Homeदेशरामनगरी में दीपोत्सव का शुभारंभ आज से 24 लाख दीयों की रोशनी...

रामनगरी में दीपोत्सव का शुभारंभ आज से 24 लाख दीयों की रोशनी से बनेगा नया विश्व रिकॉर्ड

Published on

 

बीरेंद्र कुमार झा

रामनगरी अयोध्या में तीन दिवसीय दीपोत्सव कार्यक्रम का गुरुवार से शुभारंभ हो रहा है।रामलाल के प्राण प्रतिष्ठा समारोह से पहले इस बार के दीपोत्सव को बेहद भव्य तरीके से मनाने की तैयारी की गई है।रामनगरी को दुल्हन की तरह सजाया गया है।इस दौरान देश – विदेश के कलाकार अपनी प्रस्तुति से लोक संस्कृति का प्रदर्शन करते नजर आएंगे। तो राम की पैड़ी 24 लाख दिनों की रोशनी के साथ नया आगे नीचे बुक का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की तैयारी है। इसके लिए टीम अयोध्या पहुंच गई है।अहम बात है की लंका विजय के बाद अयोध्या लौटने पर जिस प्रकार त्रेता युग में श्री राम का भव्य स्वागत हुआ था, उसी तर्ज पर इस बार भी वैसी ही तैयारी की गई है। 11 नवंबर की शाम को भगवान राम पुष्पक विमान रूपी हेलीकॉप्टर से वनवासी की वेशभूषा में माता सीता व लक्ष्मण के साथ राम कथा पार्क पर उतरेंगे। यहां गुरु वशिष्ठ के रूप में सीएम योगी आदित्यनाथ व राज्यपाल आनंदीबेन पटेल उनकी अगवानी करेंगे। इस बीच हेलीकॉप्टर से पूरे अयोध्या में पुष्प वर्षा होगी, जो अपने आप में अद्भुत दृश्य होगा ।दीपोत्सव में 24 राज्यों के करीब 25000 कलाकार अपनी संस्कृति की छटा बिखेरेंगे। गुजरात का गरबा, केरल का कथकली, राजस्थान का कालबेलिया नृत्य आकर्षण का केंद्र होगा ।9 से 11 नवंबर तक भरत कुंड, गुप्तारघाट, बिरला धर्मशाला, रामघाट व राम कथा पार्क में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन होगा।

देश के विभिन्न राज्यों की लोक संस्कृति की दिखेगी झलक

अवध में ब्रज के कलाकार रामकृष्ण की धरती की संस्कृति, भाषा और शैली से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध करेंगे ।कुमार विशु भजन गंगा में लोगों को स्नान करवाएंगे। दीपोत्सव में भारत के कई प्रांतों की भाषा व संस्कृति का भी अद्भुत संगम दिखेगा।एक तरफ जहां अयोध्या की 12 रामलीलाओं के कलाकारों का मंच मिलेगा तो वही दुसरी तरफ सोनभद्र का आदिवासी नृत्य भी अपना अलग छाप छोड़ेगा। आजमगढ़ के मुन्नालाल व उनकी टीम धोबिया नृत्य, मथुरा के राजेश शर्मा और टीम मयूर नृत्य से मन मोहेगी। बुंदेलखंड का राई नृत्य राम हनुमान और राम हनुमान सेवा की झांकी भी आर्कषण बढ़ाएगी। केरल के कथकली नृत्य नृत्य से कुंजीरमन व सिक्किम के सिंधीछम नृत्य संबंधित से शरद चंद्र सिंह परिचित कराएंगे। जम्मू कश्मीर के मनदीप रूफ नृत्य प्रस्तुत करेंगे।छत्तीसगढ़ का गेंडी नृत्य, गुजरात का गरबा, उड़ीसा का दाल खाई ,कर्नाटक का ढोलू कुनीथाऔर राजस्थान के कालबेलिया नृत्य से कलाकार भगवान राम के श्री चरणों में अपनी हाजिरी लगाएंगे।

चार देशों की रामलीला होगी आकर्षण का केंद्र

दीपोत्सव में चार देशों की रामलीला भी आकर्षण का केंद्र होगी। रूस ,श्रीलंका, नेपाल और सिंगापुर के रामलीला कलाकार अवध की धरती पर राम कथा का मंचन करेंगे। विदेशी रामलीला का शुभारंभ राम कथा पार्क में बृहस्पतिवार रात 8:00 बजे से होगा। वही साकेत महाविद्यालय में राम कथा आधारित झांकियां भी सजेगी।जिनका रिहर्सल 10 नवंबर को होगा।

दीपकों की रोशनी का नया रिकार्ड बनाने की तैयारी

प्रदेश सरकार हर साल की तरह इस बार भी अयोध्या के दीपोत्सव को दिव्य और भव्य बनाने की तैयारी कर रही है। इसके लिए काम भी तेज गति से चल रहा है। इस बार भी 21 लाख दिए जलाकर पर्यटन विभाग विश्व रिकार्ड बनाने की तैयारी कर रहा है।इसके लिए दीपों को राम की पैड़ी के घाटों पर पहुंचा दिया गया है ।11 नवंबर को देर शाम दीपों को प्रज्वलित किया जाएगा। दीपों की गणना करने के लिए गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड की टीम अयोध्या पहुंच गई है। अयोध्या में इस बार सातवां दीपोत्सव होने जा रहा है।छह बार यहां का आयोजन विश्व रिकॉर्ड बना चुका है।डॉ राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर प्रतिभा गोयल ने बताया कि दीपोत्सव में नया विश्व रिकार्ड बनाने के लिए आवासीय परिसर,महाविद्यालय इंटर कॉलेज व स्वयंसेवी संस्थाओं के 25000 से अधिक स्वयंसेवक लगाए गए हैं। उनकी मदद से 51 घाटों पर 24 लाख दिए प्रज्वलित किए जाएंगे।

घर बैठे इस तरह करें दीपदान

 

पर्यटन विभाग व अयोध्या जिला प्रशासन ने इस बार एक नया प्रयास भी किया है। पर्यटन विभाग के प्रमुख सचिव मुकेश मेश्राम ने बताया कि विभाग ने होली अयोध्या नाम से एक मोबाइल एप तैयार किया है। इसकी मदद से आम लोग आसानी से घर बैठे अयोध्या के दीपदान में शामिल हो सकेंगे। यह मोबाइल एप प्ले स्टोर, एंड्रॉयड व एप्पल प्लेटफार्म पर उपलब्ध है। इस ऐप को कोई भी व्यक्ति डाउनलोड कर एक या उससे अधिक दिए अपने नाम से बुक कर सकते हैं। दीपोत्सव के बाद पर्यटन विभाग संबंधित व्यक्ति के पत्ते पर यह दिया, प्रसाद व सरयू का जल भी प्रसाद के रूप में भेजेगा। इस ऐप के माध्यम से तय की गई सहायता राशि देकर कोई भी यहां दिए जलवा सकता है। इस ऐप पर आने वाले आवेदन को जिला प्रशासन देखेगा और उसके अनुसार दिया जलवाने की व्यवस्था करेगा। देश ही नहीं विदेशों में रह रहे लोग भी इस ऐप से जुड़कर यहां दीपोत्सव में भाग ले सकते हैं।

दीपोत्सव पर सजेगा रामलला का दरबार

श्री राम मंदिर ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्रा ने बताया कि दीपोत्सव के मौके पर रामलाल का दरबार भी दीप मालाओं से सजाया जाएगा। मंदिर में कुछ स्थान ऐसे हैं ।जहां फिनिशिंग का काम चल रहा है।यहां विशेष प्रकार का दीपक जलाया जाएगा जो तेल का दीपक नहीं होगा।ऐसे दीपक होते हैं जिससे तेल नहीं टपकता है। इसके अलावा निर्माणाधीन और मंदिरों को फूलों से सजाया जाएगा।परकोटे का हिस्सा और जन्म भूमि पथ यानि दर्शन पथ वहां भी साथ सजा होगी ।जहां प्रवेश द्वार है वह भव्य रूप से दर्शनार्थियों के लिए शोभायमान और राम जन्मभूमि पथ भी आकर्षण का केंद्र बनेगा।

 

Latest articles

बांग्लादेश की हालत ख़राब ,अब तक 900 भारतीय लौटे भारत

न्यूज़ डेस्क बांग्लादेश में लगातार हो रही हिंसा के बीच पूरे देश में कर्फ्यू लगा...

जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कांग्रेस और बीजेपी आमने -सामने 

न्यूज़ डेस्क जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच आरोप -प्रत्यारोप शुरू हो...

दुकानदारका नाम अनिवार्य कर अकेले पड़े योगी,विपक्ष के साथ सत्ता पक्ष से भी उठे आवाज

उत्तर प्रदेश में कावड़ मार्ग पर लगने वाले दुकानों में दुकानदारों के नाम वाले...

बांग्लादेश में आरक्षण के विरोध में हिंसा जारी, 105 की मौत, सेना ने संभाली कमान

भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश में आरक्षण के खिलाफ सड़कों पर उतरे विद्यार्थियों और...

More like this

बांग्लादेश की हालत ख़राब ,अब तक 900 भारतीय लौटे भारत

न्यूज़ डेस्क बांग्लादेश में लगातार हो रही हिंसा के बीच पूरे देश में कर्फ्यू लगा...

जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कांग्रेस और बीजेपी आमने -सामने 

न्यूज़ डेस्क जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच आरोप -प्रत्यारोप शुरू हो...

दुकानदारका नाम अनिवार्य कर अकेले पड़े योगी,विपक्ष के साथ सत्ता पक्ष से भी उठे आवाज

उत्तर प्रदेश में कावड़ मार्ग पर लगने वाले दुकानों में दुकानदारों के नाम वाले...