Homeदेशजम्मू कश्मीर में कथित बीमा घोटाला पर सत्यपाल मलिक से सीबीआई करेगी...

जम्मू कश्मीर में कथित बीमा घोटाला पर सत्यपाल मलिक से सीबीआई करेगी पूछताछ ,विपक्ष ने मोदी सरकार पर किया हमला

Published on

अखिलेश अखिल
जम्मू कश्मीर में कथित बीमा घोटाला के बारे में सीबीआई पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक से पूछताछ करेगी । मलिक ने पिछले दिनों कहा था कि उनके पास दो फाइल भेजी गई है थी । कहा गया था कि इन फाइलों को आप पास करेंगे तो 300 करोड़ मिल सकते हैं । मलिक का यह बयान कोई नया नही है । वे पहले से ही इस बात की चर्चा करते रहे हैं । लेकिन पिछले दिनों वायर को दिए इंटरव्यू में विस्तार से इस बात का खुलासा किया था । इस बातचीत में उन्होंने संघ नेता राममधव का भी जिक्र किया था।

मलिक से सीबीआई की पूछताछ को लेकर अब विपक्षी दल मोदी मोदी सरकार पर हमला कर रहा है । कई विपक्षी दल ने सरकार को घेरने के बयान दिए हैं । सत्यपाल मलिक को समन किए जाने के बाद कांग्रेस ने कहा कि जब पूर्व राज्यपाल ने मोदी सरकार की ‘सत्तालोभी पोल’ खोली थी, तभी यह तय हो गया था। कांग्रेस ने ट्वीट किया, आखिरकार पीएम मोदी से रहा नहीं गया। सत्यपाल मलिक ने देश के सामने उनकी कलई खोल दी। अब सीबीआई ने मलिक को बुलाया है। यह तो होना ही था।

वहीं दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने कहा, “पूरा देश आपके साथ है। ख़ौफ़ के इस दौर में आपने बहुत साहस दिखाया है, सर। वो कायर है, सीबीआई के पीछे छिपा है। जब जब इस महान देश पर संकट आया, आप जैसे लोगों ने अपने साहस से उसका मुकाबला किया। वो… आपका मुकाबला नहीं कर सकता। आप आगे बढ़ो सर..प्राउड ऑफ यू । ”

सत्यपाल मलिक को उस मामले में पूछताछ होगी जिसमें उन्होंने दावा किया था कि जम्मू कश्मीर में राज्यपाल रहते वक्त उनके पास दो फाइलें आईं थी जिन्हें पास करने के लिए 300 करोड़ की रिश्वत देने की पेशकश की गई थी। मलिक कहा कि रिश्वत की पेशकश करने वालों ने कहा कि इसमें से एक फाइल अंबानी की और दूसरी आरएसएस से जुड़े व्यक्ति की थी।

बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले पर किए गए खुलासे को लेकर भी पूर्व राज्यपाल चर्चा में हैं। उन्होंने एक साक्षात्कार में कहा था कि साल 2019 में कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों के काफिले पर हुआ आतंकी हमला, जिसमें 40 जवान शहीद हुए थे, सरकारी गलती के चलते हुआ था और जब उन्होंने इसके बारे में प्रधानमंत्री और एनएसए अजीत डोभाल को बताया तब उन लोगों ने उन्हें (मलिक को) चुप रहने को कहा।

Latest articles

ईवीएम वीवीपीएटी वोट वेरिफिकेशन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर फैसला रखा सुरक्षित

कुछ प्रश्नों पर चुनाव आयोग के अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने के बाद, सुप्रीम कोर्ट...

हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी और ईडी की कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष अदालत में दाखिल की एसएलपी

न्यूज़ डेस्क अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने सुप्रीम...

पीएम मोदी का वज्र प्रहार,कांग्रेस का पंजा आपसे आरक्षण और मेहनत की कमाई छीन लेगा

देश में प्रथम चरण के मतदान के बाद इंडिया गंठबंधन के नेताओं खासकर कांग्रेस...

बिहार के गोपालगंज में मतदान का बहिष्कार सुनकर हरकत में आया निर्वाचन विभाग !

न्यूज़ डेस्कबिहार के गोपालगंज के लोग अब मतदान का बहिष्कार करने की तैयारी में...

More like this

ईवीएम वीवीपीएटी वोट वेरिफिकेशन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर फैसला रखा सुरक्षित

कुछ प्रश्नों पर चुनाव आयोग के अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने के बाद, सुप्रीम कोर्ट...

हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी और ईडी की कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष अदालत में दाखिल की एसएलपी

न्यूज़ डेस्क अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने सुप्रीम...

पीएम मोदी का वज्र प्रहार,कांग्रेस का पंजा आपसे आरक्षण और मेहनत की कमाई छीन लेगा

देश में प्रथम चरण के मतदान के बाद इंडिया गंठबंधन के नेताओं खासकर कांग्रेस...