Homeदेशपूंछ आतंकी हमले की जांच करेगी एनआईए की टीम, पीएएफएफ ने ली...

पूंछ आतंकी हमले की जांच करेगी एनआईए की टीम, पीएएफएफ ने ली है घटना की जिम्मेवारी ,5 जवानों की शहादत से गमगीन पूरा देश

Published on

बीरेंद्र कुमार झा

जम्मू-कश्मीर के पुंछ में कल सेना के जवानों पर एक बड़ा आतंकी हमला हुआ। घात लगाकर आतंकियों द्वारा किए गए इस हमले में 5 जवान शहीद हो गए,जबकि एक अन्य जवान गंभीर रूप से घायल हो गया। शहीद सभी जवान राष्ट्रीय रायफल्स यूनिट के थे ।इनकी तैनाती इलाके में आतंकवाद विरोधी अभियानों के लिए किया गया था। थल सेना अध्यक्ष जनरल मनोज पांडे समेत भारतीय सेना के सभी रैंकों के अधिकारियों ने ग्रेनेड हमले में शहीद सेना के जांबाज जवान हवलदार मनदीप सिंह, लांसनायक देवाशीष बसवाल, लांसनायक एनके कुलवंत सिंह सिपाही हरकिशन सिंह और सिपाही,सिपाही हरि किशन सिंह और सिपाही सेवक सिंह के सर्वोच्च बलिदान को सलाम किया।

आतंकी हमले की होगी एनआईए जांच

प्राप्त जानकारी के अनुसार जम्मू कश्मीर के पुंछ में हुए इस आतंकी हमले की जांच एनआईए (NIA) करेगी। इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी जैश समर्थित पीपल्स एंटी फास्टिस्ट फ्रंट (PAFF) ने ली है।गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के राजौरी सेक्टर में भीमबेर गली और पूंछ के बीच सेना का वाहन हाईवे से गुजर रहा था।इसी दौरान आतंकवादियों ने पहले गोलीबारी की और फिर से हमला किया। आतंकी हमले में इस्तेमाल किया गया गोली मेड इन चाइना था।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जताया दुख

आतंकी हमले के बाद थलसेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे ने घटना की जानकारी रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को दी थी। राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर अपनी संवेदना भी जताई राजनाथ सिंह ने कहा कि जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले में हुई त्रासदी से दुखी हूं, जहां एक वाहन में आग लगने के बाद भारतीय सेना ने अपने बहादुर जवानों को खो दिया है। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ है।सेना ने कहा कि जिस वाहन में जवान यात्रा कर रहे थे वह हाथ आतंकवादियों के हमले की चपेट में आ गया और ग्रेनेड की चपेट में आने कारण उसमें आग लग गई।

नगरोटा में तैनात थे जवान

आतंकियों के हमले में शहीद हुए जवान नगरोटा में तैनात सेना की 16 वीं कोर सैनिक थे।इनकी पहचान हवलदार संदीप सिंह, लांसनायक देवाशीष विस्वाल, लांसनायक कुलवंत सिंह, सिपाही हरकृष्ण सिंह और सिपाही सेवक सिंह के रूप में हुई है।वहीं जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि वह बहादुर सैनिकों की शहादत से दुखी हैं। उन्होंने कहा राष्ट्र के लिए उनकी सेवा को कभी नहीं भुलाया जा सकता है। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं।

जम्मू कश्मीर में G- 20 की बैठक

कश्मीर में मई में होने वाली जी-20 बैठक को लेकर जम्मू कश्मीर में सुरक्षा तैयारियां तेज कर दी हैं। अंतरराष्ट्रीय सीमा से लेकर नियंत्रण रेखा से सटे क्षेत्रों में सुरक्षा प्रबंध जांचे जा रहे हैं। इसी कड़ी में बुधवार को गृह मंत्रालय की उच्च स्तरीय टीम ने जम्मू के सांबा सेक्टर के सीमावर्ती क्षेत्र का दौरा किया। बीएसएफ और खुफिया विभाग के अधिकारियों ने सरहद पार से जारी आतंकी षड्यंत्र से भी रूबरू कराया।

पाकिस्तान नही चाहता है जम्मूकाश्मीर हो G-20 की बैठक

जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 का विलोपन होने के साथ साथ उग्रवाद प्रभावित इस क्षेत्र का धीरे-धीरे कर पूर्ण रूप से सामान्य होना पाकिस्तान को पच नहीं पा रहा है। उसकी अपनी आर्थिक हालत भले ही भारी तंगी में गुजर रही हो, लेकिन जम्मू कश्मीर में आतंकी घटनाओं को अंजाम देकर वह G- 20 के कश्मीर के कार्यक्रम को रद्द करवाने का मंसूबा पाल रहा है। लगता है पाकिस्तान इस बात को भूल चुका है कि पूर्व में उनके आतंकियों द्वारा भारतीय सेना पर उड़ी और फुलवामा में किए गए हमले का बदला भारत ने पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक कर के लिया था। भारत अपने देश के विभिन्न हिस्सों में जी-20 का आयोजन कर भारत की शांतिप्रियता , विकास तथा पौराणिक और आर्थिक महत्व की झलकियां को विश्व के विभिन्न देशों के नेताओं को दिखा रहा है। जम्मू कश्मीर में भी इसी नीति के तहत जी-20 की बैठक आयोजित है, और भारत इसे हर हाल में करेगा। साथ ही पाकिस्तान को भी इस घटना के लिए बड़ा सबक सिखाएगा।

 

Latest articles

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...

पंजाब के मतदाताओं के नाम आखिर मनमोहन सिंह ने क्यों लिखा पत्र ?

न्यूज़ डेस्क पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने पंजाब के मतदाताओं के नाम एक...

More like this

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...