Homeदेशछिटपुट हिंसा के बीच,चौथे चरण के मतदान में बंगाल में मतदान सर्वाधिक,जे&के में सबसे कम

छिटपुट हिंसा के बीच,चौथे चरण के मतदान में बंगाल में मतदान सर्वाधिक,जे&के में सबसे कम

Published on

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण का मतदान संपन्न हो गया है। सोमवार को 10 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की 96 लोकसभा सीटों पर मतदाताओं ने अपने जनप्रतिनिधि चुनने के लिए मतदान किया।चुनाव आयोग की रिपोर्ट के मुताबिक चौथे चरण के चुनाव में बंगाल में सबसे ज्यादा वोटिंग दर्ज की गई।यहां करीब 76 फीसदी मतदान हुआ, जबकि सबसे कम वोटिंग जम्मू-कश्मीर में हुई। यहां 36.88 फीसदी मतदान दर्ज किया गया।पश्चिम बंगाल के बाद सबसे ज्यादा वोटिंग मध्य प्रदेश में हुई।यहां 69.16 फीसदी वोटिंग हुई।

चौथे चरण के चुनाव में कहां कितनी हुई वोटिंग

आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में हिंसा की घटनाओं और उत्तर प्रदेश के कुछ गांवों में चुनावों के बहिष्कार की खबरों के बीच लोकसभा चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो गया। 96 लोकसभा सीट में से बंगाल में 76 %आंध्र प्रदेश में 68.20 %, बिहार में 55.92 %, झारखंड में 64.30 %, मध्य प्रदेश में 69.16 %, महाराष्ट्र में 52.93 %, ओडिशा में 64.23 %, तेलंगाना में 61.59 % और उत्तर प्रदेश में 58.02 % मतदाताओं ने वोट डाला।

माधवी लता पर पुलिस ने दर्ज किया मामला

एक वीडियो क्लिप सामने आने के बाद चुनाव अधिकारियों ने तेलंगाना की हैदराबाद लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार माधवी लता के खिलाफ मामला दर्ज किया है।वीडियो में माधवी लता बुर्का पहने महिला मतदाताओं से कथित तौर पर चेहरा दिखाने के लिए कह रही थीं।वहीं, आंध्र प्रदेश में, तेलुगु देशम पार्टी और वाईएसआरसीपी ने खासकर पलनाडु, कडप्पा और अन्नामय्या जिलों में एक-दूसरे पर हिंसा के आरोप लगाये।वाईएसआरसीपी ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर प्रतिद्वंद्वी टीडीपी पर वेमुरु, दारसी, इच्छापुरम, कुप्पम, माचेरला, मार्कापुरम, पालकोंडा और पेदाकुरापौडु समेत कई विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप लगाया। आंध्र प्रदेश की 175 विधानसभा और 25 लोकसभा सीट के लिए एक साथ मतदान हुआ।

यूपी में वोट बहिष्कार

उत्तर प्रदेश में सड़कों और विकास कार्यों के अभाव को लेकर विरोध दर्ज कराते हुए शाहजहांपुर के कुछ गांवों में लोगों ने मतदान का बहिष्कार किया। पश्चिम बंगाल के आठ संसदीय क्षेत्रों में लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में हिंसा की छिटपुट घटनाओं के कारण बीरभूम और बर्धमान-दुर्गापुर लोकसभा सीट के अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों में टीएमसी और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई। निर्वाचन आयोग ने कहा कि उसे अब तक विभिन्न राजनीतिक दलों से 1,088 शिकायतें प्राप्त हुईं हैं, जिनमें ईवीएम में खराबी और कार्यकर्ताओं को बूथ में प्रवेश करने से रोकने का आरोप लगाया गया है।

बीजेपी और टीएमसी कार्यकर्ताओं में हुई भिड़ंत

लोकसभा के चुनाव के चौथे चरण में बंगाल के बीरभूम लोकसभा सीट के अंतर्गत नानूर में बीजेपी के पोलिंग एजेंटों को कथित तौर पर बूथ में प्रवेश करने से रोके जाने के बाद बीजेपी कार्यकर्ता टीएमसी कार्यकर्ताओं से भिड़ गए।कृष्णानगर निर्वाचन क्षेत्र के छपरा इलाके में भी तनाव व्याप्त हो गया, क्योंकि कथित तौर पर टीएमसी कार्यकर्ताओं ने बीजेपी कार्यकर्ताओं की पिटाई की।बीजेपी प्रत्याशी अमृता राय दो घायलों के साथ छपरा थाने पहुंचीं।टीएमसी ने आरोपों से इनकार किया है। सूत्रों ने बताया कि टीएमसी, बीजेपी और कांग्रेस-माकपा गठबंधन ने मतदान के पहले कुछ घंटों में चुनावी हिंसा, मतदाताओं को डराने-धमकाने और चुनाव एजेंटों पर हमले की अलग-अलग शिकायतें दर्ज कराईं।

ओडिशा में दो मतदान अधिकारी निलंबित

ओडिशा में भी कई जगहों पर ईवीएम में गड़बड़ी की खबरें आईं। एक अधिकारी ने बताया कि 65 बैलट यूनिट (बीयू), 83 कंट्रोल यूनिट (सीयू) और 110 वीवीपैट को बदला गया। अधिकतर यूनिट को सुबह सात बजे वास्तविक मतदान से पहले, अभ्यास के दौरान ही बदल दिया गया। मुख्य निर्वाचन अधिकारी निकुंज बिहारी धल ने बताया कि आयोग ने ओडिशा में दो मतदान अधिकारियों को ड्यूटी में लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित कर दिया है। इधर, झारखंड में माओवादियों ने एक पेड़ गिराकर पश्चिमी सिंहभूम जिले के सुदूर सोनापी और मोरंगपोंगा इलाकों की ओर जाने वाली सड़क को अवरुद्ध कर मतदान केंद्रों तक मतदाताओं की पहुंच को बाधित करने का प्रयास किया, जिसे सुरक्षा बलों ने विफल कर दिया।

जम्मू- कश्मीर में मतदान शांतिपूर्ण

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में 1 सीट श्रीनगर में मतदान शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हो गया।सोमवार को संपन्न हुए मतदान में आम मतदाताओं के साथ अब्दुल्ला परिवार की 3 पीढ़ियों ने भी मतदान किया। जम्मू कश्मीर में मात्र 36. 88% मतदान ही दर्ज किया गया, लेकिन जम्मू कश्मीर की स्थिति को देखते हुए इस मतदान प्रतिशत को भी बेहतर माना जा रहा है।

543 लोकसभा सीटों में 379 सीटों पर संपन्न हुआ मतदान

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में तेलंगाना की सभी 17 लोकसभा सीट, आंध्र प्रदेश की 25, उत्तर प्रदेश की 13, बिहार की पांच, झारखंड की चार, मध्य प्रदेश की आठ, महाराष्ट्र की 11, ओडिशा की चार, पश्चिम बंगाल की आठ और जम्मू-कश्मीर की एक सीट पर मतदान हुआ। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव के चौथे चरण तक 543 में से 379 सीटों पर मतदान संपन्न हो गया। देश में अगले तीन चरणों के लिए मतदान 20 मई, 25 मई और एक जून को होगा।मतगणना चार जून को होगी।

Latest articles

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...

पंजाब के मतदाताओं के नाम आखिर मनमोहन सिंह ने क्यों लिखा पत्र ?

न्यूज़ डेस्क पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने पंजाब के मतदाताओं के नाम एक...

More like this

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...