Homeदेशदिल्ली में नमाज पढ़ते लोगों को पुलिस ने मारी लात ,उठे कई...

दिल्ली में नमाज पढ़ते लोगों को पुलिस ने मारी लात ,उठे कई सवाल !

Published on

न्यूज़ डेस्क
 हालांकि पूजा किसी भी सार्वजानिक जगहों पर नहीं की जानी चाहिए ताकि लोगों को कोई असुविधा नहीं हो। इसके साथ ही खुले सड़क  किसी भी पूजा पद्धति को करने से परहेज की जानी चाहिए। यह सब इसलिए कि हमारी आस्था से किसी को परेशानी नहीं हो। लेकिन इन सबके बाद भी दिल्ली में पुलिस ने सड़क पर नमाज पढ़ते लोगों के साथ जो भी किया है उसे कोई कैसे बर्दस्त कर सकता है ? जिस तरह से नमाज पढ़ रहे लोगों को पुलिस लात मारते दिख रही  ही उससे साफ़ है कि कानून का रखवाला ही कौन को ताख पर रखकर समाज में घृणा क भाव खड़ा कर रहा है।

दिल्ली पुलिस के एक सब-इंस्पेक्टर को शुक्रवार को एक वीडियो सामने आने के बाद निलंबित कर दिया गया, जिसमें वह इंद्रलोक इलाके में सड़क पर नमाज पढ़ रहे कुछ लोगों को लात मारता दिख रहा है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।
घटना का वीडियो ऑनलाइन वायरल होने के कुछ ही घंटे बाद पुलिस उपायुक्त (उत्तर) एम.के. मीणा द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि उप-निरीक्षक मनोज कुमार तोमर को तीन महीने के लिए निलंबित कर दिया गया है। घटना इंद्रलोक मेट्रो स्टेशन के पास शुक्रवार दोपहर करीब दो बजे की है।

दिल्ली के इंद्रलोक इलाके की एक मस्जिद में जुमे की नमाज के लिए बड़ी संख्या में लोग एकत्र हुए थे। भीड़भाड़ के कारण कुछ लोग सड़क पर ही नमाज पढ़ने लगे।एक वायरल फुटेज में तोमर को सड़क पर नमाज पढ़ रहे लोगों के एक समूह को तितर-बितर करने का प्रयास करते देखा गया।अचानक, वह क्रोधित हो जाता है और कुछ व्यक्तियों को धक्का देता और लात मारता हुआ दिखाई देता है।

प्रतिक्रिया में, लोगों ने सड़क बाधित कर दी और तोमर के खिलाफ कदम उठाने की मांग की।इसके बाद, कानून-व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी गई।घटना के बाद कुछ घंटे बाद तक इलाके में तनाव व्याप्त रहा।
मध्य और पूर्वी रेंज से क्रमश: अतिरिक्त पुलिस आयुक्त परमादित्य और सागर सिंह कलसी भी घटनास्थल पर पहुंचे।

 

डीसीपी मीणा ने कहा कि सड़क पर यातायात सुचारू हो गया है। एसआई के निलंबन के आदेश के बाद प्रदर्शनकारी शांत हो गए।डीसीपी ने कहा, “अधिकारी के निलंबन की खबर स्थानीय मस्जिद से की गई घोषणाओं के माध्यम से प्रसारित की गई। समुदाय के सदस्य शांति बनाए रखने में पुलिस की सहायता कर रहे हैं।”

घटना के बाद, दिल्ली के उत्तर-पूर्वी जिले पर कड़ी निगरानी रखी गई। इस इलाके में 2020 में सांप्रदायिक दंगे हो चुके हैं।पुलिस उपायुक्त (उत्तर-पूर्व) जॉय टिर्की ने कहा, “हम इंद्रलोक में हुई घटनाओं की कड़ी निंदा करते हैं। मैं सभी से शांति को प्राथमिकता देने और गलत सूचना फैलाने से बचने का आग्रह करता हूं।”

Latest articles

चार वर्षीय डिग्री लेने वाले छात्र अब सीधे पीएचडी और नेट की परीक्षा में बैठ सकते हैं 

न्यूज़ डेस्क यूजीसी ने शिक्षा में बड़ा बदलाव करते हुए चार साल की स्नातक डिग्री...

चुनाव के दौरान बयानों गरमाई सियासत ,पीएम मोदी पर खड़गे हुए हमलावर !

न्यूज़ डेस्क चुनाव के दौरान बयानों की राजनीति कब सुर्खियां बन जाए यह कोई नहीं...

बिल गेट्स वित्तपोषक, लेखक, संपादक, सलाहकार के रूप में? डेटा साम्राज्यवाद: मेट्रिक्स में हेरफेर

महामारी विज्ञान में पोस्टडॉक्टरल, जो भारतीय सशस्त्र बलों में दो दशकों से अधिक समय...

PBKS vs GT IPL 2024 : गुजरात टाइटंस ने पंजाब किंग्स को तीन विकेट से हराया, तेवतिया ने खेली 36 रनों की मैच जिताऊ...

न्यूज डेस्क आईपीएल 2024 के 37वें मैच में गुजरात टाइंटस ने पंजाब किंग्स को तीन...

More like this

चार वर्षीय डिग्री लेने वाले छात्र अब सीधे पीएचडी और नेट की परीक्षा में बैठ सकते हैं 

न्यूज़ डेस्क यूजीसी ने शिक्षा में बड़ा बदलाव करते हुए चार साल की स्नातक डिग्री...

चुनाव के दौरान बयानों गरमाई सियासत ,पीएम मोदी पर खड़गे हुए हमलावर !

न्यूज़ डेस्क चुनाव के दौरान बयानों की राजनीति कब सुर्खियां बन जाए यह कोई नहीं...

बिल गेट्स वित्तपोषक, लेखक, संपादक, सलाहकार के रूप में? डेटा साम्राज्यवाद: मेट्रिक्स में हेरफेर

महामारी विज्ञान में पोस्टडॉक्टरल, जो भारतीय सशस्त्र बलों में दो दशकों से अधिक समय...