Homeदेशचुनाव के बीच बिहार में जदयू को झटका ,पूर्व सांसद रंजन यादव...

चुनाव के बीच बिहार में जदयू को झटका ,पूर्व सांसद रंजन यादव राजद में हुए शामिल 

Published on

अखिलेश अखिल 
ठगिनी राजनीति में कौन किसी का हो पाता है ? यहाँ तो सब कुछ माया है। जिसकी सरकार उसी के साथ टोली। जिसकी सत्ता गई उसके साथ कोई क्यों रहे ? और सत्ता  तो बदलती रहती है तो फिर नेता लोग एक जगह कैसे रह सकते हैं ? यहाँ तो कोई किसी का ख़ास तो होता नहीं।

ख़ास तो सत्ता होती है। कैसे कांग्रेस से निकलकर सैकड़ो लोग बीजेपी में चले गए। दलों में भी गए। जिसे कांग्रेस ने बनाया ,जमाया और तैयार किया उसने कांग्रेस तक को नहीं छोड़ा। केवल कांग्रेस से ही नहीं गया। कांग्रेस का पलीता भी लगाया और गाँधी परिवार पर भी खतरनाक हमले किये। बदनाम किये .क्या -क्या नहीं किये ?

राजनीति का यही चरित्र है। आज बिहार में ही सैकड़ो नेता जो नेतागिरी करते फिर रहे हैं उनकी कहानी को सामने रखे तो उन्हें भी शर्म आएगी। जिसने उसे गाढ़ा उसी को उसने गरियाया। ऐसे बहुत से नकाबपोश चेहरे आपको मिलेंगे। लेकिन उन्हें शर्म कहाँ आती है ?आज जदयू के बड़े नेता रंजन यादव ने जदयू को छोड़ दिया। 

पूर्व सांसद रंजन यादव राजद में शामिल हो गए। राजद के राज्यसभा सांसद मनोज झा ने यादव को पार्टी की सदस्यता दिलाई और स्वागत किया। पार्टी की सदस्यता लेने के बाद रंजन यादव ने लालू प्रसाद यादव की जमकर तारीफ की और कहा कि उनकी डिमांड लोकसभा चुनाव में हर राज्य में होती थी।


पूर्व सांसद रंजन यादव ने कहा देश के चार-चार प्रधानमंत्री के साथ लालू प्रसाद यादव ने काम किया है। वह सभी प्रधानमंत्री लालू प्रसाद यादव को अपने क्षेत्र में चुनाव प्रचार के लिए बुलाते थे।उन्होंने कहा कि बिहार में लालटेन की लहर चल रही है।

राजद प्रदेश कार्यालय में आयोजित समारोह में मनोज झा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनावी मंच से फालतू की बातें करते हैं। इस दौरान राज्यसभा सांसद मनोज झा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को झूठ बोलने की मशीन बताते हुए कहा कि अगर किसी मंच पर प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान झूठ पकड़ने वाली मशीन लगा दी जाए तो वह भी खराब हो जाएगी।

उन्होंने कहा कि आज भारत के संविधान पर चर्चा होगी, ये गोलवलकर के लोग हैं, जिनको आरक्षण और बाबा साहब से दिक्कत थी। मंडल कमीशन की रिपोर्ट में 3,700 से अधिक जातियां पिछड़ी जाति की हैं। मंडल कमीशन की रिपोर्ट की जानकारी उनको नहीं है।

उन्होंने कहा कि मंडल कमीशन की रिपोर्ट प्रधानमंत्री ने नहीं पढ़ी है। झा ने कहा कि भारत के संविधान को बदलने की धमकी भाजपा के लोग दे रहे हैं। राज्यसभा सांसद ने कहा, “अगर चुनाव मुद्दों पर होगा तो मोदी जी की बात नहीं होगी। मोदी जी मुद्दों से विलोम हैं।”

उन्होंने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि राजद और कांग्रेस के घोषणा पत्र में बहुत अंतर नहीं है। इनमें मौलिक बातें समान हैं।

Latest articles

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...

पंजाब के मतदाताओं के नाम आखिर मनमोहन सिंह ने क्यों लिखा पत्र ?

न्यूज़ डेस्क पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने पंजाब के मतदाताओं के नाम एक...

More like this

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...