Homeदेशचुनावी बांड : कौन हैं 1368 करोड़ के 'महादानी' सैंटियागो मार्टिन? क्या...

चुनावी बांड : कौन हैं 1368 करोड़ के ‘महादानी’ सैंटियागो मार्टिन? क्या ईडी करेगी जांच ?

Published on

अखिलेश अखिल 
चुनावी बांड की शुरुआती जानकारी सामने आने के बाद एक महादानी कारोबारी सामने आया है। नाम है सैंटियागो मार्टिन। काम है लॉटरी का खेल और फ्यूचर गेमिंग। इस कंपनी ने 1360 करोड़ का महादान चुनावी बांड के रूप में किया है। कल्पना कीजिए लॉटरी के जरिये जो दूसरों को तहतगता हो वह आखिर किस बिहान पर चुनावी दलों को चन्दा देता रहा है ?

क्या बीजेपी ,कांग्रेस और तमाम दाल जिन्होंने इस चंदे को लिया है उसके पास कोई जवाब है ? जो देश को लूटता है और देश के कई इलाकों में जिनकी बदनामी है वह चुनावी चंदे के जरिये राजनीतिक दलों को अपने जाल में लेता रहा। जाहिर है इसके एवज में उसे कोई लाभ तो मिला ही होगा। यह यह मान लिया जाए कि राजनीतिक दलों ने उसे देश की जनता को लूटने का लाइसेंस दिया और बदले में चंदा पाया ?

भारतीय निर्वाचन आयोग ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट के आदेश का अनुपालन करते हुए चुनावी बॉन्ड का विवरण प्रकाशित किया। भारतीय स्टेट बैंक ने चुनाव आयोग को 12 मार्च को ये आंकड़े सौंपे थे। आंकड़ों के अनुसार, जो अब ईसीआई वेबसाइट पर उपलब्ध है, कोयंबटूर स्थित कंपनी फ्यूचर गेमिंग व होटल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड का नाम चुनावी बॉन्ड के सबसे बड़ा दानदाता के रूप में सामने आया। फ्यूचर गेमिंग की स्थापना 1991 में लॉटरी किंग ऑफ इंडिया सैंटियागो मार्टिन ने की थी।

आंकड़ों के अनुसार, अप्रैल 2019 से खरीदे गए इलेक्टोरल बॉन्ड के कुल मूल्य का आधा हिस्सा 23 कंपनियों का है। कोयंबटूर स्थित लॉटरी सेवा फर्म फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड शीर्ष खरीदार है। ईसीआई द्वारा प्रकाशित सूची में 12,155.51 करोड़ रुपये के बॉन्ड का विवरण दिया गया है, जिसे लगभग पांच वर्षों में 1,300 से अधिक कंपनियों द्वारा खरीदा गया था।

आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि फ्यूचर गेमिंग और होटल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड ने 1,368 करोड़ रुपये के बॉन्ड खरीदे और इस तरह यह 1,000 करोड़ रुपये से अधिक का दान करने वाली अकेली कंपनी है।

फ्यूचर गेमिंग की स्थापना 1991 में लॉटरी किंग ऑफ इंडिया सैंटियागो मार्टिन ने की थी।
तमिलनाडु की तत्कालीन मुख्यमंत्री जयललिता द्वारा 2003 में लॉटरी पर प्रतिबंध लगाए जाने के बाद सैंटियागो मार्टिन ने अपना अधिकांश कारोबार कर्नाटक और केरल में स्थानांतरित कर दिया था।

सैंटियागो मार्टिन का फ्यूचर गेमिंग दक्षिण भारत में मार्टिन कर्नाटक के रूप में एक सहायक कंपनी के तहत संचालित होता है, और नॉर्थ ईस्ट में, इसने मार्टिन सिक्किम लॉटरी खोली। मार्टिन को सिक्किम लॉटरी का मास्टर डिस्ट्रीब्यूटर कहा जाता था।

फ्यूचर गेमिंग 13 राज्यों में 1,000 से अधिक कर्मचारियों के कार्यबल का दावा करता है। इन राज्यों में लॉटरी कानूनी रूप से वैध है। ये 13 राज्य हैं अरुणाचल प्रदेश, असम, गोवा, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, पंजाब, सिक्किम और पश्चिम बंगाल। नागालैंड और सिक्किम में फ्यूचर लोकप्रिय ‘डियर लॉटरी’ का एकमात्र वितरक है।

फ्यूचर गेमिंग वेबसाइट के अनुसार सैंटियागो मार्टिन लाइबेरिया के लिए कॉन्सल जनरल भी थे, वहां भी उन्होंने लॉटरी उद्योग की स्थापना की थी।सैंटियागो मार्टिन लॉटरी वितरकों, स्टॉकिस्टों और एजेंटों की लॉबी ऑल इंडिया फेडरेशन ऑफ लॉटरी ट्रेड एंड एलाइड इंडस्ट्री के अध्यक्ष भी हैं।

फ्यूचर गेमिंग कानूनी मामलों में उलझा रहा है। 2022 में, प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में लॉटरी कंपनी फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड और इसके विभिन्न उप-वितरकों की ₹409 करोड़ से अधिक की संपत्ति जब्त की थी।

ईडी ने तब कहा था कि लॉटरी टिकटों की बिक्री की आय को अवैध रूप से उपहार और इन्सेंटिव देने में इस्तेमाल किया जा रहा है। दावा किया गया था कि कंपनी ने 2014 और 2017 के बीच अवैध रूप से लगभग 400 करोड़ रुपये का दावा किया है।

9 मार्च 2024 को, ईडी  ने तमिलनाडु में कथित अवैध रेत खनन की जांच से जुड़ी मनी लॉन्ड्रिंग की पड़ताल के हिस्से के रूप में तमिलनाडु में ‘लॉटरी किंग’ सैंटियागो मार्टिन के दामाद आधार अर्जुन के परिसर में तलाशी ली थी।

ईडी ने सैंटियागो मार्टिन के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग के एक अन्य मामले की जांच की है, जो सिक्किम सरकार की लॉटरी की बिक्री से संबंधित कथित अपराधों के लिए उनके और अन्य के खिलाफ सीबीआई के मामले से उपजा है।

पब्लिक डोमेन में उपलब्ध जानकारी के अनुसार कंपनी के एक निदेशक मार्टिन सेंटियागो देश की 114 अलग-अलग कंपनियों में निदेशक के तौर पर जुड़े हुए हैं। वे 30 दिसंबर 1991 से कंपनी के निदेशक हैं। उनका डीआईएन नंबर 00029458 है।
फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड के दूसरे निदेशक मनिक्का गौडर शिवप्रकाश भी देश की करीब 22 अलग-अलग कंपनियों में निदेशक के तौर पर जुड़े हुए हैं। वे 22 अगस्त, 2022 से कंपनी के निदेशक हैं। उनका डीआईएन नंबर 08109321 है। कंपनी अपने दोनों निदेशकों के माध्यम से देश की 118 कंपनियों से जुड़ी हुई है।
फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड 30 दिसंबर, 1991 को रजिस्टर्ड एक गैर सूचीबद्ध निजी कंपनी है।
यह प्राइवेट लिमिटेड कंपनी है और यह तमिलनाडु के कोयंबटूर में स्थित है। इसकी अधिकृत शेयर पूंजी 50.00 करोड़ रुपये है और कुल चुकता पूंजी (पेड अप कैपिटल) 10.07 करोड़ रुपये है।
31 मार्च, 2022 को समाप्त होने वाले वित्तीय वर्ष के लिए फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज़ का परिचालन राजस्व 500 करोड़ से अधिक था। 

Latest articles

छत्तीसगढ़ पुलिस मुठभेड़ में अबतक 29 नक्सली मारे गए ,सेर्च ऑपरेशन जारी 

न्यूज़ डेस्कछत्तीसगढ़ से बड़ा अपडेट सामने आ रहा है। मिल रही जानकारी के मुताबिक़...

हेमंत सोरेन जमानत याचिका में कहा उनकी गिरफ्तारी राजनीति से प्रेरित और सुनियोजित साजिश !

न्यूज़ डेस्क झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने  रांची की एक विशेष अदालत में...

कांग्रेस के फर्जी वीडियो के खिलाफ अभिनेता आमिर खान ने कराई शिकायत दर्ज

न्यूज़ डेस्क फिल्म अभिनेता आमिर खान ने कांग्रेस के एक फर्जी वीडियो के खिलाफ शिकायत...

ईरान पर इजराइल करेगा बड़ा हमला,इजराइल वार कैबिनेट के फैसले से सहमी दुनिया !

न्यूज़ डेस्क अब ईरान पर इजराइल बड़े हमले की तैयारी में हैं। इजराइल कैबिनेट ने...

More like this

छत्तीसगढ़ पुलिस मुठभेड़ में अबतक 29 नक्सली मारे गए ,सेर्च ऑपरेशन जारी 

न्यूज़ डेस्कछत्तीसगढ़ से बड़ा अपडेट सामने आ रहा है। मिल रही जानकारी के मुताबिक़...

हेमंत सोरेन जमानत याचिका में कहा उनकी गिरफ्तारी राजनीति से प्रेरित और सुनियोजित साजिश !

न्यूज़ डेस्क झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने  रांची की एक विशेष अदालत में...

कांग्रेस के फर्जी वीडियो के खिलाफ अभिनेता आमिर खान ने कराई शिकायत दर्ज

न्यूज़ डेस्क फिल्म अभिनेता आमिर खान ने कांग्रेस के एक फर्जी वीडियो के खिलाफ शिकायत...