Homeदेशछह राज्यों की 7 सीटों पर उपचुनाव, I.N.D.I.A.गठबंधन के लिए पहली 'अग्नि...

छह राज्यों की 7 सीटों पर उपचुनाव, I.N.D.I.A.गठबंधन के लिए पहली ‘अग्नि परीक्षा’

Published on

विकास कुमार
छह राज्यों की सात विधानसभा सीटों पर उपचुनाव से लोगों के मूड का पता चलेगा। छह राज्यों में होने वाले उपचुनाव को लोकसभा चुनाव से पहले बेहद खास माना जा रहा है। बंगाल की धूपगुड़ी, त्रिपुरा की धनपुर व बाक्सानगर, केरल की पुडुपल्ली, झारखंड की डुमरी, उत्तराखंड की बागेश्वर और उत्तर प्रदेश की घोसी सीट पर उपचुनाव हुए हैं। यानी भारत के अलग अलग हिस्से में उपचुनाव हो रहा है,इससे भारत के अलग अलग हिस्से में जनता का मिजाज पता चलेगा।

पश्चिम बंगाल की धुपगुड़ी सीट के बारे में सबसे पहले बात करते हैं,धुपगुड़ी सीट पर कांग्रेस और लेफ्ट का गठबंधन है। टीएमसी और बीजेपी ने भी अपना उम्मीदवार उतारा है। हालांकि कांग्रेस ने नहीं बल्कि लेफ्ट ने उम्मीदवार खड़ा किया है। हैरानी की बात ये है कि इंडिया गठबंधन की पार्टियां बंगाल में एक दूसरे के खिलाफ लड़ रही हैं। इससे इंडिया गठबंधन की एकता पर सवाल खड़ा हो रहा है।

वहीं उत्तर प्रदेश के घोसी सीट पर बीजेपी कैंडिडेट दारा सिंह चौहान और सपा कैंडिडेट सुधाकर सिंह के बीच कांटे की टक्कर चल रही है। यहां बीएसपी ने कोई उम्मीदवार नहीं उतारा है,लेकिन कांग्रेस ने सपा कैंडिडेट सुधाकर सिंह को समर्थन दिया है।

वहीं केरल में पुथुप्पल्ली सीट पर होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस और वाम दल की भिड़ंत हुई है। ताज्जुब की बात है कि यहां भी इंडिया गठबंधन की पार्टी एक दूसरे के खिलाफ लड़ रही है।कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूडीएफ ने पूर्व सीएम की मृत्यु के बाद सहानुभूति लहर का लाभ उठाने के लिए चांडी के बेटे चांडी ओमन को मैदान में उतारा है।

वहीं त्रिपुरा के धनपुर और बॉक्सानगर विधानसभा सीटों पर भी मतदान हुआ है,दोनों सीटों पर ‘इंडिया’ गठबंधन और बीजेपी के उम्मीदवारों के बीच मुकाबला है। बॉक्सानगर निर्वाचन क्षेत्र में बीजेपी के तफज्जुल हुसैन, सीपीआई (एम) के मिजान हुसैन को टक्कर देंगे। मुस्लिम बहुल बॉक्सानगर अभी भी वामपंथी पार्टी का गढ़ माना जाता है। वहीं, धनपुर में बीजेपी की बिंदू देवनाथ और सीपीआई (एम) के कौशिक देवनाथ के बीच सीधी लड़ाई है।

वहीं झारखंड के डुमरी में एनडीए और इंडिया अलायंस के बीच सीधा मुकाबला है। डुमरी में इंडिया अलायंस कैंडिडेट बेबी देवी का सीधा मुकाबला एनडीए कैंडिडेट यशोदा देवी से है। यह सीट जेएमएम विधायक जगरनाथ महतो की मृत्यु के बाद खाली हो गई थी। जगरनाथ महतो के अचानक निधन होने से सहानुभूति लहर का फायदा इंडिया अलायंस को होने की उम्मीद जताई जा रही है।

उत्तराखंड में बागेश्वर सीट पर बीजेपी और कांग्रेस में सीधी टक्कर है। बीजेपी ने सीट बरकरार रखने के लिए पार्वती दास को मैदान में उतारा है। इस सीट से उनके पति चंदन दास 2007 से लगातार चार चुनाव जीते थे। यह सीट उनकी मौत के बाद खाली हुई थी।

राजनीति के जानकार इस उपचुनाव को इंडिया गठबंधन के लिए एक अग्निपरीक्षा की तरह देख रहे हैं। उनका मानना है कि ये उपचुनाव लोकसभा चुनाव से ठीक पहले काफी हद तक ये साबित कर सकते हैं कि देश में इंडिया गठबंधन को जनता आने वाले समय में एनडीए की तुलना में कितना स्वीकार कर सकती है।

Latest articles

मुफ्त की योजनाएं या ‘जीवंत’ जीवन…!

पिछले सप्ताह यानी 14 जुलाई 2024 को मैंने इसी 'प्रहार' कॉलम में ये -...

महबूबा मुफ़्ती ने क्यों कहा कि बीजेपी सरकार उड़ा रही है संविधान की धज्जियां ?

न्यूज़ डेस्क यूपी की योगी सरकार की तरफ से जैसे ही कावड़ यात्रा के...

जम्मू कश्मीर में पांच सौ पैरा कमांडो तैनात ,पाक आतंकियों का अब होगा खात्मा !

न्यूज़ डेस्क जम्मू कश्मीर में जिस तरह फिर से आतंकवाद सिर उठा रहा है...

बांग्लादेश की हालत ख़राब ,अब तक 900 भारतीय लौटे भारत

न्यूज़ डेस्क बांग्लादेश में लगातार हो रही हिंसा के बीच पूरे देश में कर्फ्यू लगा...

More like this

मुफ्त की योजनाएं या ‘जीवंत’ जीवन…!

पिछले सप्ताह यानी 14 जुलाई 2024 को मैंने इसी 'प्रहार' कॉलम में ये -...

महबूबा मुफ़्ती ने क्यों कहा कि बीजेपी सरकार उड़ा रही है संविधान की धज्जियां ?

न्यूज़ डेस्क यूपी की योगी सरकार की तरफ से जैसे ही कावड़ यात्रा के...

जम्मू कश्मीर में पांच सौ पैरा कमांडो तैनात ,पाक आतंकियों का अब होगा खात्मा !

न्यूज़ डेस्क जम्मू कश्मीर में जिस तरह फिर से आतंकवाद सिर उठा रहा है...