Homeखेलकुश्ती महासंघ का कामकाज देखने के लिए सरकार ने बनाई स​मिति,मैरीकॉम बनाया...

कुश्ती महासंघ का कामकाज देखने के लिए सरकार ने बनाई स​मिति,मैरीकॉम बनाया गया अध्यक्ष

Published on

न्यूज डेस्क
भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ खिलाड़ियों के उत्पीड़न के आरोपों की जांच के लिए सरकार ने सोमवार को निगरानी सिमिति की घोषणा कर दी। दिग्गज मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम पांच सदस्यीय समिति की अध्यक्षता करेंगी। खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने सोमवार को खेल मंत्रालय की इस समिति की घोषणा की। उन्होंने बताया कि यह समिति एक महीने तक डब्ल्यूएफआई के रोजमर्रा के कामकाज को भी देखेगी। समिति के अन्य सदस्यों में ओलंपिक पदक विजेता पहलवान योगेश्वर दत्त, पूर्व बैड़मिंटन खिलाड़ी और मिशन ओलंपिक सेल की सदस्य तृप्ति मुरगुंडे,टॉप्स के पूर्व सीईओ राजगोपालन और भारतीय खेल प्राधिकरण साई के पूर्व कार्यकारी निदेशक राधिका श्रीमन शामिल हैं।

चार सप्ताह में रिपोर्ट देगी समिति

सरकार की समिति को चार सप्ताह में रिपोर्ट देनी है। इसके आधार पर कुश्ती संघ के अध्यक्ष का भविष्य तय होगा। यही समिति चार सप्ताह तक कुश्ती संघ के रोजाना के कार्यों को भी देखेगी। अनियमितताओं के आरोप में मंत्रालय संघ के सहायक सचिव विनोद तोमर को पहले ही निलंबित कर चुका है।

सभी पक्षों को सुनकर जांच रिपोर्ट सौंपेगी समिति

केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोमवार को कहा कि भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह अपने पद पर कार्य नहीं करेंगे,जब तक निरीक्षण समिति अपनी रिपोर्ट नहीं सौंप देती है। उन्होेंने कहा कि अध्यक्ष कुश्ती संघ के सभी कार्यों से दूर रहेंगे और निरीक्षण समिति संघ का कार्य देखेगी। यह समिति अध्यक्ष पर लगाये गए आरोपों की जांच भी करेगी। मैरीकॉम की अध्यक्षता में गठित पांच सदस्यीय समिति में पहलवान योगेश्वर दत्त, बैडमिंटन खिलाड़ी तृप्ति मुरुगुंडे, राजगोपालन और राधिका श्रीमान शामिल हैं। यह समिति आरोपों पर सभी पक्षों को सुनकर जांच करेगी और अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।

जंतर-मंतर पर पहलवानों ने दिया धरना

गौरतलब है कि जंतर-मंतर पर पहलवानों के धरने के बाद केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने शनिवार को समिति गठित करने का फैसला किया था। यौन शोषण और भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर विनेश फोगाट, बजरंग पूनिया,साक्षी मलिक समेत देश के अन्य पहलवान धरने पर बैठे थे।

Latest articles

ईवीएम वीवीपीएटी वोट वेरिफिकेशन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर फैसला रखा सुरक्षित

कुछ प्रश्नों पर चुनाव आयोग के अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने के बाद, सुप्रीम कोर्ट...

हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी और ईडी की कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष अदालत में दाखिल की एसएलपी

न्यूज़ डेस्क अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने सुप्रीम...

पीएम मोदी का वज्र प्रहार,कांग्रेस का पंजा आपसे आरक्षण और मेहनत की कमाई छीन लेगा

देश में प्रथम चरण के मतदान के बाद इंडिया गंठबंधन के नेताओं खासकर कांग्रेस...

बिहार के गोपालगंज में मतदान का बहिष्कार सुनकर हरकत में आया निर्वाचन विभाग !

न्यूज़ डेस्कबिहार के गोपालगंज के लोग अब मतदान का बहिष्कार करने की तैयारी में...

More like this

ईवीएम वीवीपीएटी वोट वेरिफिकेशन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर फैसला रखा सुरक्षित

कुछ प्रश्नों पर चुनाव आयोग के अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने के बाद, सुप्रीम कोर्ट...

हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी और ईडी की कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष अदालत में दाखिल की एसएलपी

न्यूज़ डेस्क अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने सुप्रीम...

पीएम मोदी का वज्र प्रहार,कांग्रेस का पंजा आपसे आरक्षण और मेहनत की कमाई छीन लेगा

देश में प्रथम चरण के मतदान के बाद इंडिया गंठबंधन के नेताओं खासकर कांग्रेस...