Homeदेशपीएम मोदी इटली यात्रा से तो लौट आये लेकिन कांग्रेस की धड़कने...

पीएम मोदी इटली यात्रा से तो लौट आये लेकिन कांग्रेस की धड़कने बढ़ गई !

Published on

न्यूज़ डेस्क 
पीएम मोदी की इटली यात्रा से कांग्रेस की परेशानी बढ़ गई है। कांग्रेस मोदी की इटली यात्रा के पीछे के उद्देश्यों पर सवाल उठा रही है। सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस की नाराजगी का कारण अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला (वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाला) का ‘डर’ हो सकता है, जो उसे परेशान कर रहा है, खासकर ऐसे समय में जब वह लोकसभा चुनाव में पार्टी की सफलता का जश्न मना रही है।

बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने भी सवाल किया, ‘जी-7 शिखर सम्मेलन के लिए पीएम मोदी की इटली यात्रा के बारे में कांग्रेस लगातार क्यों शिकायत कर रही थी’ और उन्होंने यह भी विवरण साझा किया कि सबसे पुरानी पार्टी को क्या ‘चिंतित और परेशान’ कर रहा है।

एक प्रमुख अंतरराष्ट्रीय दैनिक ने सूत्रों का हवाला देते हुए दावा किया कि इटली ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाले पर अपनी अदालत के 225 पृष्ठों के विस्तृत फैसले और रिश्वत घोटाले से संबंधित कुछ दस्तावेजों को भारत के साथ साझा किया है। इससे साफ है कि ये दस्तावेज पूरे खेल को पलट सकते हैं और भारत में उच्च प्रोफाइल वाले राजनेताओं और बिचौलियों को उनके इस अपराध के लिए दंडित किया जा सकता है।

इसमें यह भी दावा किया गया कि पीएम मोदी की हाल की इटली यात्रा से लौटने के बाद इस वीवीआईपी हेलिकॉप्टर घोटाले में जांच और अभियोजन गति पकड़ सकता है।

बता दें कि 26 मई 2014 को नरेंद्र मोदी जब पहली बार भारत के प्रधानमंत्री बने, उसके लगभग 8 महीने पहले, इटली की एक अदालत ने भारत से जुड़े सबसे बड़े रिश्वत घोटालों में एक हाई प्रोफाइल कंपनी के सीईओ, एक इतालवी रक्षा कंपनी के अध्यक्ष और दो बिचौलियों सहित चार लोगों को दोषी ठहराते हुए एक फैसला सुनाया था।

लेकिन, इस मामले में वहां की अदालत में दर्ज अभियुक्तों के पूरे बयान, अपीलों का पूरा लेखा-जोखा और अदालत के अंतिम फैसले को 2013 में भारत के दबाव में तत्कालीन इतालवी सरकार द्वारा कभी भी सार्वजनिक नहीं किया गया था, क्योंकि इससे भारत के राजनीतिक और नौकरशाही प्रतिष्ठानों में भूचाल आ सकता था।

इन दस्तावेजों के जरिए जो खुलासा होता उससे भारत के प्रमुख राजनीतिक परिवार और बिचौलियों के पूरे नामों का खुलासा हो जाता, जिन्हें अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले में 600 करोड़ रुपये से अधिक की रिश्वत मिली थी। इस मामले में भारत में इसको लेकर रिश्वत प्राप्त करने वालों के नाम इतालवी अदालत के दस्तावेजों में सील कर दिए गए।

हेलिकॉप्टर घोटाला भले ही भारत में अंजाम तक नहीं पहुंचा हो, लेकिन इतालवी अदालत ने भारतीय समकक्षों को रिश्वत देने वालों को इस मामले में दोषी ठहराया है। अब बताया जा रहा है कि इटली के द्वारा भारत को सौंपे गए सीलबंद इतालवी दस्तावेजों में रक्षा घोटाले में रिश्वत पाने वालों के नाम भी हैं।

इससे यूपीए-2 के दौरान सत्ता में बैठे लोगों के लिए खतरे की घंटी बजना तय है और सबसे बड़े रक्षा घोटालों में से एक, जो एक दशक तक दबा रहा, वह अब बाहर आने के लिए तैयार नजर आ रहा है।

विशेष रूप से, अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाला यूपीए-2 शासन का एक भ्रष्टाचार का मामला है, जिसमें बिचौलियों और शायद राजनेताओं को भी रिश्वत दी गई थी, क्योंकि भारत ने इतालवी रक्षा विनिर्माण दिग्गज फिनमैकेनिका द्वारा अनुमानित लागत पर 12 वीवीआईपी हेलिकॉप्टर खरीदने का 3,600 करोड़ रुपये का सौदा किया था।

Latest articles

कांग्रेस संगठन में होगा बड़ा उलटफेर, कई राज्यों में प्रदेश अध्यक्ष बदलने की तैयारी

लोकसभा चुनाव में मिली सफलता के बाद अब कांग्रेस पार्टी इस सफलता को और...

अखिलेश यादव ने दिया ‘मॉनसून ऑफर’, बीजेपी ने ऑफर का दिया जवाब

लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक सीट जीतने के बाद अब समाजवादी...

यूपी में सियासी हलचल तेज,पीएम मोदी से मिले भूपेंद्र चौधरी,राज्यपाल आनंदीबेन से सीएम योगी ने की मुलाकात

      लोकसभा चुनाव में बीजेपी को यूपी में उम्मीद से काफी कम सीटें मिलने से...

ऐश्वर्या राय संग तलाक की अफवाहों के बीच अभिषेक बच्चन ने सोशल मीडिया पर किया ये काम, उठने लगे सवाल

अनंत अंबानी और राधिका मर्चेंट की शादी में देश और दुनियाभर से कई बड़े...

More like this

कांग्रेस संगठन में होगा बड़ा उलटफेर, कई राज्यों में प्रदेश अध्यक्ष बदलने की तैयारी

लोकसभा चुनाव में मिली सफलता के बाद अब कांग्रेस पार्टी इस सफलता को और...

अखिलेश यादव ने दिया ‘मॉनसून ऑफर’, बीजेपी ने ऑफर का दिया जवाब

लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक सीट जीतने के बाद अब समाजवादी...

यूपी में सियासी हलचल तेज,पीएम मोदी से मिले भूपेंद्र चौधरी,राज्यपाल आनंदीबेन से सीएम योगी ने की मुलाकात

      लोकसभा चुनाव में बीजेपी को यूपी में उम्मीद से काफी कम सीटें मिलने से...