Homeदेशअमेठी से चुनाव लड़ने की रॉबर्ट वाड्रा की इच्छा मन ही में...

अमेठी से चुनाव लड़ने की रॉबर्ट वाड्रा की इच्छा मन ही में दबी रह गई,किया भावुक पोस्ट

Published on

दिल के अरमा आंसुओ में बह गए। लोकसभा चुनाव 2024 में रॉबर्ट वाड्रा के साथ ऐसा ही कुछ हुआ।लोकसभा चुनाव में रॉबर्ट वाड्रा ने अमेठी से चुनाव लड़ने की सोची थी।शुरुआत में हालत भी कुछ ऐसे ही बने थे, जिससे रॉबर्ट वाड्रा को लगा हो की वे अमेठी से उम्मीदवार हो सकते हैं।राहुल गांधी वायनाड के चुनाव में व्यस्त थे और इस बीच कांग्रेस जितने सीटों से उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर रही थी,उसमें अमेठी का नाम नहीं था।तब रॉबर्ट वाड्रा ने कई तरीके से खुद को कांग्रेस का अमेठी से उम्मीदवार बताना शुरू कर दिया ।कभी गांधी परिवार का सदस्य होने की बात कह कर अमेठी पर दावा किया तो ,कभी कार्यकर्ताओं और जनता के अनुग्रह को आधार बनाकर खुद को अमेठी का उम्मीदवार बताया।पोस्टर बैनर तक लग गए,लेकिन जब कांग्रेस ने रायबरेली और अमेठी से उम्मीदवारों की सूची प्रकाशित की तो भले ही राहुल गांधी को अमेठी से उम्मीदवार नहीं बनाया गया, लेकिन उनकी जगह पर रॉबर्ट वाड्रा को नहीं लाकर किशोरी लाल शर्मा को उम्मीदवार बना दिया गया।

रॉबर्ट वाड्रा ने फेसबुक पर डाला भावुक पोस्ट

फेसबुक पर किए गए पोस्ट में रॉबर्ट वाड्रा ने लिखा है कि राजनीति की कोई भी शक्ति या पद हमारे परिवार के बीच नहीं आ सकती।हम सभी अपने महान राष्ट्र की जनता और जनता की बेहतरी के लिए हमेशा काम करेंगे और करते रहेंगे।आपके समर्थन और शुभकामनाओं के लिए सभी को धन्यवाद!मैं सदैव अपनी जन सेवा के माध्यम से हरसंभव लोगों की मदद करूंगा। अमेठी से प्रत्याशी के ऐलान के बाद रॉबर्ट वाड्रा की यह पहली प्रतिक्रिया है।

रॉबर्ट वाड्रा ने सक्रिय राजनीति में आने की जताई थी इच्छा

गौरतलब है कि वायनाड से राहुल गांधी के नामांकन किए जाने के बाद से चुनाव होने तक कांग्रेस ने भले ही कई चुनाव क्षेत्रों के लिए की सूची जारी की, लेकिन उसमें अमेठी या रायबरेली शामिल नहीं था,और न ही रॉबर्ट वाड्रा और प्रियंका गांधी को ही कहीं से अपना बनाया।तब तक रॉबर्ट वाड्रा ने सक्रिय राजनीति में आने का मन बना लिया था।फिर क्या था अपने इरादे को मजबूत किया और अमेठी की जनता का आग्रह बता खुद को अमेठी से कांग्रेस का उम्मीदवार कहना शुरू कर दिया।यहां तक कि अमेठी में उन्हों अपने नाम का पोस्टर बैनर भी लगवा लिया था।तब कयास लगाया जा रहे थे कि संभवतः घर के अंदर सोनिया और राहुल गांधी से उनकी इस मामले में बात हुई हो और और जल्दी ही अमेठी से उन्हें टिकट दिया जा सकता है और इस प्रकार वे सक्रिय रराजनीति में आ सकते हैं।लेकिन जब नामांकन के अंतिम दिन कांग्रेस ने अमेठी और रायबरेली के उम्मीदवारों की सूची निकली तो राय बरेली से राहुल गांधी और अमेठी से कोई किशोरी लाल शर्मा का नाम था।इस प्रकार रॉबर्ट वाड्रा की सक्रिय राजनीति में आने की इच्छा अधूरी ही रह गई।

बीजेपी ने कसा तंज

बीजेपी ने भी कांग्रेस द्वारा अमेठी और रायबरेली के टिकट की घोषणा होने पर रॉबर्ट वाड्रा को लेकर तंज कसा था कि कांग्रेस ने वाड्रा परिवार को किनारे कर दिया गया है।

Latest articles

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...

पंजाब के मतदाताओं के नाम आखिर मनमोहन सिंह ने क्यों लिखा पत्र ?

न्यूज़ डेस्क पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने पंजाब के मतदाताओं के नाम एक...

More like this

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...