Homeदेशशरद पवार फिर से अपनी पार्टी का पुनर्निर्माण करेंगे ,लिया संकल्प 

शरद पवार फिर से अपनी पार्टी का पुनर्निर्माण करेंगे ,लिया संकल्प 

Published on

न्यूज़ डेस्क 
एनसीपी शरद गुट के शरद पवार ने आज कहा कि देश के इतिहास में पहली बार ऐसी स्थिति देखने को मिली है कि जिसने पार्टी बनाई उसे ही पार्टी से निकाल दिया गया हो। एनसीपी के साथ ऐसा ही हुआ है। लेकिन आज हम संकल्प लेते हैं कि इस पार्टी का हम फिर से पुनर्निर्माण करेंगे। जनता के बीच जायेंगे। लोकतंत्र में जनता ही असली मालिक है।   

आज सुबह अपने गोविंद बाग स्थित आवास पर बड़ी संख्या में समर्थकों और जनता से मुलाकात करते हुए 83 वर्षीय पवार ने कहा कि अतीत में भारत में कई पार्टी विवाद हुए हैं।उन्होंने आगे कहा कि न केवल पार्टी का नाम बल्कि एनसीपी का प्रतिष्ठित ‘घड़ी’ चिन्ह भी छीन लिया गया, जो कानून के अनुरूप नहीं है। हर कोई जानता है कि एनसीपी की स्थापना किसने की।अब पार्टी ने इस मामले में राहत के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है और न्याय की उम्मीद जताई है।         

पवार ने कहा, ”सिंबल खोने को लेकर ज्यादा चिंता करने की जरूरत नहीं है। मैं अब तक 14 चुनाव लड़ चुका हूं। उनमें से पांच ‘बैलों की जोड़ी’, ‘गाय और बछड़ा’, एक ‘चरखा’, ‘हाथ’ और अंत में, ‘घड़ी’ के चिन्ह पर थे। चुनाव चिन्ह छीनने का मतलब यह नहीं कि संगठन खत्म हो गया।”

उन्होंने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं को सार्वजनिक पहुंच बढ़ाने और जनता को पार्टी की नीतियों और सिद्धांतों को समझाने और पार्टी उनके लिए क्या कर सकती है, इसकी आवश्यकता पर जोर दिया।
 

पवार ने कहा, “मुझे नहीं लगता कि नए सिरे से शुरुआत करने पर भी ज्यादा दिक्कतें होंगी। हम एक नई उम्मीद के साथ पूरे महाराष्ट्र में घूमेंगे और लोगों से मिलेंगे, उन्हें मनाएंगे, नए चिन्ह के साथ ज्यादा दिक्कतें नहीं होंगी।”
     

 दरअसल, एनसीपी विधायकों की अयोग्यता मामले में महाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर ने शरद पवार गुट को झटका देते हुए कहा कि, अजित पवार गुट ही असली एनसीपी है।
इससे पहले, भारत के चुनाव आयोग ने अजीत पवार गुट को मान्यता दी थी और उन्हें एनसीपी का नाम और ‘घड़ी’ चिन्ह दिया था।

अजित पवार के हालिया भाषणों में लोगों से उन्हें और उनके उम्मीदवारों को वोट देने की अपील पर शरद पवार ने कहा, ”ऐसा प्रतीत होता है कि वह जनता की सहानुभूति हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन राज्य की जनता चुनाव के दौरान उचित निर्णय लेगी।”

Latest articles

अरविंद केजरीवाल को बड़ा झटका, इंसुलिन की मांग व डॉक्टर से परामर्श वाली याचिका खारिज

इन दिनों जब से अरविन्द केजरीवाल ईडी के हाथों गिरफ्तार होकर पहले ईडी के...

रामलला का दर्शन कर निहाल हुए 30 देशों के रामभक्त

न्यूज़ डेस्क  अयोध्या में राम लला का दर्शन कर आज दुनिया के 30 देशों के लोग...

कांग्रेस आपके मंगल सूत्र को भी नहीं छोड़ेंगे,अलीगढ़ में गरजे पीएम मोदी

प्रथम चरण के मतदान की समाप्ति के बाद अब द्वितीय चरण के मतदान के...

ममता का दावा : देश भर से बीजेपी खेमे का सफाया होने वाला है !

न्यूज़ डेस्क यह तो कोई नहीं जानता कि चार जून को किसकी जीत होगी और...

More like this

अरविंद केजरीवाल को बड़ा झटका, इंसुलिन की मांग व डॉक्टर से परामर्श वाली याचिका खारिज

इन दिनों जब से अरविन्द केजरीवाल ईडी के हाथों गिरफ्तार होकर पहले ईडी के...

रामलला का दर्शन कर निहाल हुए 30 देशों के रामभक्त

न्यूज़ डेस्क  अयोध्या में राम लला का दर्शन कर आज दुनिया के 30 देशों के लोग...

कांग्रेस आपके मंगल सूत्र को भी नहीं छोड़ेंगे,अलीगढ़ में गरजे पीएम मोदी

प्रथम चरण के मतदान की समाप्ति के बाद अब द्वितीय चरण के मतदान के...