Homeदेशपश्चिम बंगाल के संदेशखाली हिंसा के मुख्य आरोपी शाहजहां शेख गिरफ्तार ,राजनीति...

पश्चिम बंगाल के संदेशखाली हिंसा के मुख्य आरोपी शाहजहां शेख गिरफ्तार ,राजनीति हुई गर्म 

Published on

न्यूज़ डेस्क 
बंगाल की राजनीति पुरे उफान पर है। सामने लोकसभा चुनाव है और  दूसरी तरफ संदेशखाली हिंसा की कहानी पुरे पश्चिम  तैरती नजर आ रही है। इसी बीच आज पश्चिम बंगाल के संदेशखाली हिंसा के मुख्य आरोपी शाहजहां शेख को गिरफ्तार किया गया। तृणमूल कांग्रे नेता शेख प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों की टीम पर हमले के बाद से फरार था।

पुलिस ने कलकत्ता उच्च न्यायालय के आदेश पर उसे गिरफ्तार किया। आरोपी को बशीरहाट की अदालत में पेश किया गया, जिसने उसे दस दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया  पुलिस ने बताया कि शाहजहां शेख उत्तर 24 परगना जिले के मिनाखा में एक घर में छिपा हुआ था, जहां से उसे गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने आरोपी को अदालत में पेश किया और 14 दिन की हिरासत की मांग की। लेकिन अदालत ने दस दिन की पुलिस हिरासत की अनुमति दी।

जिले के संदेशखाली की महिलाओं ने शाहजहां शेख और उनके समर्थकों पर यौन शोषण व जमीन के पट्टों को कब्जाने का आरोप लगाया है। राज्य महाधिवक्ता की अर्जी पर उच्च न्यायालय ने बीते सोमवार को शाहजहां शेख की गिरफ्तारी का आदेश दिया था।

न्यायाधीश टीएस शिवगणनम की एकल पीठ ने सात फरवरी के आदेश में ईडी के अधिकारियों पर हमले की जांच के लिए केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) और पश्चिम बंगाल पुलिस के संयुक्त विशेष जांच दल (एसआईटी) के गठन पर रोक लगाई थी। बाद में अदालत ने पाया कि शेख काफी समय से फरार है। जिसके बाद अदालत ने निर्देश दिया था कि सीबीआई और ईडी शेख को गिरफ्तार करने के लिए स्वतंत्र हैं।

 इससे पहले उच्च न्यायालय ने बुधवार को दिल्ली से पहुंची फैक्ट फाइंडिंग टीम को संदेशखाली जाने की अनुमति दी। पिछले रविवार को कमेटी के प्रतिनिधियों ने संदेशखाली जाने की कोशिश की थी। लेकिन, पुलिस ने उन्हें बीच रास्ते में ही रोक दिया था। कमेटी ने उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था। इसके बाद उच्च न्यायालय के न्यायाधीश कौशिक चंद्र की खंडपीठ ने उन्हें संदेशखाली जाने की इजाजत दी।

Latest articles

दूसरे चरण में महाराष्ट्र की आठ सीटों पर होंगे चुनाव ,शिंदे और शरद पवार की प्रतिष्ठा दाव पर 

न्यूज़ डेस्क वैसे तो देश की सभी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हर उम्मीदवार की...

चार वर्षीय डिग्री लेने वाले छात्र अब सीधे पीएचडी और नेट की परीक्षा में बैठ सकते हैं 

न्यूज़ डेस्क यूजीसी ने शिक्षा में बड़ा बदलाव करते हुए चार साल की स्नातक डिग्री...

चुनाव के दौरान बयानों गरमाई सियासत ,पीएम मोदी पर खड़गे हुए हमलावर !

न्यूज़ डेस्क चुनाव के दौरान बयानों की राजनीति कब सुर्खियां बन जाए यह कोई नहीं...

बिल गेट्स वित्तपोषक, लेखक, संपादक, सलाहकार के रूप में? डेटा साम्राज्यवाद: मेट्रिक्स में हेरफेर

महामारी विज्ञान में पोस्टडॉक्टरल, जो भारतीय सशस्त्र बलों में दो दशकों से अधिक समय...

More like this

दूसरे चरण में महाराष्ट्र की आठ सीटों पर होंगे चुनाव ,शिंदे और शरद पवार की प्रतिष्ठा दाव पर 

न्यूज़ डेस्क वैसे तो देश की सभी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हर उम्मीदवार की...

चार वर्षीय डिग्री लेने वाले छात्र अब सीधे पीएचडी और नेट की परीक्षा में बैठ सकते हैं 

न्यूज़ डेस्क यूजीसी ने शिक्षा में बड़ा बदलाव करते हुए चार साल की स्नातक डिग्री...

चुनाव के दौरान बयानों गरमाई सियासत ,पीएम मोदी पर खड़गे हुए हमलावर !

न्यूज़ डेस्क चुनाव के दौरान बयानों की राजनीति कब सुर्खियां बन जाए यह कोई नहीं...