Homeदेशचुनावी बांड केस : सुप्रीम कोर्ट में आज होगी अहम सुनवाई 

चुनावी बांड केस : सुप्रीम कोर्ट में आज होगी अहम सुनवाई 

Published on

न्यूज़ डेस्क 
चुनावी बांड मामले में आज सुप्रीम कोर्ट में अहम सुनवाई होने जा रही है। सुप्रीम कोर्ट के पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ भारतीय स्टेट बैंक की उस अर्जी पर सुनवाई करेगी जिसमें राजनीतिक दलों द्वारा नकदी में परिवर्तित किये गए प्रत्येक चुनावी बॉन्ड के विवरण का खुलासा करने के लिए समयसीमा 30 जून तक बढ़ाने का अनुरोध किया गया है।

प्रधान न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली पीठ एक अलग याचिका पर भी सुनवाई करेगी, जिसमें एसबीआई के खिलाफ अवमानना कार्यवाही शुरू करने का अनुरोध किया गया है। इस याचिका में आरोप लगाया गया है कि एसबीआई ने चुनावी बॉन्ड के जरिये राजनीतिक दलों को मिले चंदे का विवरण निर्वाचन आयोग को 6 मार्च तक सौंपे जाने संबंधी कोर्ट के निर्देश की ‘‘जानबूझकर’’ अवज्ञा की।

शीर्ष अदालत में एक अलग याचिका दायर कर अनुरोध किया गया है कि, न्यायालय के निर्देशों की कथित अवज्ञा को लेकर एसबीआई के खिलाफ अवमानना कार्यवाही शुरू की जाए।

 गैर सरकारी संगठनों एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स तथा कॉमन काउज द्वारा दायर याचिका में दावा किया गया है कि समय दिए जाने के अनुरोध वाली एसबीआई की अर्जी अंतिम क्षणों में जानबूझ कर दायर की गई, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि चंदा देने वालों और चंदे की रकम का खुलासा लोकसभा चुनावों से पहले नहीं हो। याचिका में कहा गया है, ‘‘यह इस न्यायालय के प्राधिकार को कमतर करने की एक स्पष्ट कोशिश है।’’

अवमानना याचिका में कहा गया है कि चुनावी बॉन्ड योजना की धारा सात के अनुसार, क्रेता (बॉन्ड खरीदने वालों) द्वारा दी गई सूचना का खुलासा सक्षम अदालत द्वारा मांगे जाने पर किया जा सकता है। याचिका में कहा गया है कि चुनावी बॉन्ड का पूरी तरह से पता लगाया जा सकता है जो इस तथ्य से जाहिर है कि एसबीआई, बॉन्ड खरीदने वालों और चंदा प्राप्त करने वाले दलों का ‘संख्या आधारित रिकॉर्ड’ रखता है।

अवमानना याचिका में कहा गया है कि राजनीतिक दलों के वित्त पोषण को किसी भी तरह से गोपनीय रखना सहभागिता वाले लोकतंत्र की भावना और संविधान के अनुच्छेद 19(1)(ए) के खिलाफ है।

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने 15 फरवरी को एक ऐतिहासिक फैसले में, चुनावी बॉन्ड योजना को रद्द कर दिया था और इसे ‘‘असंवैधानिक’’ करार देते हुए निर्वाचन आयोग को चंदा देने वालों, चंदे के रूप में दी गई राशि और प्राप्तकर्ताओं का 13 मार्च तक खुलासा करने का आदेश दिया था।

Latest articles

कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की आज फिर पीएम मोदी की शिकायत

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस ने आज फिर से  निर्वाचन आयोग से प्रधानमंत्री मोदी की शिकायत की...

अरविंद केजरीवाल को बड़ा झटका, इंसुलिन की मांग व डॉक्टर से परामर्श वाली याचिका खारिज

इन दिनों जब से अरविन्द केजरीवाल ईडी के हाथों गिरफ्तार होकर पहले ईडी के...

रामलला का दर्शन कर निहाल हुए 30 देशों के रामभक्त

न्यूज़ डेस्क  अयोध्या में राम लला का दर्शन कर आज दुनिया के 30 देशों के लोग...

कांग्रेस आपके मंगल सूत्र को भी नहीं छोड़ेंगे,अलीगढ़ में गरजे पीएम मोदी

प्रथम चरण के मतदान की समाप्ति के बाद अब द्वितीय चरण के मतदान के...

More like this

कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की आज फिर पीएम मोदी की शिकायत

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस ने आज फिर से  निर्वाचन आयोग से प्रधानमंत्री मोदी की शिकायत की...

अरविंद केजरीवाल को बड़ा झटका, इंसुलिन की मांग व डॉक्टर से परामर्श वाली याचिका खारिज

इन दिनों जब से अरविन्द केजरीवाल ईडी के हाथों गिरफ्तार होकर पहले ईडी के...

रामलला का दर्शन कर निहाल हुए 30 देशों के रामभक्त

न्यूज़ डेस्क  अयोध्या में राम लला का दर्शन कर आज दुनिया के 30 देशों के लोग...