Homeदेश‘यूपी में का बा’ गाने वाली नेहा सिंह को UP पुलिस ने...

‘यूपी में का बा’ गाने वाली नेहा सिंह को UP पुलिस ने ​थमाया नोटिस, तीन दिन में देना होगा 7 सवालों के जवाब

Published on

न्यूज डेस्क
उत्तर प्रदेश की पुलिस ने ‘यूपी में का बा’ गीत गाने वाली नेहा राठौर को नोटिस भेजा है। यूपी पुलिस ने नेहा सिंह से तीन दिनों के अंदर नोटिस का जवाब मांगा है। अगर वह जवाब नहीं देती हैं तो उनके खिलाफ आईपीसी और सीआरपीसी की धाराओं के तहत कानूनी मामला दर्ज किया जा सकता है। नेहा सिंह पर अपने वीडियो के जरिए जनता के बीच नफरत भड़काने का आरोप है। उन्होंने हाल ही में कानपुर देहात की घटना पर ‘यूपी में का बा’ सीजन-2 गाया था।

कानपुर पुलिस ने नेहा राठौर को नोटिस देते हुए आरोप लगाया कि उन्होंने अपने गाने ‘यूपी में का बा’ के जरिए समाज में तनाव और वैमनस्य फैलाया। नेहा राठौर ने हाल ही में अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ‘यूपी में का बा’ का सीजन 2 शेयर किया है।

यूपी पुलिस ने मांगे इन सात सवालों के जवाब

  •  वीडियो में नेहा सिंह राठौर हैं या नहीं?
  •  अगर हां तो क्या वीडियो उनके द्वारा ही अपलोड किए गए थे?
  •  जिस यूट्यूब चैनल और ट्विटर अकाउंट से वीडियो शेयर किया गया वह उनका है या नहीं?
  • क्या वीडियो के बोल को खुद नेहा सिंह राठौर ने लिखा है?
  • अगर हां तो वह उनका समर्थन करती हैं?
  •  अगर उन्होंने गीत नहीं लिखे हैं, तो क्या गीतकार ने आपकी अनुमति ली है?
  •  क्या वह समाज पर वीडियो के प्रतिकूल प्रभाव से अवगत है?

इस बीच नेहा राठौर ने वह वीडियो भी ट्वीट किया है, जिसमें पुलिस उन्हें नोटिस देने पहुंची थी। इस दौरान उन्होंने पुलिस से पूछा भी कि आपको ऐसा करने के लिए कौन मजबूर कर रहा है।

नेहा राठौर को नोटिस पर समाजवादी सुप्रीमो अखिलेश यादव ने यूपी की योगी सरकार पर हमला करते हुए कहा, ‘ये नोटिस वाली सरकार है।’ अखिलेश यादव ने भी ‘यूपी में का बा…’ ट्वीट किया है। बता दें कि आज यानी बुधवार 22 फरवरी को उत्तर प्रदेश का बजट पेश हो रहा है।

 

Latest articles

ईवीएम वीवीपीएटी वोट वेरिफिकेशन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर फैसला रखा सुरक्षित

कुछ प्रश्नों पर चुनाव आयोग के अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने के बाद, सुप्रीम कोर्ट...

हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी और ईडी की कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष अदालत में दाखिल की एसएलपी

न्यूज़ डेस्क अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने सुप्रीम...

पीएम मोदी का वज्र प्रहार,कांग्रेस का पंजा आपसे आरक्षण और मेहनत की कमाई छीन लेगा

देश में प्रथम चरण के मतदान के बाद इंडिया गंठबंधन के नेताओं खासकर कांग्रेस...

बिहार के गोपालगंज में मतदान का बहिष्कार सुनकर हरकत में आया निर्वाचन विभाग !

न्यूज़ डेस्कबिहार के गोपालगंज के लोग अब मतदान का बहिष्कार करने की तैयारी में...

More like this

ईवीएम वीवीपीएटी वोट वेरिफिकेशन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर फैसला रखा सुरक्षित

कुछ प्रश्नों पर चुनाव आयोग के अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने के बाद, सुप्रीम कोर्ट...

हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी और ईडी की कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष अदालत में दाखिल की एसएलपी

न्यूज़ डेस्क अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने सुप्रीम...

पीएम मोदी का वज्र प्रहार,कांग्रेस का पंजा आपसे आरक्षण और मेहनत की कमाई छीन लेगा

देश में प्रथम चरण के मतदान के बाद इंडिया गंठबंधन के नेताओं खासकर कांग्रेस...