Homeदेशतेज रफ्तार से आगे बढ़ रहा भीषण चक्रवाती तूफान 'मिचौंग', इन राज्यों...

तेज रफ्तार से आगे बढ़ रहा भीषण चक्रवाती तूफान ‘मिचौंग’, इन राज्यों में होगी भारी बारिश, PM मोदी ने लिया हालात का जायजा

Published on

न्यूज डेस्क
बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना दबाव का क्षेत्र चक्रवाती तूफान मिचौंग में तब्दील हो गया है। यह सोमवार को उत्तरी तमिलनाडु तट पर पहुंच सकता है। मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक तूफान पुडुचेरी से लगभग 250 किमी पूर्व-दक्षिणपूर्व, चेन्नई से 230 किमी पूर्व-दक्षिणपूर्व, नेल्लोर से 350 किमी दक्षिणपूर्व में केंद्रित है।

ओडिशा में भारी बारिश की आशंका

मौसम विज्ञान के मुताबिक, इस च्रक्रवाती तूफान के कारण दक्षिणी ओडिशा के अधिकतर हिस्सों और राज्य के तटीय क्षेत्र में भारी बारिश की संभावना है। दबाव क्षेत्र के कारण बनी प्रणाली रविवार सुबह पांच किमी प्रति घंटे की गति से उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ी और एक चक्रवाती तूफान में बदल गई। यह रविवार सुबह साढ़े पांच बजे पुडुचेरी से लगभग 300 किमी पूर्व-दक्षिणपूर्व, चेन्नै से 310 किमी दक्षिणपूर्व, नेल्लोर से 440 किमी दक्षिणपूर्व, बापटला से 550 किमी दक्षिण-दक्षिणपूर्व और मछलीपट्टनम से 550 किमी दक्षिणपूर्व में केंद्रित थी। इसके उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ते हुए और तेज होने और सोमवार की दोपहर तक दक्षिणी आंध्र प्रदेश और उत्तरी तमिलनाडु तटों के पास पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी में पहुंचने की संभावना है।

रेलवे ने रद्द की 114 ट्रेनें

चक्रवाती तूफान मिचौंग के करीब आते ही सरकार ने सोमवार को चेन्नई, तिरुवल्लूर, कांचीपुरम और चेंगलपट्टू जिलों में सार्वजनिक अवकाश घोषित कर दिया है। दूध आपूर्ति और स्वास्थ्य सुविधाएं जैसी आवश्यक सेवाएं चालू रहेंगी। रेलवे ने कुल 118 रेलगाड़ियों को रद्द कर दिया है। आम जनता और मछुआरों को चक्रवाती तूफान के बारे में सतर्क कर दिया गया है और 1,000 से अधिक नौकाएं कृष्णमपट्टिनम सहित मछली पकड़ने वाले बंदरगाहों पर खड़ी हैं।

आपदा प्रबंधन 24 घंटे कर रहा काम

मिचौंग से निपटने के लिए तमिलनाडु आपदा मोचन बल की 350 सदस्यों की 14 टीम और राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ)की 225 कर्मियों की नौ टीम राहत और बचाव कार्यों के लिए मयिलादुथुराई, नागप्पट्टिनम, तिरुवल्लूर, कडलूर, विल्लुपुरम, कांचीपुरम, चेंगलपेट और चेन्नई के तटीय क्षेत्रों में तैनात की गई हैं। तमिलनाडु और जिला-स्तरीय आपातकालीन संचालन केंद्र अतिरिक्त कर्मचारियों के साथ चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं।

पीएम मोदी ने लिया हालात का जायजा

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मिचौंग से निपटने की तैयारियों का जायजा लेने के लिए रविवार को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी से बात कर उन्हें हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने संबंधित जिलों के कलेक्टरों को निर्देश दिया कि वे लोगों की सुरक्षा के लिए हर संभव कदम उठाएं। उन्होंने अधिकारियों से उन्हें नियमित आधार पर अपडेट करने को कहा और सोमवार सुबह एक और समीक्षा बैठक करेंगे।

Latest articles

आखिर सुप्रीम कोर्ट ने  बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि पर क्यों जारी किया नोटिस ?

न्यूज़ डेस्क सुप्रीम कोर्ट ने बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि पर नोटिस जारी किया है।...

हिमाचल की सुख्खू सरकार संकट में ,विधायकों ने किया क्रॉस वोटिंग !

न्यूज़ डेस्क क्या हिमचाल की कांग्रेस सरकार में सबकुछ ठीक नहीं है ? राज्यसभा की...

राज्यसभा चुनाव : अखिलेश यादव ने क्यों कहा कि दूसरों के लिए गढ़े खोदने वाले उसी में गिरते हैं 

न्यूज़ डेस्क उत्तर प्रदेश में 10 राज्यसभा सीटों पर हो रहे चुनाव में मतदान के...

क्या छत्तीसगढ़ के कांकेर में  फर्जी मुठभेड़ में मारे गए तीन कथित नक्सली ?

न्यूज़ डेस्क छत्तीसगढ़ के कांकेर में पुलिस मुठभेड़ में मारे गए तीन लोगों की मौत...

More like this

आखिर सुप्रीम कोर्ट ने  बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि पर क्यों जारी किया नोटिस ?

न्यूज़ डेस्क सुप्रीम कोर्ट ने बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि पर नोटिस जारी किया है।...

हिमाचल की सुख्खू सरकार संकट में ,विधायकों ने किया क्रॉस वोटिंग !

न्यूज़ डेस्क क्या हिमचाल की कांग्रेस सरकार में सबकुछ ठीक नहीं है ? राज्यसभा की...

राज्यसभा चुनाव : अखिलेश यादव ने क्यों कहा कि दूसरों के लिए गढ़े खोदने वाले उसी में गिरते हैं 

न्यूज़ डेस्क उत्तर प्रदेश में 10 राज्यसभा सीटों पर हो रहे चुनाव में मतदान के...