Homeदेशबिहार के नवादा में हर घर पहुंचा गंगाजल ,सीएम नीतीश ने किया...

बिहार के नवादा में हर घर पहुंचा गंगाजल ,सीएम नीतीश ने किया लोकार्पण

Published on

न्यूज़ डेस्क 
नवादा से गंगा नदी कोसों दूर है लेकिन  नवादा के हर घर को आज से गंगाजल मिलन शुरू हो गया। अमृत समान के पानी को देखकर ,छू कर और पी कर लोग गदगद हैं। नीतीश को लोग आशीष  दे रहे हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज नवादा जिला के कादिरगंज के पौरा गांव में गंगाजल आपूर्ति योजना का लोकार्पण किया नवादा के लोग जयकारे लगाए। इस जयकारे से सीएम भी गदगद हो गए।      

                 
कुमार ने शुक्रवार को लोकार्पण के अवसर पर वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पूजा-अर्चना की और राज्य की सुख-शांति और समृद्धि की कामना की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 3.6 करोड़ लीटर क्लियर वाटर पंप हाऊस का उद्घाटन किया। उन्होंने जल शोधन संयंत्र का अवलोकन किया। इस दौरान जल शोधन संयंत्र के अवयव प्री सेटलिंग टैंक, कैस्केड एरियेटर, फ्लैश मिक्सचर, क्लैरी फ्लो कुलेटर एवं फिल्टर यूनिट के संबंध में विस्तृत जानकारी ली।


              मुख्यमंत्री ने जल शोधन केंद्र परिसर में पौधारोपण किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने गंगाजल आपूर्ति योजना के कार्य के सफल क्रियान्वयन के लिए अधिकारियों और अभियंताओं को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया।


                    कुमार ने गंगाजल आपूर्ति योजना के शुभारंभ के बाद स्वयं पानी पीकर नवादा में हर घर तक गंगाजल को शुद्ध पेयजल के रूप में पहुंचाने की शुरुआत की। अब गंगाजी राजगृह जलाशय से लगभग 20 किलोमीटर पाइप लाइन बिछाकर नवादा के पौरा में जल-शोधन संयंत्र तक गंगाजल को पहुंचाया जा रहा है। यहां से नवादा शहर के घर-घर में बुडको (नगर आवास एवं विकास विभाग) द्वारा पानी पहुंचाने की व्यवस्था की गयी है। पौरा के इस जल-शोधन संयंत्र में 3.6 करोड़ लीटर प्रतिदिन पानी को साफ करने की क्षमता है। वहीं पर एक मास्टर अंडरग्राउंड रिजर्वायर का निर्माण भी किया गया है। जिसमें 36 मिलियन लीटर पानी साफ करने के बाद रखा जा सकता है।


                व्यवस्था ऐसी की गई है कि मास्टर अंडरग्राउंड रिजर्वायर से सीधे बुडको के चार संप हाउस में पानी भेजा जाएगा। संप हाउस से पंप के माध्यम से पानी को 4 वाटर टैंकों में भेजा जाएगा। प्रत्येक टैंक की क्षमता लगभग साढ़े चार लाख लीटर है। इन टैंकों के माध्यम से नवादा शहर के सभी घरों को पानी की आपूर्ति की जाएगी। इसके अंतर्गत प्रत्येक व्यक्ति को प्रतिदिन 135 लीटर (8-9 बाल्टी) की दर से गंगाजल की आपूर्ति की जाएगी। विद्युत आपूर्ति के लिए पौरा स्थित जल-शोधन संयंत्र के पास ही अलग से विद्युत सब-स्टेशन का भी निर्माण किया गया है।


                   इस योजना के शुरू होने से नवादा शहर के लोगों के साथ-साथ होटल, धर्मशाला, शिक्षण संस्थान इत्यादि में भी पेयजल की आपूर्ति होगी। इससे भू-गर्भ जल पर निर्भरता कम होगी तथा भू-गर्भ जल का दोहन कम होगा और धीरे-धीरे जल स्तर में बढ़ोतरी होगी। यह पर्यावरण संरक्षण के अनुकूल योजना है एवं इससे पूरा वातावरण बेहतर होगा।


Latest articles

आखिर सुप्रीम कोर्ट ने  बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि पर क्यों जारी किया नोटिस ?

न्यूज़ डेस्क सुप्रीम कोर्ट ने बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि पर नोटिस जारी किया है।...

हिमाचल की सुख्खू सरकार संकट में ,विधायकों ने किया क्रॉस वोटिंग !

न्यूज़ डेस्क क्या हिमचाल की कांग्रेस सरकार में सबकुछ ठीक नहीं है ? राज्यसभा की...

राज्यसभा चुनाव : अखिलेश यादव ने क्यों कहा कि दूसरों के लिए गढ़े खोदने वाले उसी में गिरते हैं 

न्यूज़ डेस्क उत्तर प्रदेश में 10 राज्यसभा सीटों पर हो रहे चुनाव में मतदान के...

क्या छत्तीसगढ़ के कांकेर में  फर्जी मुठभेड़ में मारे गए तीन कथित नक्सली ?

न्यूज़ डेस्क छत्तीसगढ़ के कांकेर में पुलिस मुठभेड़ में मारे गए तीन लोगों की मौत...

More like this

आखिर सुप्रीम कोर्ट ने  बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि पर क्यों जारी किया नोटिस ?

न्यूज़ डेस्क सुप्रीम कोर्ट ने बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि पर नोटिस जारी किया है।...

हिमाचल की सुख्खू सरकार संकट में ,विधायकों ने किया क्रॉस वोटिंग !

न्यूज़ डेस्क क्या हिमचाल की कांग्रेस सरकार में सबकुछ ठीक नहीं है ? राज्यसभा की...

राज्यसभा चुनाव : अखिलेश यादव ने क्यों कहा कि दूसरों के लिए गढ़े खोदने वाले उसी में गिरते हैं 

न्यूज़ डेस्क उत्तर प्रदेश में 10 राज्यसभा सीटों पर हो रहे चुनाव में मतदान के...