Homeदेशलोकसभा चुनाव को लेकर नई सूरत में नजर आ रही बीएसपी ,आकास...

लोकसभा चुनाव को लेकर नई सूरत में नजर आ रही बीएसपी ,आकास आनंद की बढ़ी जिम्मेवारी

Published on

पिछले कुछ समय से एक तरह से निष्क्रिय दिख रही बीएसपी लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर तेजी से सक्रिय होने लगी है। बीएसपी अपने संगठन में बड़ा बदलाव कर रही है। बीएसपी के इतिहास में पहली बार मिसकॉल नंबर जारी किया गया है। यह नंबर बहुजन समाजवादी पार्टी की मुखिया मायावती के भतीजे आकाश आनंद से जुड़ने के लिए है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से लोगों से बीएसपी से जुड़ने की अपील की जा रही है। दरअसल बीएसपी के राष्ट्रीय कोऑर्डिनेटर आकाश आनंद की देखरेख में नया सोशल मीडिया सेल तैयार किया जा रहा है।इसका काम लगभग पूरा हो चुका है और मायावती इसे अपने जन्मदिन या कभी भी लॉन्च कर सकती है।

आकाश आनंद ने जारी किया बयान

गुरुवार सुबह मायावती के उत्तराधिकारी आकाश आनंद ने सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट कर लिखा कि हम ना रुके हैं ना रुकेंगे, सत्ता की गुरु किल्ली लेकर रहेंगे।अपने अधिकारों की लड़ाई के लिए, सामाजिक परिवर्तन के संघर्ष के लिए,देश में समता मूलक समाज बनाने के लिए हमें संगठित होना होगा और यह आपसे शुरू होगा। इस मिशन से जुड़ने के लिए 9911 278181 पर एक मिस्ड कॉल दीजिए और सीधे मुझसे जुड़िए।

मायावती ने भतीजा आकाश आनंद को घोषित किया है अपना उत्तराधिकारी

गौरतलब है कि पिछले दिनों मायावती ने अपने बाद अपने भतीजे आकाश आनंद को अपना उत्तराधिकारी घोषित करते हुए अपनी विरासत उन्हें सौंप दी है। इसके बाद भतीजा आकाश आनंद ने बीएसपी संगठन की कमान पूरी तरह से संभाल ली है।अब वे दिल्ली में बैठकर लगातार इस बात की समीक्षा कर रहे हैं कि मजबूत संगठन वाली पार्टी आखिर कमजोर कैसे हो गई? इसके पीछे कौन से कारण है? इन्हीं कारणों को तलाशने और इसका समाधान ढूंढने के लिए वे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म विकसित करने में जुटे हुए हैं। उन्होंने स्वयं बीएसपी न्यूज पर यह बात शेयर करते हुए कहा कि हम आने वाले समय में मैसेज टेक्नोलॉजी लेकर आएंगे,जिसमें सभी की बातें सीधे बहन जी तक पहुंच सके।

लोकसभा चुनाव में जीतने के लिए कमजोर जनाधार वाले राज्यों में करनी होगी खास मशक्कत

हाल की विधानसभा चुनाव में आकाश आनंद को मध्य प्रदेश,छत्तीसगढ़,और राजस्थान में चुनाव प्रचार की जिम्मेदारी सौंपी गई थी,जिसे उन्होंने पूरा भी किया। उन्होंने इस दौरान कई बड़ी जनसभाएं करते हुए पार्टी के जनाधार को बढ़ाने का प्रयास भी किया।हालांकि पार्टी को उम्मीद के मुताबिक इन राज्यों में सफलता नहीं मिली। ऐसे में अब आकाश आनंद को आगामी लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करने के लिए बीएसपी के कमजोर जन आधार वाले सभी राज्यों में खासी मशक्कत करनी होगी।

Latest articles

13 मार्च के बाद होगी लोकसभा चुनाव की घोषणा ,आठ चरणों में होंगे चुनाव !

न्यूज़ डेस्क उम्मीद की जा रही है कि 13 मार्च के बाद कभी भी लोकसभा...

कांग्रेस कांग्रेस का बड़ा आरोप – जिन 30 कंपनियों की जांच चलती रही ,वही बीजेपी को भरपूर चंदा देती रही

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने बीजेपी पर बड़ा हमला किया है। उन्होंने...

हरियाणा सरकार का किसानों को सौगात,सीएम खट्टर ने कहा दर्द समझने की बात

पंजाब के किसान संगठन हरियाणा की सीमाओं पर डटे हैं और वह दिल्ली कूच...

आखिर कांग्रेस अध्यक्ष खड़गे को क्यों मिली जेड प्लस  सुरक्षा 

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस के दिग्गज नेता और कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को...

More like this

13 मार्च के बाद होगी लोकसभा चुनाव की घोषणा ,आठ चरणों में होंगे चुनाव !

न्यूज़ डेस्क उम्मीद की जा रही है कि 13 मार्च के बाद कभी भी लोकसभा...

कांग्रेस कांग्रेस का बड़ा आरोप – जिन 30 कंपनियों की जांच चलती रही ,वही बीजेपी को भरपूर चंदा देती रही

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने बीजेपी पर बड़ा हमला किया है। उन्होंने...

हरियाणा सरकार का किसानों को सौगात,सीएम खट्टर ने कहा दर्द समझने की बात

पंजाब के किसान संगठन हरियाणा की सीमाओं पर डटे हैं और वह दिल्ली कूच...