Homeदेशदिल्ली की मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का दिल्ली की जनता से भावुक अपील

दिल्ली की मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का दिल्ली की जनता से भावुक अपील

Published on

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को सुप्रीम कोर्ट से मेडिकल ग्राउंट पर अंतरिम जमानत नहीं मिलने के बाद अब अरविंद केजरीवाल को एक बार फिर से जेल जाना पड़ेगा।लेकिन जेल जाने से पूर्व अरविंद केजरीवाएल ने इसे लेकर भी अपनी राजनीति चमकाने के लिए दिल्ली की जनता के नाम एक विडियो जारी कर उनसे एक भावुक अपील की।

क्या कहा केजरीवाल ने अपने वीडियो में

अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता को संबोधित करने वाले अपने वीडियो संदेश में कहा, कि कोर्ट की ओर से मुझे चुनाव प्रचार करने के लिए 21 दिन की मोहलत दी गई थी।शनिवार को 21 दिन पूरे हो रहे हैं और रविवार को मुझे सरेंडर करना है।एक बार फिर मुझे तिहाड़ जेल जाना होगा। मुझे नहीं पता कि इस बार ये लोग मुझे कितने दिन जेल में रखेंगे। सीएम अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि मेरे हौसले बुलंद हैं और देश को तानाशाही से बचाने के लिए जेल जा रहा हूं। इन लोगों ने मुझे कई तरह से तोड़ने की कोशिश की मुझे झुकाने की कोशिश की, लेकिन ये सफल नहीं हो सके।इन्होंने जेल में मुझे बहुत प्रताड़ित किया। मैं 20 साल से शुगर का मरीज हूं।पिछले 10 साल से मुझे रोज इंसुलीन के इंजेक्शन लगते हैं। जेल में इन्होंने मेरे इंजेक्शन रोक दिए। मेरा शुगर लेबल 300 से ज्यादा पहुंच गया है। मेरी किडनी और लीवर खराब हो सकती है।पता नहीं ये लोग क्या चाहते थे?

पचास दिन में मेरा 6 किलो वजन कम हो गया

अरविंद केजरीवाल ने अपने वीडियो संदेश में कहा कि जेल में पचास दिनों में मेरा 6 किलो वजन कम हो गया।मेरा वजह 64 किलो हो गया है। जेल से बाहर आने के बाद भी मेरा वजन नहीं बढ़ रहा है।डॉक्टरों का कहना है कि यह शरीर में किसी बड़ी बीमारी का भी संकेत हो सकता है।रविवार को मैं सरेंडर करूंगा।सरेंडर करने के लिए में घर से करीब तीन बजे निकलूंगा। हो सकता है कि इस बार मुझे और प्रताड़ित किया जाए, लेकिन मैं झुकने वाला नहीं हूं। आप अपना ख्याल रखना।जेल में मुझे आपकी बहुत चिंता रहती है। मैं चाहे जहां रहूं,आपके काम नहीं रुकेंगे।

मेरे माता-पिता का ख्याल रखना

दिल्ली के सीएम ने आगे कहा कि मैंने बेटा बनकर दिल्लीवासियों की सेवा की है।अब आपलोग भी मेरा एक काम करना। मेरे माता-पिता बहुत बुजुर्ग हैं।आप उनका ख्याल रखना। मेरा मां बीमार रहती है, आप उनके लिए दुआ मांगना। दुआ में बहुत ताकत होती है। मेरी पत्नी मेरा हमेशा साथ देती रही है। मुश्किल वक्त में पूरा परिवार एक हो जाता है। आप लोगों ने भी मेरा साथ दिया है। मैं तानाशाही से लड़ रहा हूं।यदि मेरी जान भी चली जाए तो गम मत करना। उन्होंने कहा कि भगवान ने चाहा तो आपका ये बेटा जल्द वापस आएगा।

Latest articles

क्या अध्यक्ष पद के बहाने टीडीपी और जेडीयू को भड़काकर कांग्रेस गिरा देगी मोदी सरकार

18वीं लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को भले ही बहुमत से 32 सीटें...

संजय राउत: एनडीए का स्पीकर नहीं बना तो जदयू और टीडीपी को तोड़ देगी बीजेपी !

न्यूज़ डेस्क मोदी की तीसरी बार सरकार तो बन गई लेकिन लोकसभा में स्पीकर को...

गंगा दशहरा के दिन पटना के बाढ़ में पलटी नाव, लापता लोगों को खोज रही एसडीआरएफ की टीम

बिहार में अक्सर हर पर्व के अवसर पर कहीं न कहीं नदी में लोगों...

बनारस में गंगा दशहरा के अवसर पर हजारो लोगों ने लगाई आस्था की डुबकी !

न्यूज़ डेस्क कशी के पवित्र घाट पर गंगा दशहरा के अवसर पर आज हजारों लोगों...

More like this

क्या अध्यक्ष पद के बहाने टीडीपी और जेडीयू को भड़काकर कांग्रेस गिरा देगी मोदी सरकार

18वीं लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को भले ही बहुमत से 32 सीटें...

संजय राउत: एनडीए का स्पीकर नहीं बना तो जदयू और टीडीपी को तोड़ देगी बीजेपी !

न्यूज़ डेस्क मोदी की तीसरी बार सरकार तो बन गई लेकिन लोकसभा में स्पीकर को...

गंगा दशहरा के दिन पटना के बाढ़ में पलटी नाव, लापता लोगों को खोज रही एसडीआरएफ की टीम

बिहार में अक्सर हर पर्व के अवसर पर कहीं न कहीं नदी में लोगों...