Homeदेशराजनीति का चरित्र : टीएमसी ने टिकट नहीं दिया तो झटसे पीएम मोदी...

राजनीति का चरित्र : टीएमसी ने टिकट नहीं दिया तो झटसे पीएम मोदी की तस्वीर को चस्पा कर दिया !

Published on

न्यूज़ डेस्क 
चरित्रहीन राजनीति का सच यही है कि इसका आज कोई विचारधारा नहीं है। जहाँ लाभ दिखे उसी के साथ हो लिए। जहां लाभ नहीं उसके खिलाफ बोलने में कोई हर्ज नहीं। यह कोई एक दल के नेता की कहानी नहीं है। हर दल में ऐसे नेताओं की भरमार हैं जो राजनीति को समय के मुताबिक भुनाते हैं और खुद को उसमे फ़ीट भी कर लेते हैं। लोक लज्जा की बात कैसी ?            

पश्चिम बंगाल में आगामी संसदीय चुनाव के लिए तृणमूल कांग्रेस द्वारा टिकट नहीं दिए जाने पर उत्तर 24 परगना जिले के बैरकपुर से लोकसभा सदस्य अर्जुन सिंह ने  अपने दफ्तर से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी की तस्वीरें हटा दीं।

साल 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले तृणमूल छोड़ने के बाद सिंह ने भाजपा के टिकट पर बैरकपुर से सफलतापूर्वक चुनाव लड़ा था। हालांकि, 2022 में उन्होंने राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी में वापसी की।

अब भाजपा में लौटने का इरादा स्पष्ट करते हुए सिंह ने ममता बनर्जी और अभिषेक बनर्जी की तस्वीरों के स्थान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हस्ताक्षर वाली तस्वीरें लगा दी हैं।सिंह ने दावा किया कि यह तस्वीर उन्हें खुद प्रधानमंत्री ने उपहार में दी थी।सिंह ने यह भी कहा कि बैरकपुर से उन्हें नामांकित न करके तृणमूल नेतृत्व ने यह स्पष्ट कर दिया है कि वह अब पार्टी में नहीं हैं।

उन्होंने कहा, ”मेरी (पार्टी से) कोई विशेष मांग नहीं थी। मैंने फिर से तृणमूल में शामिल होकर अनावश्यक रूप से 18 महीने बर्बाद कर दिए।”

सिंह के बेटे पवन सिंह भाटपारा से भाजपा विधायक हैं, जो बैरकपुर लोकसभा क्षेत्र के तहत सात सीटों में से एक है।राज्य के सिंचाई मंत्री पार्थ भौमिक, जिन्हें इस बार तृणमूल ने बैरकपुर से मैदान में उतारा है, ने कहा कि अगर सिंह बार-बार अपनी राजनीतिक संबद्धता बदलते रहेंगे तो बैरकपुर के लोगों के बीच उनकी विश्‍वसनीयता खत्म हो जाएगी।

हालांकि, राज्य भाजपा के नेता यह नहीं जानते कि सिंह को पार्टी में दोबारा प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी या नहीं।पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने कहा, ”इस संबंध में कोई भी निर्णय दिल्ली में पार्टी आलाकमान लेगी।”

Latest articles

दूसरे चरण में महाराष्ट्र की आठ सीटों पर होंगे चुनाव ,शिंदे और शरद पवार की प्रतिष्ठा दाव पर 

न्यूज़ डेस्क वैसे तो देश की सभी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हर उम्मीदवार की...

चार वर्षीय डिग्री लेने वाले छात्र अब सीधे पीएचडी और नेट की परीक्षा में बैठ सकते हैं 

न्यूज़ डेस्क यूजीसी ने शिक्षा में बड़ा बदलाव करते हुए चार साल की स्नातक डिग्री...

चुनाव के दौरान बयानों गरमाई सियासत ,पीएम मोदी पर खड़गे हुए हमलावर !

न्यूज़ डेस्क चुनाव के दौरान बयानों की राजनीति कब सुर्खियां बन जाए यह कोई नहीं...

बिल गेट्स वित्तपोषक, लेखक, संपादक, सलाहकार के रूप में? डेटा साम्राज्यवाद: मेट्रिक्स में हेरफेर

महामारी विज्ञान में पोस्टडॉक्टरल, जो भारतीय सशस्त्र बलों में दो दशकों से अधिक समय...

More like this

दूसरे चरण में महाराष्ट्र की आठ सीटों पर होंगे चुनाव ,शिंदे और शरद पवार की प्रतिष्ठा दाव पर 

न्यूज़ डेस्क वैसे तो देश की सभी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हर उम्मीदवार की...

चार वर्षीय डिग्री लेने वाले छात्र अब सीधे पीएचडी और नेट की परीक्षा में बैठ सकते हैं 

न्यूज़ डेस्क यूजीसी ने शिक्षा में बड़ा बदलाव करते हुए चार साल की स्नातक डिग्री...

चुनाव के दौरान बयानों गरमाई सियासत ,पीएम मोदी पर खड़गे हुए हमलावर !

न्यूज़ डेस्क चुनाव के दौरान बयानों की राजनीति कब सुर्खियां बन जाए यह कोई नहीं...