Homeदेशराजनीति का नया खेल :ओडिशा में विस के 95, लोस के 13...

राजनीति का नया खेल :ओडिशा में विस के 95, लोस के 13 उम्मीदवार हैं करोड़पति

Published on

न्यूज़ डेस्क 
ओडिशा में विधानसभा की 35 सीटों पर चुनाव लड़ रहे कुल 265 उम्मीदवारों में से 95 और लोकसभा की पांच सीटों पर चुनाव लड़ रहे कुल 40 उम्मीदवारों में से 13 करोड़पति हैं।

यह खुलासा ओडिशा इलेक्शन वॉच की ओर से 20 मई को होने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव को लेकर जारी रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट के अनुसार सत्तारूढ़ बीजू जनता दल के 30 उम्मीदवार करोड़पति हैं। इसके बाद भारतीय जनता पार्टीऔर कांग्रेस के क्रमश: 24-24 और एपीपी के तीन उम्मीदवार करोड़पति हैं। तीन प्रमुख राजनीतिक दल बीजद, भाजपा और कांग्रेस सभी 35 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं।, जबकि एपीपी ने 10 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं।

इस चरण में विधानसभा चुनाव लड़ रहे 10 निर्दलीय उम्मीदवार भी करोड़पति हैं, जिनमें भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी  और और मार्क्वादी कम्युनिस्ट पार्टी के क्रमश: एक-एक उम्मीदवार करोड़पति है। वहीं, विधानसभा की 35 सीटों पर शीर्ष दस करोड़पतियों में से सत्तारूढ़ बीजद के छह और भाजपा और कांग्रेस के दो-दो उम्मीदवार हैं।

राउरकेला से भाजपा के उम्मीदवार एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री दिलीप रे 313 करोड़ रुपये से अधिक की कुल संपत्ति के साथ सूची में शीर्ष पर हैं। इसके बाद बीजद के कलिकेश सिंगदेव 73.66 करोड़ रुपये के साथ दूसरे स्थान पर हैं, जबकि मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने अपनी संपत्ति 71.07 करोड़ रुपये घोषित की है। 

राजघराने से ताल्लुक रखने वाले पटनागढ़ से भाजपा उम्मीदवार केवी सिंहदेव ने 67.30 करोड़ रुपये की संपत्ति घोषित की है। पटनागढ़ से मौजूदा बीजद विधायक सरोज मुकर मेहर ने अपनी संपत्ति 67.27 करोड़ रुपये घोषित की है। झारसुगुड़ा से एक अन्य बीजद उम्मीदवार दीपाली दास ने अपनी संपत्ति 37.35 करोड़ रुपये घोषित की है। पटनागढ़ से चुनाव लड़ रहे कांग्रेस के उम्मीदवार अनिल मेहर और दासपल्ला से नकुल नायक भी क्रमश: 14.59 करोड़ रुपये और 14.26 करोड़ रुपये की कुल संपत्ति बतायी है।

रिपोर्ट के अनुसार सबसे कम संपत्ति वाले उम्मीदवारों में बौध विधानसभा सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे प्रदीप साहू हैं, जिन्होंने अपनी संपत्ति केवल 7000 रुपये घोषित की है। सबसे कम संपत्ति वाले अन्य दो उम्मीदवार टिटलागढ़ विधानसभा सीट से कांटाबांजी से अभिराम धारुआ और सत्यनारायण बोहिदार हैं, जिन्होंने अपनी संपत्ति क्रमशः 8000 रुपये और 11,000 रुपये घोषित की है। रिपोर्ट में कहा गया है कि कांटाबांजी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे स्वतंत्र उम्मीदवार सोहन सिप्का ने शून्य संपत्ति घोषित की है।

इसी तरह, राज्य की लोकसभा की पांच सीटों पर 20 मई को होने वाले मतदान में चुनाव लड़ रहे 40 में से 13 उम्मीदवार करोड़पति हैं। इनमें सत्तारूढ़ बीजद, भाजपा और कांग्रेस के चार-चार के अलावा एक निर्दलीय भी शामिल है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 35 विधानसभा सीटों पर बीजद उम्मीदवार की औसत संपत्ति 12.09 करोड़ रुपये है, जबकि भाजपा उम्मीदवार की औसत संपत्ति 13.11 करोड़ रुपये है और कांग्रेस उम्मीदवार की औसत संपत्ति 2.95 करोड़ रुपये है।

Latest articles

30 मई से 1 जून की शाम तक कन्याकुमारी के स्मारक रॉक मेमोरियल में ध्यान करेंगे पीएम मोदी  !

न्यूज़ डेस्क चुनावी हलचल और चुनावी दौरों से थक गए पीएम मोदी अब ध्यान लगाने...

दुमका में दहाड़े मोदी ,जेएमएम,कांग्रेस को मुस्लिम तुष्टिकरण,लव जेहाद और लूट के लिए लताड़ा

लोकसभा चुनाव 2024 के अंतिम चरण में झारखंड में संथाल परगना के तीन लोक...

राहुल का ऐलान ,आरक्षण को 50 फीसदी से आगे बढ़ाएगी इंडिया गठबंधन सरकार !

न्यूज़ डेस्क राहुल गाँधी ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि बीजेपी की सरकार...

Umar Khalid Case: JNU के पूर्व छात्र उमर खालिद को झटका, कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका

न्यूज डेस्क दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली में साल 2020 में हुए दंगों...

More like this

30 मई से 1 जून की शाम तक कन्याकुमारी के स्मारक रॉक मेमोरियल में ध्यान करेंगे पीएम मोदी  !

न्यूज़ डेस्क चुनावी हलचल और चुनावी दौरों से थक गए पीएम मोदी अब ध्यान लगाने...

दुमका में दहाड़े मोदी ,जेएमएम,कांग्रेस को मुस्लिम तुष्टिकरण,लव जेहाद और लूट के लिए लताड़ा

लोकसभा चुनाव 2024 के अंतिम चरण में झारखंड में संथाल परगना के तीन लोक...

राहुल का ऐलान ,आरक्षण को 50 फीसदी से आगे बढ़ाएगी इंडिया गठबंधन सरकार !

न्यूज़ डेस्क राहुल गाँधी ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि बीजेपी की सरकार...