Homeदेशगाजा पट्टी में हमास और इजरायल की भीषण लड़ाई ,250 बंधकों को...

गाजा पट्टी में हमास और इजरायल की भीषण लड़ाई ,250 बंधकों को इजरायल ने छुड़ाया !

Published on


न्यूज़ डेस्क 

हमास और इजरायल के बीच भीषण लड़ाई जारी है। दोनों तरफ से हमले जारी है। अभी तक यह नहीं कहा जा सकता है कि कौन किस पर भारी है। एक तरफ हमास पूरी ताकत से युद्ध में डटा हुआ है तो दूसरी तरफ इजरायल किसी भी सूरत में हमास को नेस्तनाबूत करने को तैयार है। इस लड़ाई में गाजापट्टी पूरी तरह से तबाही के कगार पर है। इजरायल की तरफ से आ रही खबर के मुताबि इजरायल ने हमास के बंधन से ढाई से ज्यादा बंधकों को छुड़ा लिया है। गाजापट्टी में दो हजार से ज्यादा लोगों के मारे जाने की खबर मिल रही है तो इजरायल में भी करीब 15 सौ से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। हर रोज बड़े स्तर पर लोगों की जाने जा रही है।      
                 इजरायली डिफेंस फोर्सेस ने एक वीडियो जारी करते हुए लिखा, इजरायली सेना ने गाजा सिक्योरिटी फेंस के नजदीक एक बड़ा लाइव ऑपरेशन करते हुए हमास द्वारा बंधक बनाए गए 250 बंधकों को छुड़ा लिया। इस दौरान हमास के 60 से ज्यादा लड़ाके मारे गए। आईडीएफ के मुताबिक, इस दौरान 26 को पकड़ा गया। इनमें हमास दक्षिणी नौसेना डिवीजन के उप कमांडर मुहम्मद अबू अली भी शामिल है।
                           इजरायल ने दावा किया है कि उसने गाजा पर हमास के ठिकानों को निशाना बनाने के लिए 6 हजार बम गिराए हैं, जिनका वजह 4 हजार टन रहा है। यह सारे बम 6 दिनों के अंदर गिराए गए हैं। इजरायली एयरफोर्स ने बताया कि 3600 जगहों को टारगेट किया गया है।
                            संयुक्त राष्ट्र महासचिव के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक के मुताबिक, इजरायल और हमास के बीच चल रहे जंग की वजह से 4.23 लाख फलस्तीनी बेघर हुए हैं। दुजारिक ने बताया कि गाजा में संयुक्त राष्ट्र के तहत चलाए जाने वाले 92 स्कूलों में करीब 2,18 लाख लोगों ने शरण ली है।
                      उधर ,विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चेतावनी देते हुए कहा है कि गाजा की स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, यह टूटने की कगार पर है। इजरायल की एयरस्ट्राइक की वजह से गाजा के अस्पतालों को भी नुकसान पहुंचा है। गाजा में मानवीय आपदा की चेतावनी दी गई है।
                    इजरायल के सूचना मंत्री गैलिट डिस्टेल एटबेरियन ने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपने मंत्रालय के पैसे को दक्षिणी इजरायल के नागरिकों के लिए इस्तेमाल करने को कहा। उन्होंने कहा कि यह कार्यालय देश के लिए कोई महत्वपूर्ण योगदान नहीं दे सकता। लोगों के पैसे को सही जगह इस्तेमाल किया जाए।

Latest articles

चरित्रहीन राजनीति में सब कुछ जायज ,अब बीजेपी के साथ हाथ मिलाने को बेकरार केसीआर !

अखिलेश अखिल नेताओं और राजनीति पर वैसे भी कोई यकीन नहीं करता क्योंकि राजनीति तो...

मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, पूर्व अग्निवीरों को सीआईएसएफ और बीएसएफ में छूट मिलेगी

18 वीं लोकसभा चुनाव में जिस आधार पर कांग्रेस और इंडिया गठबंधन के अन्य...

बहुत कहता है समुद्री पारिस्थितिकी पर चीन का श्वेत पत्र !

न्यूज़ डेस्क चीनी राज्य परिषद के सूचना कार्यालय ने संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर चीनी समुद्री...

केजरीवाल की याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा फैसला !

न्यूज़ डेस्क दिल्ली में कथित आबकारी नीति घोटाले से जुड़े धनशोधन मामले में प्रवर्तन निदेशालय...

More like this

चरित्रहीन राजनीति में सब कुछ जायज ,अब बीजेपी के साथ हाथ मिलाने को बेकरार केसीआर !

अखिलेश अखिल नेताओं और राजनीति पर वैसे भी कोई यकीन नहीं करता क्योंकि राजनीति तो...

मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, पूर्व अग्निवीरों को सीआईएसएफ और बीएसएफ में छूट मिलेगी

18 वीं लोकसभा चुनाव में जिस आधार पर कांग्रेस और इंडिया गठबंधन के अन्य...

बहुत कहता है समुद्री पारिस्थितिकी पर चीन का श्वेत पत्र !

न्यूज़ डेस्क चीनी राज्य परिषद के सूचना कार्यालय ने संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर चीनी समुद्री...