Homeदुनियाचीन और ताइवान के बीच बढ़ी युद्ध की आशंका 

चीन और ताइवान के बीच बढ़ी युद्ध की आशंका 

Published on

न्यूज़ डेस्क  
जिस तरह से चीन ताइवान के चारो तरफ युद्ध का अभ्यास कर रहा है उससे चीन और ताइवान के बीच युद्ध की सम्भावना बढ़ती जा रही है। चीन के इस खेल से एक तरफ अमेरिका भी नाराज है। अमेरिका ताइवान का समर्थक देश है। चीन की युद्धाभ्यास में एयर फोर्स, नेवी और आर्मी शामिल रही और कई फाइटर जेट्स और वॉरशिप्स का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।   

बता दें कि चीन और ताइवान के बीच लंबे समय से विवाद चला आ रहा है। दोनों देशों के बीच लंबे समय से चल रहे विवाद से दोनों देशों के बीच तनाव की स्थिति भी बनी हुई है। हालांकि पिछले एक साल में चीन और ताइवान के बीच टेंशन और भी बढ़ी है। चीन से चल रही टेंशन के बीच ताइवान को अमेरिका का समर्थन मिलने से भी चीन की नाराज़गी बढ़ी है।

हाल ही में लाई चिंग-ते ने ताइवान के नए राष्ट्रपति के तौर पर शपथ भी ली है। इतना ही नहीं, ताइवान अमेरिका से हथियार भी खरीद रहा है। ऐसे में चीन ताइवान की इन हरकतों को अलगाववादी मानता है और इसी वजह से उसने ताइवान की बॉर्डर के पास एक बार फिर सैन्य अभ्यास किया।

चीन ने आज ताइवान को चेतावनी देने के लिए और उसकी हरकतों की सज़ा के तौर पर ताइवान को घेरते हुए सैन्याभ्यास किया। इतना ही नहीं, चीन की तरफ से यह भी साफ कर दिया गया कि ताइवान की स्वतंत्रता सेना के सिर तोड़ दिए जाएंगे और उनका खून भी बहाया जाएगा।

हालांकि यह पहला मौका नहीं है जब चीन ने ताइवान के पास सैन्याभ्यास किया है। पिछले एक साल में चीन कई बार ऐसा कर चुका है। चीन के ऐसा करने को उसके ताइवान को घेरने की तैयारी भी बताया जाता है।

ताइवान ने चीन के सैन्याभ्यास की निंदा की है। ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने चीन की इस हरकत की निंदा करते हुए एयर फोर्स, नेवी और आर्मी को स्थिति को सामान्य बनाए रखने और देश की स्वतंत्रता और लोकतंत्र बनाए रखने के लिए तैनात कर दिया है।

दरअसल चीन और ताइवान 1949 में एक-दूसरे से अलग हो गए थे। तभी से ताइवान अपना स्वतंत्र अस्तित्व मानता है और खुद को एक स्वतंत्र देश बताता है। दूसरे कई देश भी ताइवान को एक स्वतंत्र देश मानते हैं। वहीं चीन इसका विरोध करता है और ताइवान को अपना हिस्सा मानता है। दोनों देशों के बीच विवाद की यही वजह है।

Latest articles

बीजेपी से हितों की उम्मीद – दिवास्वप्न!

ऐसा देखा गया है कि भाजपा ने लगातार अन्य राजनीतिक दलों को विभाजित करने,...

आईएनएस सुनयना का एमसीजी डोर्नियर और मॉरीशस पुलिस बल ने किया जोरदार स्वागत !

न्यूज़ डेस्क भारत का आईएनएस सुनयना इन दिनों मॉरीशस पहुंचा हुआ है। समुद्र में लम्बी...

केन्द्रीय बजट 2024-25 के लिए सुझाव लेने हेतु वित्त मंत्रियों के साथ सीतारमण ने की बैठक 

न्यूज़ डेस्क केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज नई दिल्ली में...

जोधपुर में साम्प्रदायिक हिंसा ,हिरासत में लिए गए 40 लोग 

न्यूज़ डेस्क राजस्थान का जोधपुर अचानक हिंसाग्रस्त हो गया। दो समुदायों के बीच हिंसक झड़पे...

More like this

बीजेपी से हितों की उम्मीद – दिवास्वप्न!

ऐसा देखा गया है कि भाजपा ने लगातार अन्य राजनीतिक दलों को विभाजित करने,...

आईएनएस सुनयना का एमसीजी डोर्नियर और मॉरीशस पुलिस बल ने किया जोरदार स्वागत !

न्यूज़ डेस्क भारत का आईएनएस सुनयना इन दिनों मॉरीशस पहुंचा हुआ है। समुद्र में लम्बी...

केन्द्रीय बजट 2024-25 के लिए सुझाव लेने हेतु वित्त मंत्रियों के साथ सीतारमण ने की बैठक 

न्यूज़ डेस्क केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज नई दिल्ली में...