Homeदेशटीएमसी सांसदों की अग्नि परीक्षा, कई नेताओं के टिकट काटने वाली है...

टीएमसी सांसदों की अग्नि परीक्षा, कई नेताओं के टिकट काटने वाली है ममता बनर्जी

Published on

बीरेंद्र कुमार झा

लोकसभा चुनाव 2024 से पहले तृणमूल कांग्रेस सांसदों के लिए यह अग्नि परीक्षा का वक्त है। रिपोर्ट के मुताबिक पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री और पार्टी सुप्रीमो ममता बनर्जी अपने एमपी को लेकर बहुत सतर्क हैं। टीएमसी आलाकमान इन नेताओं के लोकसभा क्षेत्र में जनता की प्रतिक्रिया लेने में जुटा है इसके बाद ही पता चलेगा कि मौजूदा सांसदों को टिकट दिया जाएगा या फिर नहीं। प्राप्त जानकारी के मुताबिक याह प्रक्रिया हर एक एमपी पर अनिवार्य रूप से लागू होता है,चाहे वह स्थानीय स्तर पर कितने भी बड़े दिग्गज क्यों ना हो। सूत्रों ने बताया कि हाई कमान ने उम्मीदवारों का आकलन करने के लिए कुछ खास मानक तय किए हैं ।

लोकसभा क्षेत्र में बिताया समय

टीएमसी की ओर से लोकसभा इलेक्शन को लेकर टिकट देते समय इस बात का खासा ध्यान रखा जाएगा कि सांसद के तौर पर उस नेता ने अपने क्षेत्र में कितना समय बिताया है। आलाकमान यह देखेगा कि जिस सीट से पार्टी नेता सांसद बने हैं, उसने वहां की जनता को कितना समय दिया है। ऐसे में पार्टी के कुछ सेलिब्रिटी सांसदों को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।यह ऐसे लीडर है जिन्हें चुनाव जीतने के बाद स्थानीय लोगों से बातचीत करते काम ही देखा गया है

कैसा रहा ट्रैक रिकॉर्ड

रिपोर्ट के मुताबिक ममता बनर्जी अपने पार्टी से उन्हें मौजूदा सांसदों को दोबारा टिकट देंगी,जिसका ट्रैक रिकार्ड अच्छा होगा। सूत्रों ने बताया कि नेताओं का जनता के साथ वर्ताव कैसा रहा। इसे भी अच्छे ढंग से परखा जाएगा। साथ ही यह भी देखा जाएगा कि उन्होंने अपने मतदाताओं को किस तरह की मदद दी है। यह सब पता लगाने के लिए अलग से टीम भेजी जा सकती है। साथ ही स्थानीय स्तर पर लोगों से सीधा संवाद भी किया जा सकता है।

भ्रष्टाचार के मामले

तृणमूल कांग्रेस के कुछ सीनियर नेताओं पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप है। लीडर्स की गिरफ्तारी के बाद पार्टी करप्शन के आरोपों से जूझ रही है। इस तरह आगे से उम्मीदवारों के चयन में साफ एवम स्वच्छ छवि एक बड़ा फैक्टर होने वाला है।अगर कोई सांसद भ्रष्टाचार में लिप्त पाया जाता है तो पार्टी आलाकमान उन्हें टिकट देने से इनकार कर सकता है।टीएमसी इस बार मतदाताओं के सामने भ्रष्टाचार मुक्त छवि पेश करने की कोशिश कर रही है।

निर्वाचन क्षेत्र से मतदाताओं की प्रतिक्रिया

2024 के लोकसभा चुनाव के लिए टीएमसी ने 2021 से कई आंतरिक सर्वे कराए हैं।हाई कमान को निर्वाचन क्षेत्र के वोटर से तटस्थ राय मिलने की उम्मीद है। सूत्रों ने बताया कि पार्टी ने 2021 के विधानसभा चुनाव में भी कई उम्मीदवारों को बदला था, ऐसे में इस बार भी यह बदलाव देखने को मिल सकता है।तृणमूल को बीजेपी से कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद है। इसलिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी यह सुनिश्चित करना चाहती है कि भगवा पार्टी 2019 के अपने प्रदर्शन को इसबर ना दोहरा सके।

 

Latest articles

वायनाड सीट छोड़ेंगे राहुल गाँधी ,प्रियंका लड़ सकती है चुनाव !

अखिलेश अखिलहालांकि कांग्रेस की तरफ से इस बात की कोई जानकारी सामने नहीं आई...

Arabic Mehndi Designs:आपकी खूबसरती में चार चांद लगाएंगे ये सिंपल और लेटेस्ट मेहंदी डिजाइन

Simple Mehndi Designs मेहंदी महिलाओं के श्रृंगार का एक प्रमुख अंग है। किसी भी तीज...

उपेंद्र कुशवाहा ने क्यों कहा ”आखिर क्या चाहिए बिहार को ?’

न्यूज़ डेस्क केंद्रीय मंत्रिमंडल में विभागों के बंटवारे को लेकर हो रही बयानबाजी को लेकर...

जी -7 सम्मेलन में हिस्सा लेने कल इटली जाएंगे पीएम मोदी 

न्यूज़ डेस्क प्रधानमंत्री मोदी कल इटली जायेंगे। इटली में जी -7 सम्मेलन होने जा रहा...

More like this

वायनाड सीट छोड़ेंगे राहुल गाँधी ,प्रियंका लड़ सकती है चुनाव !

अखिलेश अखिलहालांकि कांग्रेस की तरफ से इस बात की कोई जानकारी सामने नहीं आई...

Arabic Mehndi Designs:आपकी खूबसरती में चार चांद लगाएंगे ये सिंपल और लेटेस्ट मेहंदी डिजाइन

Simple Mehndi Designs मेहंदी महिलाओं के श्रृंगार का एक प्रमुख अंग है। किसी भी तीज...

उपेंद्र कुशवाहा ने क्यों कहा ”आखिर क्या चाहिए बिहार को ?’

न्यूज़ डेस्क केंद्रीय मंत्रिमंडल में विभागों के बंटवारे को लेकर हो रही बयानबाजी को लेकर...