बेकरार केसीआर !

अखिलेश अखिल नेताओं और राजनीति पर वैसे भी कोई यकीन नहीं करता क्योंकि राजनीति तो...

मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, पूर्व अग्निवीरों को सीआईएसएफ और बीएसएफ में छूट मिलेगी

18 वीं लोकसभा चुनाव में जिस आधार पर कांग्रेस और इंडिया गठबंधन के अन्य...

बहुत कहता है समुद्री पारिस्थितिकी पर चीन का श्वेत पत्र !

न्यूज़ डेस्क चीनी राज्य परिषद के सूचना कार्यालय ने संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर चीनी समुद्री...

केजरीवाल की याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा फैसला !

न्यूज़ डेस्क दिल्ली में कथित आबकारी नीति घोटाले से जुड़े धनशोधन मामले में प्रवर्तन निदेशालय...

More like this

चरित्रहीन राजनीति में सब कुछ जायज ,अब बीजेपी के साथ हाथ मिलाने को बेकरार केसीआर !

अखिलेश अखिल नेताओं और राजनीति पर वैसे भी कोई यकीन नहीं करता क्योंकि राजनीति तो...

मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, पूर्व अग्निवीरों को सीआईएसएफ और बीएसएफ में छूट मिलेगी

18 वीं लोकसभा चुनाव में जिस आधार पर कांग्रेस और इंडिया गठबंधन के अन्य...

बहुत कहता है समुद्री पारिस्थितिकी पर चीन का श्वेत पत्र !

न्यूज़ डेस्क चीनी राज्य परिषद के सूचना कार्यालय ने संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर चीनी समुद्री...