Homeदेशराहुल गांधी को नेता प्रतिपक्ष बनाने की मांग से जुड़ा प्रस्ताव सीडब्ल्यूसी...

राहुल गांधी को नेता प्रतिपक्ष बनाने की मांग से जुड़ा प्रस्ताव सीडब्ल्यूसी की बैठक में पास

Published on

शनिवार को दिल्ली में कांग्रेस ने सीडब्ल्यूसी(कांग्रेस वर्किंग कमिटी) की बैठक आशुत की थी।सीडब्ल्यूसी की बैठक में हुए विचार मंथन को लेकर बैठक के बाद कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल ने कहा कि सीडब्ल्यूसी ने सर्वसम्मति से राहुल गांधी से लोकसभा में विपक्ष के नेता का पद संभालने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि राहुल जी संसद के अंदर इस अभियान का नेतृत्व करने के लिए सबसे उपयुक्त व्यक्ति हैं।

राहुल गांधी ने मांगा समय

सीडब्ल्यूसी बैठक के बाद कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल ने कहा कि राहुल गांधी ने सीडब्ल्यूसी से कहा कि वह बहुत जल्द (लोकसभा में विपक्ष का नेता बनने पर) फैसला लेंगे। यह पूछे जाने पर कि राहुल गांधी कौन सी सीट (रायबरेली या वायनाड) रखेंगे, उन्होंने कहा कि यह फैसला 17 तारीख से पहले लिया जाना है और यह 3-4 दिनों में आ जाएगा।

राहुल गांधी पर कांग्रेस नेताओं ने क्या कहा

कांग्रेस सीडब्ल्यूसी की बैठक के बाद कांग्रेस नेता गौरव गोगोई ने कहा कि जब भी कांग्रेस पार्टी ने राहुल गांधी से कुछ अपेक्षा की है तो उन्होंने पार्टी की ख्वाहिश पूरी की है। आज कांग्रेस पार्टी उनसे गुजारिश करती है कि वो देश की आवाज सदन में उठाएं। कांग्रेस की विजयी उम्मीदवार कुमारी शैलजा ने कहा कि सबकी इच्छा थी कि राहुल गांधी नेता प्रतिपक्ष बने।इसमें सभी की सहमति थी।

कांग्रेस पार्टी का पुनरुद्धार शुरू हो गया

कांग्रेस की सीडब्ल्यूसी बैठक के बाद पार्टी नेता केसी वेणुगोपाल ने कहा कि अब कांग्रेस पार्टी का पुनरुद्धार शुरू हो गया है। यह सीडब्ल्यूसी की भावना है।नवनिर्वाचित कांग्रेस सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि देश का जो जनादेश आया है उसमें बीजेपी को संख्या बल भले मिला हो, लेकिन नैतिक बल देशवासियों ने विपक्ष को देने का काम किया है।देश की भावना आज विपक्ष के साथ है। इसके लिए कांग्रेस का नेतृत्व विशेष रूप से बधाई का पात्र है। राहुल गांधी ने जिस रूप से निर्भीकता से हर वर्ग की लड़ाई लड़ी मैं समझता हूं वे बधाई के पात्र हैं।हम सबने आग्रह किया कि राहुल गांधी नेता विपक्ष की जिम्मेदारी लें। मालूम हो कि लोकसभा चुनाव 2024 में एनडीए को 292 सीटें मिली हैं, जबकि इंडिया गठबंधन ने 234 सीटें जीती है।बीजेपी 240 सीटों के साथ सबसे अधिक सीटें जीतने वाली सबसे बड़ी पार्टी बनी, जबकि कांग्रेस को केवल 99 सीटें ही मिलीं।

Latest articles

बीजेपी से हितों की उम्मीद – दिवास्वप्न!

ऐसा देखा गया है कि भाजपा ने लगातार अन्य राजनीतिक दलों को विभाजित करने,...

आईएनएस सुनयना का एमसीजी डोर्नियर और मॉरीशस पुलिस बल ने किया जोरदार स्वागत !

न्यूज़ डेस्क भारत का आईएनएस सुनयना इन दिनों मॉरीशस पहुंचा हुआ है। समुद्र में लम्बी...

केन्द्रीय बजट 2024-25 के लिए सुझाव लेने हेतु वित्त मंत्रियों के साथ सीतारमण ने की बैठक 

न्यूज़ डेस्क केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज नई दिल्ली में...

जोधपुर में साम्प्रदायिक हिंसा ,हिरासत में लिए गए 40 लोग 

न्यूज़ डेस्क राजस्थान का जोधपुर अचानक हिंसाग्रस्त हो गया। दो समुदायों के बीच हिंसक झड़पे...

More like this

बीजेपी से हितों की उम्मीद – दिवास्वप्न!

ऐसा देखा गया है कि भाजपा ने लगातार अन्य राजनीतिक दलों को विभाजित करने,...

आईएनएस सुनयना का एमसीजी डोर्नियर और मॉरीशस पुलिस बल ने किया जोरदार स्वागत !

न्यूज़ डेस्क भारत का आईएनएस सुनयना इन दिनों मॉरीशस पहुंचा हुआ है। समुद्र में लम्बी...

केन्द्रीय बजट 2024-25 के लिए सुझाव लेने हेतु वित्त मंत्रियों के साथ सीतारमण ने की बैठक 

न्यूज़ डेस्क केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज नई दिल्ली में...