Homeदेशकांग्रेस  प्रवक्ता गौरव वल्लभ पंत ने दिया प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा ,उठाये...

कांग्रेस  प्रवक्ता गौरव वल्लभ पंत ने दिया प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा ,उठाये कई गंभीर सवाल !

Published on

न्यूज़ डेस्क
कांग्रेस को आज उस समय बड़ा झटका लगा है जब पार्टी के वरिष्ठ नेता कर प्रवक्ता गौरव बल्लभ पंत ने पार्टी की प्राथमिक सदस्य्ता से सिटीफा देते हुए पार्टी के ऊपर कई सवाल खड़े किये। हालांकि पंत अभी क्या करेंगे और किस पार्टी से जुड़ेंगे यह अभी तक पता नहीं है लेकिन राम मंदिर मुद्दे पर कांग्रेस के स्टैंड से वे काफी खफा हैं।    

 इस्तीफे की जानकारी शेयर करते हुए प्रो. गौरव वल्लभ ने अपनी ‘एक्स’ पोस्ट में लिखा, ‘कांग्रेस पार्टी आज जिस प्रकार से दिशाहीन होकर आगे बढ़ रही है, उसमें मैं ख़ुद को सहज महसूस नहीं कर पा रहा। मैं ना तो सनातन विरोधी नारे लगा सकता हूं और ना ही सुबह-शाम देश के वेल्थ क्रिएटर्स को गाली दे सकता हूं। इसलिए मैं कांग्रेस पार्टी के सभी पदों व प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे रहा हूं।’

प्रो. गौरव वल्लभ ने अपने इस्तीफे में लिखा, ‘भावुक हूं और मन व्यथित है। काफी कुछ कहना चाहता हूं, लिखना चाहता हूं और बताना चाहता हूं। लेकिन मेरे संस्कार ऐसा कुछ भी कहने से मना करते हैं। फिर भी मैं आज अपनी बातों को आपके समक्ष रख रहा हूं, क्योंकि मुझे लगता है कि सच को छुपाना भी अपराध है। ऐसे में मैं अपराध का भागी नहीं बनना चाहता।’

उन्होंने कहा, ‘जब मैंने कांग्रेस पार्टी ज्वाइन की थी, तब मेरा मानना था कि कांग्रेस देश की सबसे पुरानी पार्टी है। यहां पर युवा और बौद्धिक लोगों के आइडिया की क़द्र होती है। लेकिन पिछले कुछ वर्षों में मुझे यह महसूस हुआ कि पार्टी का मौजूदा स्वरूप नए आइडिया वाले युवाओं के साथ खुद को एडजस्ट नहीं कर पाती।’

गौरव वल्लभ ने कहा, ‘अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर कांग्रेस के रुख से मैं क्षुब्ध हूं। मैं जन्म से हिंदू और कर्म से शिक्षक हूं, पार्टी के इस स्टैंड ने मुझे हमेशा असहज किया। पार्टी और गठबंधन से जुड़े कई लोग सनातन के विरोध में बोलते हैं। इन दिनों पार्टी गलत दिशा में आगे बढ़ रही है। एक ओर हम जाति आधारित जनगणना की बात करते हैं तो वहीं दूसरी ओर संपूर्ण हिंदू समाज के विरोधी नजर आ रहे हैं।’           

वल्लभ ने अपने इस्तीफे के बारे में सार्वजनिक जानकारी आज सुबह सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर शेयर की। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को लिखे पत्र को साझा करते हुए इस्तीफे के कारणों का भी खुलासा किया।

गौरतलब है कि प्रो. गौरव वल्लभ अपने अब तक के राजनीतिक करियर के दौरान कांग्रेस पार्टी के कई महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके हैं। लंबे समय तक उन्होंने बतौर राष्ट्रीय प्रवक्ता का ज़िम्मा संभालते हुए मीडिया के तमाम मंचों में कांग्रेस का पक्ष रखा और विरोधियों पर हमलावर रहे।

प्रो. गौरव वल्लभ राजस्थान की राजनीति में भी खासा चर्चा में रहे। दरअसल, कांग्रेस ने उन्हें वर्ष 2023 के विधानसभा चुनाव के दौरान उदयपुर विधानसभा सीट पर टिकट थमाकर प्रत्याशी बनाया था। हालांकि वे पार्टी की उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे और चुनाव हारकर दूसरे नंबर पर रहे। वल्लभ को निकटतम प्रत्याशी भाजपा के ताराचंद जैन ने 32 हज़ार 771 वोटों से शिकस्त दी थी।


Latest articles

रामलला का दर्शन कर निहाल हुए 30 देशों के रामभक्त

न्यूज़ डेस्क  अयोध्या में राम लला का दर्शन कर आज दुनिया के 30 देशों के लोग...

कांग्रेस आपके मंगल सूत्र को भी नहीं छोड़ेंगे,अलीगढ़ में गरजे पीएम मोदी

प्रथम चरण के मतदान की समाप्ति के बाद अब द्वितीय चरण के मतदान के...

ममता का दावा : देश भर से बीजेपी खेमे का सफाया होने वाला है !

न्यूज़ डेस्क यह तो कोई नहीं जानता कि चार जून को किसकी जीत होगी और...

अरविंद केजरीवाल के लिए राहत मांगने वाले शख्स पर हाईकोर्ट ने लगा दिया 75000 का जुर्माना

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का ईडी के द्वारा गिरफ्तार होना और फिर ईडी...

More like this

रामलला का दर्शन कर निहाल हुए 30 देशों के रामभक्त

न्यूज़ डेस्क  अयोध्या में राम लला का दर्शन कर आज दुनिया के 30 देशों के लोग...

कांग्रेस आपके मंगल सूत्र को भी नहीं छोड़ेंगे,अलीगढ़ में गरजे पीएम मोदी

प्रथम चरण के मतदान की समाप्ति के बाद अब द्वितीय चरण के मतदान के...

ममता का दावा : देश भर से बीजेपी खेमे का सफाया होने वाला है !

न्यूज़ डेस्क यह तो कोई नहीं जानता कि चार जून को किसकी जीत होगी और...