Homeदेशपहलवानों का धरना : उषा आई -- किसान आये --- मेनका ने की इंसाफ...

पहलवानों का धरना : उषा आई — किसान आये — मेनका ने की इंसाफ की मांग –लेकिन  बृजभूषण अड़े रहे 

Published on


अखिलेश अखिल 

महिला पहलवानों का धरना अनवरत जारी है। पिछले तीन दिनों से वर्षा हो रही है लेकिन धरना पर बैठे पहलवान डिगे नहीं। वर्षा में भीगते रहे और रात्रि जागरण भी करते रहे। ऊपर से वर्षा और धरती पर मच्छर का प्रकोप आखिर सोता कौन है ? पुलिस ने बिजली काट दी है। इंटरनेट काट दिया गया है। पानी की कोई सुविधा नहीं। कभी देश के आन -बान और शान कहलाते थे यही पहलवान लेकिन आज यौन शोषण के खिलाफ यहां 12 दिनों से बैठी है। सरकार कुछ नहीं सुन रही है। कभी पीएम मोदी ने इन महिला पहलवानों को गले लगाया था। लेकिन आज इन पहलवान महिलाओं की मांग को अनसुनी कर प्रधानमंत्री मोदी कर्नाटक में चुनाव प्रचार कर रहे हैं। देश के बाकी लोगों के लिए यह एक अन्याय है लेकिन बीजेपी वाले को इसमें कोई अन्याय नहीं दिख रहा। बजरंगबली के नाम की राजनीति गुजरात में गूंज रही है लेकिन जिस बजरंगबली ने मर्यादा पुरुषोत्तम राम की भार्या  माता सीता को खोजने लंका तक पहुँच गए और आतताई रावण का दंड तक दिया ,उस बजरंगबली की महिमा को न तो बीजेपी साध रही है और न ही हमारे प्रधानमंत्री।  
  धरना पर बैठी महिलाएं बार -बार पीएम मोदी से न्याय की गुहार लगा रही है लेकिन वे सुनते ही नहीं। राजनीति और सत्ता का नशा शायद इंसान को दम्भी बना देता है। आज यही सब देखने को मिलता दिख रहा है।बीजेपी के बाहुबली सांसद बृजभूषण शरण सिंह कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष भी है। उन्हीं पर महिला पहलवानों ने यौन शोषण का आरोप लगाया है। कई दिनों के प्रयास और सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सांसद के खिलाफ एफआईआर तो दर्ज हो गया लेकिन अभी तक उसकी गिरफ्तारी नहीं हुई है। हद तो यह है कि सांसद पर पोस्को एक्ट का भी धारा लगा हुआ है लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं। आजाद भारत का यह ऐसा सच है जिसकी व्याख्या नहीं की जा सकती।       आज जंतर मंतर पर बहुत से लोग आये। बड़ी संख्या में कई खापों के लोग आये। सैकड़ों किसान पहुंचे। सबने महिला पहलवानो को न्याय दिलाने की बात की। फिर महान एथलीट पीटी उषा भी पहुंची। लगा अब धरना ख़त्म हो जाएगा लेकिन ऐसा नहीं कुछ भी नहीं हुआ। जाते -जाते उषा के कान में आवाज आयी -जबतक सांसद को जेल नहीं ,गिरफ्तारी नहीं तबतक धरना जारी रहेगा। उषा जिस मकसद से भेजी गई थी ,वह मकसद बेकार ही गया। इसके बाद बीजेपी सांसद और गाँधी परिवार की बहु मेनका गाँधी ने आज बड़ी बात कही।           
बीजेपी सांसद मेनका गांधी से अपने संसदीय क्षेत्र यूपी के सुल्तानपुर में इस मुद्दे पर सवाल पूछे जाने पर खुलकर बात की। मेनका गांधी ने कहा कि उनकों यह देखकर अच्छा नहीं लग रहा है कि पहलवान धरने पर बैठे हैं। वो चाहती हैं कि लड़कियों को न्याय मिले। उन्होंने कहा कि पहलवानों का धरने पर बैठना बहुत अफसोस की बात है। मैं भगवान से प्रार्थना करती हूं कि उन्हें इंसाफ मिले।           
  बता दें कि भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष और बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह पर यौन शोषण का गंभीर आरोप है। पहलवान विनेश फोगाट, साक्षी मलिक समेत कई बड़े पहलवान बृजभूषण सिंह की गिरफ्तारी की मांग करते हुए दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरने पर बैठे हैं। बृजभूषण पर पहलवानों ने सैकड़ों लड़कियों के शोषण का आरोप लगाया है। सुप्रीम कोर्ट के दबाव के बाद दिल्ली पुलिस ने बृजभूषण सिंह के खिलाफ मामला दर्ज किया था। लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। क्या अब देश की पुलिस यह कह सकेगी कि पोस्को एक्ट लगने के बाद उसकी गिरफ्तारी जरुरी है। और जरुरी है तो इसकी चुनौती तो दी ही जा सकती है। उदहारण के रूप में सांसद को पेश किया जा सकता है। यह सब इतिहास बनाने जैसा है। 

Latest articles

वायनाड सीट छोड़ेंगे राहुल गाँधी ,प्रियंका लड़ सकती है चुनाव !

अखिलेश अखिलहालांकि कांग्रेस की तरफ से इस बात की कोई जानकारी सामने नहीं आई...

Arabic Mehndi Designs:आपकी खूबसरती में चार चांद लगाएंगे ये सिंपल और लेटेस्ट मेहंदी डिजाइन

Simple Mehndi Designs मेहंदी महिलाओं के श्रृंगार का एक प्रमुख अंग है। किसी भी तीज...

उपेंद्र कुशवाहा ने क्यों कहा ”आखिर क्या चाहिए बिहार को ?’

न्यूज़ डेस्क केंद्रीय मंत्रिमंडल में विभागों के बंटवारे को लेकर हो रही बयानबाजी को लेकर...

जी -7 सम्मेलन में हिस्सा लेने कल इटली जाएंगे पीएम मोदी 

न्यूज़ डेस्क प्रधानमंत्री मोदी कल इटली जायेंगे। इटली में जी -7 सम्मेलन होने जा रहा...

More like this

वायनाड सीट छोड़ेंगे राहुल गाँधी ,प्रियंका लड़ सकती है चुनाव !

अखिलेश अखिलहालांकि कांग्रेस की तरफ से इस बात की कोई जानकारी सामने नहीं आई...

Arabic Mehndi Designs:आपकी खूबसरती में चार चांद लगाएंगे ये सिंपल और लेटेस्ट मेहंदी डिजाइन

Simple Mehndi Designs मेहंदी महिलाओं के श्रृंगार का एक प्रमुख अंग है। किसी भी तीज...

उपेंद्र कुशवाहा ने क्यों कहा ”आखिर क्या चाहिए बिहार को ?’

न्यूज़ डेस्क केंद्रीय मंत्रिमंडल में विभागों के बंटवारे को लेकर हो रही बयानबाजी को लेकर...