Homeदेशओडिशा में पीएम मोदी ने नवीन पटनायक पर किया हमला ,कहा पटनायक...

ओडिशा में पीएम मोदी ने नवीन पटनायक पर किया हमला ,कहा पटनायक को ओडिशा के बारे में कुछ भी पता नहीं 

Published on

न्यूज़ डेस्क 

 प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक पर जमकर हमला बोला और उन्हें कागज की मदद के बिना राज्य में जिलों और उसके मुख्यालयों के नाम बताने की चुनौती दी।

 मोदी ने फुलबनी के स्टेडियम में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए उन्हें जिम्मेदारी संभालने वाले किसी भी व्यक्ति की आलोचना या बदनाम करने की आदत नहीं है, लेकिन ओडिशा की मौजूदा स्थिति को देखकर उन्हें बहुत दुख हो रहा है।

उन्होंने कहा “नवीन पटनायक कई वर्षों से राज्य के मुख्यमंत्री रहे हैं। मैंने उन्हें कागज के टुकड़े के बिना जिलों और उसके मुख्यालयों का नाम बताने की चुनौती दी है।” उन्होंने श्री पटनायक पर तंज कसते हुए कहा कि जो मुख्यमंत्री अपने राज्य के जिलों और उसके मुख्यालयों का नाम तक नहीं बता सकते, वे यहां लोगों की दुर्दशा और पीड़ा को कैसे समझ सकते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि गुजरात के पास नमक के अलावा कुछ भी नहीं है, फिर भी यह ओडिशा की तुलना में विकास में बहुत आगे है, जो वन और खनिज संसाधनों में समृद्ध होने के बावजूद अभी भी पिछड़ा हुआ है तथा जहां लोग अभी भी गरीबी की मार झेल रहे हैं।

उन्होंने कहा, “हम एक ऐसा मुख्यमंत्री चाहते हैं जो राज्य के लोगों से जुड़ा हो। ओडिया के गौरव , संस्कृति और परंपरा को समझता हो।” उन्होंने लोगों से अपील की कि वे भाजपा को पांच साल तक ओडिशा की सेवा करने का मौका दें, ताकि राज्य को देश में नंबर एक राज्य के रूप में विकसित किया जा सके।

प्रधानमंत्री ने श्रीजगन्नाथ मंदिर के खजाने के रिकॉर्ड को बनाये रखने में विफलता के लिए राज्य सरकार की भी आलोचना की। उन्होंने कहा, “करीब 70 साल पहले नियम बनाये गये थे कि मंदिर के खजाने का रिकॉर्ड रखा जायेगा। रत्न भंडार की आखिरी सूची लगभग 45 साल पहले बनायी गयी थी। मंदिर का रत्न भंडार पिछले 40 साल से नहीं खुला है और पिछले छह साल से रत्न भंडार की चाबियां गायब हैं। राज्य सरकार रत्न भंडार की चाबियां नहीं रख सकी और डुप्लीकेट चाबी लेकर आयी, जो चाबी के गायब होने से भी अधिक गंभीर है।” उन्होंने कहा कि राज्य के लोगों को यह जानने का पूरा अधिकार है कि चाबियों का क्या हुआ और चाबी किसने ली तथा डुप्लीकेट चाबी किसने तैयार की।

मोदी ने कहा कि मामले की जांच के लिए आयोग का गठन किया गया था। आयोग ने अपनी रिपोर्ट सौंप दिये जाने के बावजूद सरकार ने इसे सार्वजनिक नहीं किया है। उन्होंने अरोप लगाया कि भाजपा की प्रदेश इकाई बार-बार रत्न भंडार मुद्दे को उठा रही है, लेकिन नवीन पटनायक सरकार भाग रही है। उन्होंने सवाल किया कि सरकार की क्या मजबूरी है और बीजद सरकार क्यों छिप रही है और इसे छुपाने की कोशिश कर रही है? उन्होंने आश्वस्त किया कि राज्य में भाजपा के सत्ता में आने पर रत्न भंडार का मुद्दा उठाया जाएगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने ओडिशा को कंधमाल हल्दी के लिए जीआई टैग प्रदान किया है तथा कंधमाल में मसाला पार्क स्थापित किया जाएगा। बीजद नेताओं पर आदिवासियों की जमीन छीनने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि अगर भाजपा राज्य में सत्ता में आयी तो वह आदिवासियों की जमीन छीनने वाले भू-माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करेगी।

Latest articles

ब्रजभूषण शरण सिंह के बेटे के काफिले की कार ने बाइक सवारों को रौंदा, 2 की मौत,

  महिला पहलवानों से यौन शोषण का आरोपी और उत्तर प्रदेश के कैसरगंज से मौजूदा...

Beautiful Blouse Design: सिंपल साड़ी को भी फैशनेबल बना देंगे ये फैंसी ब्लाउज डिजाइन

Blouse Design साड़ी और ब्लाउज महिलाओं का पारंपरिक पोशाक है। बदलते वक्त के साथ महिलाएं...

Gold-Silver Price Today 29 May 2024: सोना- चांदी में फिर आई तेजी, जानिए 10 ग्राम गोल्ड का आज का भाव

न्यूज डेस्क सोना चांदी के दाम में लगातार उतार चढ़ाव देखने को मिल रहा हैं।...

केजरीवाल को 2 जून को करना होगा सरेंडर! सुप्रीम कोर्ट में खारिज हुई केजरीवाल की याचिका

दिल्ली की आबकारी नीति मामले में सीएम अरविंद केजरीवाल को मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट...

More like this

ब्रजभूषण शरण सिंह के बेटे के काफिले की कार ने बाइक सवारों को रौंदा, 2 की मौत,

  महिला पहलवानों से यौन शोषण का आरोपी और उत्तर प्रदेश के कैसरगंज से मौजूदा...

Beautiful Blouse Design: सिंपल साड़ी को भी फैशनेबल बना देंगे ये फैंसी ब्लाउज डिजाइन

Blouse Design साड़ी और ब्लाउज महिलाओं का पारंपरिक पोशाक है। बदलते वक्त के साथ महिलाएं...

Gold-Silver Price Today 29 May 2024: सोना- चांदी में फिर आई तेजी, जानिए 10 ग्राम गोल्ड का आज का भाव

न्यूज डेस्क सोना चांदी के दाम में लगातार उतार चढ़ाव देखने को मिल रहा हैं।...