Homeदेशछत्तीसगढ़ के नारायणपुर में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ जारी ,अब...

छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ जारी ,अब तक दस नक्सली ढेर !

Published on

न्यूज़ डेस्क 

छत्तीसगढ़ में जवानों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ अभी भी जारी ही। यह मुठभेड़ सुबह से ही चल रहा है। सर्च पर नीलके पुलिस जवान पर पहले नक्सलियों ने गोली चलाई और फिर इसके बाद दोनों तरफ से गोलीबारी शुरू हो गई। बताया जा रहा है कि सुबह से ही फायरिंग रुक-रूककर हो रही है।

नारायणपुर–बीजापुर सीमा में जवानों और नक्सलियों के बीच दोनों और से जबरस्त गोलीबारी चल रही है। सूत्रों के मुताबिक, नक्सली आधुनिक हथियारों का इस्तेमाल कर जवानों पर गोली बरसा रहे है। माओवादियों के हमले का मुहतोड़ जवाब देते हुए सुरक्षाबल भी जमकर फायरिंग कर रहे है।जानकारी के मुताबिक इस मुठभेड़ में अभी तक दस नक्सलियों के मारे जाने की खबर है।

बता दें कि घोर नक्सल प्रभावित अबुझमाड़ इलाके में नक्सलियों के शीर्ष लीडरों के उपस्थिति की सूचना पर 3 जिलों की पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन लॉच किया था। इससे अबुझमाड़ इलाके में गुरुवार की सुबह सुरक्षा बल की संयुक्त टीम एवं नक्सलियों के बीच मुठभेड़ शुरू हुई है। इससे नक्सली रुक -रुककर फायरिंग कर रहे है। इससे सुरक्षा बल के जवान भी जवाबी कार्यवाही कर नक्सलियों को मुंहतोड़ जवाब दे रहे है।
 

जानकारी के अनुसार अबुझमाड़ इलाके नक्सलियों के शीर्ष लीडरों के उपस्थिति की सूचना पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन लॉच किया था। इसमें नारायणपुर, दंतेवाड़ा एवं बस्तर जिले से डीआरजी, बस्तर फाइटर एव एसटीएफ की संयुक्त टीमें सर्चिंग के लिए रवाना हुई थी।

इस सर्चिंग के दौरान नारायणपुर, दंतेवाड़ा एव बीजापुर जिले के सीमावर्ती क्षेत्र में गुरुवार की सुबह सुरक्षा बल एव नक्सलियों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई है। इसमें नक्सली रुक-रुककर फायरिंग कर रहे है। इससे सुरक्षा बल की टीम नक्सलियों के फायरिंग मुहतोड़ जवाब दे रही है। इस मुठभेड़ नक्सली घायल होने के साथ मारे जाने की आशंका व्यक्त की जा रही है।

नक्सलियों का खात्मा करने जवानों ने कार्रवाई तेज कर दी है। एक तरफ जो नक्सली आत्मसमर्पण करना चाहते है उनके लिए पुलिस अधिकारी बस्तर के इलाकों में जा-जाकर अभियान चला रहे है। पुलिस द्वारा अभियान चलाने से नक्सली प्रेरित होकर आत्मसमर्पण कर रहे है। वहीं कुछ आतंकी जंगलों में छिपकर उत्पात मचा रहे है। इन आतंकियों के लिए जवान घने जंगलों में सर्चिंग ऑपरेशन चला रहे है। बता दें कि 100 दिनों में जवानों ने मुठभेड़ में 105 आतंकियों को मार गिराया है।


बीते चार महीने में फोर्स ने अलग-अलग मुठभेड़ में 91 नक्सलियों को ढेर कर दिया है। जो यह बताता है कि फोर्स अब बस्तर में गियर बदल चुकी है। पिछले चार दशक में ऐसा पहली बार हुआ है जब इतनी बड़ी संख्या में नक्सली मारे गए हैं। बीते अप्रैल के महीने में ही 50 नक्सली मारे गए हैं।

समूचे बस्तर में फोर्स के जवानों का मनोबल भी इस वक्त काफी ऊंचा है। कांकेर जिले के माड़ इलाके में बीते महीने 16 तारीख को हुई मुठभेड़ में जवानों ने 29 नक्सलियों को जब मार गिराया तो इसे फोर्स की सबसे बड़ी सफलता बताया गया। नारायणपुर जिले में मंगलवार को हुई मुठभेड़ में भी जवानों ने बेहद सुनियोजित तरीके से 10 नक्सलियों को मारा।

बीते चार महीने में फोर्स ने अलग-अलग मुठभेड़ में 91 नक्सलियों को ढेर कर दिया है। जो यह बताता है कि फोर्स अब बस्तर में गियर बदल चुकी है। पिछले चार दशक में ऐसा पहली बार हुआ है जब इतनी बड़ी संख्या में नक्सली मारे गए हैं। बीते अप्रैल के महीने में ही 50 नक्सली मारे गए हैं।

Latest articles

क्या अध्यक्ष पद के बहाने टीडीपी और जेडीयू को भड़काकर कांग्रेस गिरा देगी मोदी सरकार

18वीं लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को भले ही बहुमत से 32 सीटें...

संजय राउत: एनडीए का स्पीकर नहीं बना तो जदयू और टीडीपी को तोड़ देगी बीजेपी !

न्यूज़ डेस्क मोदी की तीसरी बार सरकार तो बन गई लेकिन लोकसभा में स्पीकर को...

गंगा दशहरा के दिन पटना के बाढ़ में पलटी नाव, लापता लोगों को खोज रही एसडीआरएफ की टीम

बिहार में अक्सर हर पर्व के अवसर पर कहीं न कहीं नदी में लोगों...

बनारस में गंगा दशहरा के अवसर पर हजारो लोगों ने लगाई आस्था की डुबकी !

न्यूज़ डेस्क कशी के पवित्र घाट पर गंगा दशहरा के अवसर पर आज हजारों लोगों...

More like this

क्या अध्यक्ष पद के बहाने टीडीपी और जेडीयू को भड़काकर कांग्रेस गिरा देगी मोदी सरकार

18वीं लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को भले ही बहुमत से 32 सीटें...

संजय राउत: एनडीए का स्पीकर नहीं बना तो जदयू और टीडीपी को तोड़ देगी बीजेपी !

न्यूज़ डेस्क मोदी की तीसरी बार सरकार तो बन गई लेकिन लोकसभा में स्पीकर को...

गंगा दशहरा के दिन पटना के बाढ़ में पलटी नाव, लापता लोगों को खोज रही एसडीआरएफ की टीम

बिहार में अक्सर हर पर्व के अवसर पर कहीं न कहीं नदी में लोगों...