Homeदेशक्या यूपी में भी सपा और कांग्रेस के बीच नहीं होगा गठबंधन...

क्या यूपी में भी सपा और कांग्रेस के बीच नहीं होगा गठबंधन ?

Published on

न्यूज़ डेस्क
इस बात की सम्भावना बढ़ती जा कि यूपी में भी सपा और कांग्रेस के बीच गठबंधन नहीं हो सकेगा। हालांकि इस बात को लेकर अभी तक कोई बयान सामने नहीं आये हैं लेकिन सीटों को लेकर जिस तरह से दोनों दलों के बीच खींचतान जारी है उससे लगता है कि इंडिया गठबंधन को यूपी में बड़ा झटका लग सकता है। उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन नहीं होगा।

सूत्रों के हवाले से खबर है कि सपा और कांग्रेस के बीच सीटों को लेकर सहमति नहीं बन पाई है।सोमवार को समाजवादी पार्टी ने गठबंधन के तहत अब 17 सीटों पर कांग्रेस को अपने प्रत्याशी उतारने का प्रस्ताव दिया था। इससे पहले सपा ने कांग्रेस को 11 सीटों पर चुनाव लड़ने का प्रस्ताव दिया था, जिसे लेकर दोनों दलों के बीच बयानबाजी शुरू हो गई थी। सोमवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कांग्रेस के लिए 17 लोकसभा सीटें छोड़ने का फैसला लिया।         

सूत्रों के मुताबिक, सपा ने कांग्रेस को अमेठी, रायबरेली, बाराबंकी, सीतापुर, कैसरगंज, वाराणसी, अमरोहा, सहारनपुर, गौतमबुद्धनगर, गाजियाबाद, बुलंदशहर, फतेहपुर सीकरी, कानपुर, हाथरस, झांसी, महराजगंज और बागपत सीट दी थी।

कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, सपा की तरफ से 17 सीटों का प्रस्ताव मिला है, हालांकि पार्टी की ओर से इस पर अभी कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की गई। मालूम रहे कि इससे पहले 11 सीटों का प्रस्ताव देने पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय राय ने असंतोष जताया था। जिसके बाद सपा ने नए सिरे से सीटों का चयन कर सूची कांग्रेस नेतृत्व को भेजी थी।

सपा ने सोमवार को लोकसभा चुनाव के लिए अपनी दूसरी सूची जारी कर दी। इसमें मुजफ्फरनगर से हरेंद्र मलिक, आंवला से नीरज मौर्या, शाहजहांपुर से राजेश कश्यप, हरदोई से ऊषा वर्मा, मिश्रिख से रामपाल राजवंशी, मोहनलालगंज से आरके चौधरी, प्रतापगढ़ से डॉ. एसपी सिंह पटेल, बहराइच से रमेश गौतम, गोंडा से श्रेया वर्मा, गाजीपुर से अफजाल अंसारी और चंदौली से वीरेंद्र सिंह को उम्मीदवार घोषित किया है।

Latest articles

दूसरे चरण में महाराष्ट्र की आठ सीटों पर होंगे चुनाव ,शिंदे और शरद पवार की प्रतिष्ठा दाव पर 

न्यूज़ डेस्क वैसे तो देश की सभी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हर उम्मीदवार की...

चार वर्षीय डिग्री लेने वाले छात्र अब सीधे पीएचडी और नेट की परीक्षा में बैठ सकते हैं 

न्यूज़ डेस्क यूजीसी ने शिक्षा में बड़ा बदलाव करते हुए चार साल की स्नातक डिग्री...

चुनाव के दौरान बयानों गरमाई सियासत ,पीएम मोदी पर खड़गे हुए हमलावर !

न्यूज़ डेस्क चुनाव के दौरान बयानों की राजनीति कब सुर्खियां बन जाए यह कोई नहीं...

बिल गेट्स वित्तपोषक, लेखक, संपादक, सलाहकार के रूप में? डेटा साम्राज्यवाद: मेट्रिक्स में हेरफेर

महामारी विज्ञान में पोस्टडॉक्टरल, जो भारतीय सशस्त्र बलों में दो दशकों से अधिक समय...

More like this

दूसरे चरण में महाराष्ट्र की आठ सीटों पर होंगे चुनाव ,शिंदे और शरद पवार की प्रतिष्ठा दाव पर 

न्यूज़ डेस्क वैसे तो देश की सभी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हर उम्मीदवार की...

चार वर्षीय डिग्री लेने वाले छात्र अब सीधे पीएचडी और नेट की परीक्षा में बैठ सकते हैं 

न्यूज़ डेस्क यूजीसी ने शिक्षा में बड़ा बदलाव करते हुए चार साल की स्नातक डिग्री...

चुनाव के दौरान बयानों गरमाई सियासत ,पीएम मोदी पर खड़गे हुए हमलावर !

न्यूज़ डेस्क चुनाव के दौरान बयानों की राजनीति कब सुर्खियां बन जाए यह कोई नहीं...