Homeदेशनरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में देश ही नही,विदेशों के शीर्ष...

नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में देश ही नही,विदेशों के शीर्ष नेता भी करेंगे शिरकत

Published on

लोकसभा चुनाव 2024 के परिणाम के अनुसार भले ही इस बार हुए लोकसभा चुनाव 2024 में बीजेपी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है,लेकिन नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाले एनडीए गंठबंधन को देश के मतदाताओं ने स्पष्ट बहुमत जरूर दिया है।इसके बाद एनडीए के घटक दलों ने भी नरेंद्र मोदी को अपना प्रधान मंत्री पद का चेहरा चुना है। इससे यह साफ हो चुका है कि देश में एक बार फिर मोदी सरकार बनने जा रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार 8 जून को नरेंद्र मोदी लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री प⁴द के लिए शपथ लेंगे। सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार,नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री के लिए होने वाले शपथ ग्रहण समारोह में श्रीलंका और बांग्लादेश सहित कई पड़ोसी देशों के नेताओं को भी आमंत्रित किया गया है।

अमेरिका ने मोदी के तीसरे कार्यकाल पर दी प्रतिक्रिया

अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता मैथ्यू मिलर ने मोदी सरकार के तीसरे कार्यकाल को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि हम भारत की जनता के लोगों की इच्छा का सम्मान करते हैं, जिन्होंने एक बार फिर नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार को चुना है। मैं कहूंगा कि हम प्रधानमंत्री मोदी के साथ अपना काम जारी रखेंगे।उन्होंने आगे कहा कि राष्ट्रपति जो बाईडेन के पदभार ग्रहण करने के बाद से मोदी सरकार के साथ हमारा सहयोगपूर्ण रवैया रहा है।

शपथ ग्रहण में इन देशों के नेताओं को किया गया आमंत्रित

गौरतलब है कि बीजेपी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन यानि एनडीए द्वारा लोकसभा चुनावों में 292 सीट जीतने के बाद नरेंद्र मोदी लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री के रूप में कार्यभार संभालते नजर आएंगे।सूत्रों के हवाले से प्राप्त जानकारी के अनुसार मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किए जाने वाले विदेशी नेताओं में बांग्लादेश, श्रीलंका, भूटान के अलावा नेपाल और मॉरीशस के शीर्ष नेता शामिल हैं।श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे के कार्यालय के मीडिया प्रभाग की ओर से जानकारी दी गई है कि नरेंद्र मोदी ने उन्हें शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया है. खबर है कि मोदी ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना से भी फोन पर बात की है।

बीजेपी को अपने दम पर नहीं मिला बहुमत

गौरतलब है कि देश में सात चारणों में कराए गए चुनाव के बाद बीजेपी को 240 सीटों पर ही जीत मिल पाई जो बहुमत के लिए जरूरी 272 के आंकड़े से 32 कम है, यानि इसे अपने दम पर बहुमत नहीं मिल सका, लेकिन पार्टी के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन को 543 में से 292 सीटों पर जीत हासिल की ,जो बहुमत के जादुई आंकड़ा 272 से 20 अधिक है।  नरेंद्र मोदी एनडीए के नेता के रूप में पीएम पद का सपथ लेंगे।इससे इतर दूसरी तरफ विपक्षी इंडिया गठबंधन के घटक दलों का इस बार का प्रदर्शन भी पिछले चुनाव से काफी अच्छा है जिसके बाद उनके हौसले भी काफी बुलंद हैं।

Latest articles

क्या अध्यक्ष पद के बहाने टीडीपी और जेडीयू को भड़काकर कांग्रेस गिरा देगी मोदी सरकार

18वीं लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को भले ही बहुमत से 32 सीटें...

संजय राउत: एनडीए का स्पीकर नहीं बना तो जदयू और टीडीपी को तोड़ देगी बीजेपी !

न्यूज़ डेस्क मोदी की तीसरी बार सरकार तो बन गई लेकिन लोकसभा में स्पीकर को...

गंगा दशहरा के दिन पटना के बाढ़ में पलटी नाव, लापता लोगों को खोज रही एसडीआरएफ की टीम

बिहार में अक्सर हर पर्व के अवसर पर कहीं न कहीं नदी में लोगों...

बनारस में गंगा दशहरा के अवसर पर हजारो लोगों ने लगाई आस्था की डुबकी !

न्यूज़ डेस्क कशी के पवित्र घाट पर गंगा दशहरा के अवसर पर आज हजारों लोगों...

More like this

क्या अध्यक्ष पद के बहाने टीडीपी और जेडीयू को भड़काकर कांग्रेस गिरा देगी मोदी सरकार

18वीं लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को भले ही बहुमत से 32 सीटें...

संजय राउत: एनडीए का स्पीकर नहीं बना तो जदयू और टीडीपी को तोड़ देगी बीजेपी !

न्यूज़ डेस्क मोदी की तीसरी बार सरकार तो बन गई लेकिन लोकसभा में स्पीकर को...

गंगा दशहरा के दिन पटना के बाढ़ में पलटी नाव, लापता लोगों को खोज रही एसडीआरएफ की टीम

बिहार में अक्सर हर पर्व के अवसर पर कहीं न कहीं नदी में लोगों...