Homeदेशबजरंग पुनिया से मिलकर राहुल गांधी ने की डब्ल्यूएफआई विवाद पर चर्चा

बजरंग पुनिया से मिलकर राहुल गांधी ने की डब्ल्यूएफआई विवाद पर चर्चा

Published on

बीरेंद्र कुमार झा

भारतीय कुश्ती संघ के निलंबन के बाद भी इस मुद्दे पर सियासत जारी है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज सुबह-सुबह हरियाणा के झज्जर के छारा गांव स्थित वीरेंद्र कुश्ती अकादमी पहुंच कर पहलवान बजरंग पुनिया से मुलाकात की। गौरतलब है की इसी अखाड़े से पुनिया बंधुओ ने अपनी कुश्ती की ट्रेनिंग की शुरुआत की थी।

पहलवानों की सहनुभूति से राजनीतिक लाभ लेने का प्रयास

राहुल गांधी के पहलवान बजरंग पुनिया से मुलाकात के पूर्व प्रियंका गांधी और बीजेपी सांसद बृज भूषण सरण सिंह के खिलाफ यौन शोषण का आवाज मुखर रूप से उठने वाली महिला पहलवान साक्षी मलिक की भी मुलाकात हुई थी। यह मुलाकात भारतीय कुश्ती संघ के चुनाव में यौन शोषण के आरोपी बृजभूषण शरण सिंह के सहयोगी संजय सिंह द्वारा अध्यक्ष पद का चुनाव जीतने के उपरांत साक्षी मलिक द्वारा इसका विरोध करते हुए कुश्ती से अलविदा करने के तुरंत बाद हुई थी। ऐसे में माना जा रहा है कि राहुल गांधी का भी बजरंग पुनिया से होने वाली मुलाकात इन पहलवानों की सहानुभूति प्राप्तकार कांग्रेस के पक्ष में उसका राजनीतिक उपयोग करना है। गौरतलब है कि हाल ही में बजरंग पूनिया ने भारतीय कुश्ती संघ के संपन्न हुए चुनाव में बृजभूषण शरण सिंह के करीबी संजय सिंह के अध्यक्ष पर चुने जाने के विरोध में प्रधानमंत्री आवास के नजदीक फुटपाथ पर अपना पद्मश्री रख दिया था।

पहलवानों का बीजेपी सरकार पर आक्रमण

साक्षी मलिक की कुश्ती से संन्यास और बजरंग पूनिया के पद्मश्री लौटने के बाद अब स्टार पहलवान विनेश फोगाट ने भी अपना अर्जुन पुरस्कार लौटने का फैसला करते हुए मौजूदा हालात से निराश होने की बात कही ।विनेश फोगाट ने प्रधानमंत्री को लिखे अपने पत्र में अपने फैसले की घोषणा की। विनेश फोगाट ने कहा कि मुझे याद है कि 2016 में जब साक्षी मलिक ने ओलंपिक पदक जीता तो सरकार ने उन्हें बेटी बचाओ,बेटी पढ़ाओ अभियान का ब्रांड एंबेसडर बनाया। जब हमें इस बारे में पता चला तो देश की महिला है खुश थी और एक दूसरे को बधाई संदेश भेज रही थी।विनेश फोगाट ने कहा आज जब साक्षी मलिक को कुश्ती छोड़ने के लिए मजबूर किया गया,तो मुझे वह साल बार- बार याद आ रहा है।हमें उन विज्ञापनों को प्रकाशित करने में कोई आपत्ति नहीं है, क्योंकि उसमें लिखे नारों से ऐसा लगता है कि आपकी सरकार बेटियों के उत्थान के लिए गंभीरता से काम करना नहीं चाहती है।

पत्र में विनेश फोगाट ने प्रधानमंत्री से महिला पहलवानों के खिलाफ यौन शोषण के आरोपी बृजभूषण शरण सिंह द्वारा कहे गए अपमानजनक बयानों को सुनने का आग्रह किया।उन्होंने कहा कि जो शोषण करता है, उसने भी अपना दबदबा बनाए रखने की मुंडी कर दी है। आप बस अपने जीवन के 5 मिनट निकाल कर उस आदमी की मीडिया में दिए गए बयानों को सुनें।आपको पता चल जाएगा कि उसने क्या किया है।विनेश फोगाट ने आरोप लगाया कि महिला पहलवानों के लिए अपमानजनक संबोधन का इस्तेमाल किया गया जिस वजह से कितनी ही महिला पहलवानों को पीछे हटने पर मजबूर होने दिया।

 

Latest articles

वायनाड सीट छोड़ेंगे राहुल गाँधी ,प्रियंका लड़ सकती है चुनाव !

अखिलेश अखिलहालांकि कांग्रेस की तरफ से इस बात की कोई जानकारी सामने नहीं आई...

Arabic Mehndi Designs:आपकी खूबसरती में चार चांद लगाएंगे ये सिंपल और लेटेस्ट मेहंदी डिजाइन

Simple Mehndi Designs मेहंदी महिलाओं के श्रृंगार का एक प्रमुख अंग है। किसी भी तीज...

उपेंद्र कुशवाहा ने क्यों कहा ”आखिर क्या चाहिए बिहार को ?’

न्यूज़ डेस्क केंद्रीय मंत्रिमंडल में विभागों के बंटवारे को लेकर हो रही बयानबाजी को लेकर...

जी -7 सम्मेलन में हिस्सा लेने कल इटली जाएंगे पीएम मोदी 

न्यूज़ डेस्क प्रधानमंत्री मोदी कल इटली जायेंगे। इटली में जी -7 सम्मेलन होने जा रहा...

More like this

वायनाड सीट छोड़ेंगे राहुल गाँधी ,प्रियंका लड़ सकती है चुनाव !

अखिलेश अखिलहालांकि कांग्रेस की तरफ से इस बात की कोई जानकारी सामने नहीं आई...

Arabic Mehndi Designs:आपकी खूबसरती में चार चांद लगाएंगे ये सिंपल और लेटेस्ट मेहंदी डिजाइन

Simple Mehndi Designs मेहंदी महिलाओं के श्रृंगार का एक प्रमुख अंग है। किसी भी तीज...

उपेंद्र कुशवाहा ने क्यों कहा ”आखिर क्या चाहिए बिहार को ?’

न्यूज़ डेस्क केंद्रीय मंत्रिमंडल में विभागों के बंटवारे को लेकर हो रही बयानबाजी को लेकर...